बेइंतहा प्यार से परेशान पत्नी ने कोर्ट से मांगा तलाक, कहा- तरस गई हूं झगडने को

यूएई की एक महिला ने कोर्ट में अर्जी लगाते हुए कहा कि उसका पति उससे बहुत ज्यादा प्यार करता है, जिससे अब वह ऊब गई है और तलाक (Divorce) लेना चाहती है.पति के बेइंतहा प्यार से परेशान पत्नी ने कोर्ट से मांगा तलाक, कहा- वह झगड़ता ही नहीं पति के प्यार से परेशान पत्नी ने मांगा तलाक.
पति-पत्नी के बीच तलाक (Divorce) का सबसे बड़ा कारण है, दोनों के बीच हर दिन होने वाला झगड़ा. रोज-रोज की लड़ाई (Fight) से तंग आकर पति-पत्नी अगल होने का फैसला कर लेते हैं और मामला कोर्ट (Court) तक पहुंच जाता है. लेकिन सोचिए कोई पत्नी कोर्ट में तलाक की अर्जी इस बात को लेकर लगाए कि उसका पति उससे लड़ता ही नहीं है तो आप क्या कहेंगे. यूएई (UAE) की एक महिला ने कोर्ट में ऐसी ही अर्जी लगाई है. महिला का कहना है कि उसका पति उससे बहुत ज्यादा प्यार करता है, जिससे अब वह ऊब गई है और तलाक लेना चाहती है. महिला ने फुजैरा की शरिया कोर्ट (Sharia Court) में खुला (महिलाओं द्वारा लिया जाने वाला तलाक) की अर्जी लगाई है. दोनों की शादी को केवल एक साल ही हुए हैं.
खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, महिला अपने पति के ज्यादा प्यार को बर्दाश्त नहीं कर पा रही है इसलिए उसने तलाक का फैसला किया है. उसने कोर्ट से कहा, वह मुझ पर कभी चिल्लाता नहीं है और ना ही उसने मुझे कभी उदास होने दिया. कोर्ट में खुला की अर्जी लगाते हुए महिला ने बताया कि उसका पति उसके ऊपर कभी चिल्लाता नहीं है और न ही उसने कभी ऐसा मौका दिया है, जिससे वह उदास हो. महिला ने बताया, मैं पति के इतने ज्यादा प्यार से परेशान हो गई हूं. महिला ने बताया कि घर की सफाई में वह मेरी मदद करता है और खाना भी मेरे साथ ही बनाता है. एक साल की शादी में हमारा एक बार भी झगड़ा नहीं हुआ.
कोर्ट में अर्जी लगाते हुए महिला ने बताया है कि उसका पति उसके ऊपर कभी चिल्लाता नहीं है.


महिला ने कोर्ट को बताया कि पति उसके प्रति इतना उदार रहा इससे उसकी जिंदगी नरक बन गई है. महिला ने कहा, वह काफी समय से लड़ने के लिए तड़प रही है, लेकिन उसका रोमांटिक पति उसे लड़ने का कोई मौका नहीं देता है. मैं लड़ने के लिए कई बार गलत तरीका भी अपनाती हूं लेकिन वह हर बार मुझे माफ कर देता और मुझे जरूरत से ज्यादा तोहफे देता है. मैं उसके साथ किसी भी बात पर बहस करना चाहती हूं ताकि मुझे लगे कि मैं शादीशुदा जिंदगी बिता रही हूं. महिला ने कोर्ट को बताया कि पति इतना उदार है कि उसकी जिंदगी नरक बन गई है.महिला ने आगे कहा, मैं एक लड़ाई के लिए तड़प रही हूं लेकिन मेरे रोमांटिक पति के साथ यह लगभग असंभव हो गया है क्योंकि वह हमेशा मुझे माफ कर देता है और मेरे ऊपर तोहफों की बरसात कर देता है. मैं उसके साथ असलियत में बहस करना चाहती हूं, मुझे ये बिना किसी मुश्किल की जिंदगी नहीं चाहिए जिसमें मेरा पति मेरी हर आज्ञा का पालन करता हो.
वहीं कोर्ट में पति ने कहा कि उसने कुछ गलत नहीं किया है बल्कि वह एक परफेक्ट और आदर्श पति बनने की कोशिश कर रहा है. पति ने कोर्ट से पत्नी की अर्जी खारिज करने की अपील की है. पति ने कहा कि एक साल में किसी शादी पर फैसला सुनाना सही नहीं है, हर कोई अपनी गलतियों से सीखता है.पति कोर्ट को यह तक आश्वासन देने को तैयार हो गया है कि वह अपने प्रेमपूर्ण व्यवहार को लेकर ही अपनी प्यारी पत्नी से उसका स्वाद बदलने को ,उसकी इच्छानुसार बिना मुस्कराये हल्का फुल्का तर्क वितर्क करने को तैयार है ताकि झगडने न देने की उसकी शिकायत दूर हो जाये ! कोर्ट ने पति-पत्नी को अतिशय प्यार को लेकर आपसी मतभेद सुलझाने के लिए एक कोशिश करने को कहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *