कश्मीर समेत देश भर में ईद-उल-अजहा की धूम,शांति, मस्जिदों में पढ़ी गई नमाज

देश भर में ईद-उल-अजहा की धूम, लोगों ने की अमन के लिए दुआएं,पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ ईद-उल-अजहा (बकरीद) मनाई जा रही है. इस पाक मौके पर कश्मीर से कन्याकुमारी तक देश के सभी मस्जिदों और ईदगाहों में नमाज अदा की जा रही है.

मध्य प्रदेश में नमाज अदा करते लोग (तस्वीर-ANI)मध्य प्रदेश में नमाज अदा करते लोग

नई दिल्ली, 12 अगस्त ! पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ ईद-उल-अजहा (बकरीद) मनाई जा रही है. कश्मीर से कन्याकुमारी तक देश के सभी मस्जिदों और ईदगाहों में नमाज अदा की जा रही है. इस मौके पर जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा के मद्देनजर कड़े इंतजाम किए गए हैं. लोगों को कई परेशानी न हो इसके लिए प्रशासन ने खास इंतजाम किए हैं. ईद के मौके पर वहां भी खुशी और जश्न का महौल देखा जा रहा है. स्थानीय मस्जिदों में लोगों ने ईद-उल-अजहा की नमाज अदा की.कश्मीर में ईद-उल-अजहा को देखते सरकार ने कई अहम कदम उठाए हैं. स्थानीय प्रशासन की ओर से घरों पर एलपीजी और सब्जियां भेजी जा रही हैं. छुट्टी के दिन घाटी में बैंक और करीब 3,557 राशन की दुकानें खुली रहेंगी.जम्मू-कश्मीर में ईद के मौके पर लोग नमाज अदा करते नजर आए. श्रीनगर के मोहल्ला मस्जिद में लोगों ने नमाज अदा की. इस दौरान पुलिसकर्मियों ने मिठाइयां भी बांटी.

srinagar_081219100058.jpgश्रीनगर में नमाज अदा करते लोग

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने दिल्ली की कश्मीरी गेट स्थित पुंजा शरीफ दरगाह पर ईद-उल-अजहा (बकरीद)  की नमाज अदा की.

mukhtar-abbas-naqvi_081219074954.jpgनमाज अदा करते केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (सोर्स-ANI)

मध्य प्रदेश में भी लोगों ने ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नमाज ईदगाह मस्जिद में अदा की.

5_081219075138.jpgमध्य प्रदेश में नमाज आदा करते बच्चे (फोटो- ANI)

दिल्ली में जामा मस्जिद के सामने भी लोगों ने ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नामाज अदा की. इस दौरान जामा मस्जिद के आस पास हजारों लोग मौजूद रहे.

jama-masjid_081219075329.jpgजामा मस्जिद पर नमाज अदा करते लोग (फोटो- ANI)

महाराष्ट्र में हमिदिया मस्जिद के सामने ईद-उल-अजहा (बकरीद) की  लोगों ने नमाज आदा की. इस पाक मौके पर बच्चे बूढ़े और बड़े सभी शामिल रहे.

2_081219075521.jpgहमिदिया मस्जिद में नमाज अदा करते लोग (फोटो-ANI)

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भी नमाज के दौरान कड़ी सुरक्षा रही. शाह जमाल ईदगाह में लोगों ने नमाज अदा की. इस दौरान ड्रोन के जरिए लोगों पर निगरानी रखी जा रही है.

aligarh_081219081451.jpgअलीगढ़ में नमाज अदा करते लोग (फोटो-ANI)

ईद और स्वतंत्रता दिवस के मद्देनज़र बढ़ाई गई सुरक्षा

अनुच्छेद 370 में किए गए हालिया बदलाव के बाद से ही जम्मू और कश्मीर में धारा 144 लागू है. मोबाइल फोन-इंटरनेट की सुविधा बंद है. इस बीच ईद से पहले लोगों को छूट दी गई है, बाजार में भी हलचल दिखी थी और लोग खरीदारी के लिए बाहर निकले थे. प्रशासन की तरफ से सुरक्षा बढ़ाई गई है, ताकि किसी तरह की स्थिति से निपटा जा सके.

आम लोगों को त्योहार के दिनों में किसी तरह की दुविधा ना हो, इसलिए छुट्टी में भी बैंक खुले रखने का आदेश दिया गया है. साथ ही साथ 3500 से अधिक राशन की दुकानें भी खुली रहेंगी. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल अभी भी घाटी में ही हैं और हर तरह से नज़र बनाए हुए है.

  •  देशभर में आज ईद-उल-अजहा  मनाई जा रही है। इस मौके पर जम्मू कश्मीर पर खास नजर है। अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीर में पहला त्योहार मनाया जा रहा है। घाटी में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के घुसने की भी सूचना है। इसलिए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी है। कश्मीर में ईद कैसे मनाई जा रही है, इससे जुड़ा हर अपडेट यहां…

हाइलाइट्स

  • गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया, ‘अनंतनाग, बारामूला, बड़गाम, बांदीपोरा की सभी स्थानीय मस्जिदों में बिना किसी अप्रिय घटना के शांतिपूर्वक नमाज अता की गई। जामिया मस्जिद, ओल्ड टाउन बारामूला में लगभग 10,000 लोगों ने नमाज अता की।’
  • घाटी में शांतिपूर्ण तरीके से मनाया जा रहा है ईद-उल-अजहा  का त्योहार। सुरक्षा के बाबत चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात हैं।
  • बहुत सोच-विचारकर कश्मीर नीति पर फैसला लिया गया, इस पर आगे काम करेंगे : पीएम नरेंद्र मोदी
  • सावधान! कश्मीर को लेकर बढ़ रहा है अफवाहों का बाजार, शेयर करने से पहले फैक्ट चेक जरूरी
  • जम्मू-कश्मीर में जैश के आतंकियों ने की घुसपैठ, ईद पर बड़े हमले की कर रहे हैं प्लानिंग
  • मस्जिदों में ईद की नमाज के लिए इजाजत दी गई है, लेकिन घाटी की बड़ी मस्जिदों में ज्यादा संख्या में लोगों को एकत्र होने की इजाजत नहीं है।
  • अनुच्छेद 370 हटने के बाद से कश्मीर के माहौल पर खास नजर है। ईद-उल-अजहा  के मौके पर भी वहां चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात हैं।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया, ‘अनंतनाग, बारामूला, बड़गाम, बांदीपोरा की सभी स्थानीय मस्जिदों में बिना किसी अप्रिय घटना के शांतिपूर्वक नमाज अता की गई। जामिया मस्जिद, ओल्ड टाउन बारामूला में लगभग 10,000 लोगों ने नमाज अता की।’

ईद-उल-अजहा  जम्मू-कश्मीर में अमन-चैन के साथ मनाई जा रही है। अभी तक कहीं से किसी प्रकार की घटना की कोई खबर नहीं है। घाटी में नमाज के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने लोगों को मिठाई खिलाई और उन्हें बकरीद की मुबारकबाद दी।

 कश्मीर में ईद-उल-अजहा  की नमाज अता करने के बाद मस्जिद से बाहर निकलते स्थानीय लोग। आपको बता दें कि अनुच्छेद-370 हटने के बाद घाटी में पहला त्योहार मनाया जा रहा है।

Embedded video
 पुलिस की निगरानी में लोगों ने ईद-उल-अजहा की नमाज अता की।

Mon, 12 Aug 2019 10:03:24 (IST)

घाटी में अलग-अलग मस्जिदों में ईद-उल-अजहा  की नमाज अता करते लोग।

श्रीनगर में भी ईद-उल-अजहा  के मौके पर नमाज अता कर बाहर निकलते लोगों ने पुलिसवालों से भी गले मिलकर ईद की बधाई दी। बता दें कि एहतियातन घाटी में ज्यादा लोगों को एक साथ इकट्ठा होने की इजाजत नहीं है।

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter

 घाटी में शांतिपूर्ण तरीके से मनाया जा रहा है ईद-उल-अजहा का त्योहार। सुरक्षा के बाबत चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात हैं।

जम्मू-कश्मीर में धूमधाम से मनाया जा रहा है बकरीद का त्योहार।
Embedded video
 घाटी के विभिन्न मस्जिदों में ईद-उल-अजहा के मौके पर स्थानीय लोग नमाज अता करते हुए।
View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
 
आर्टिकल 370 पर सरकार के फैसले को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए मील का पत्थर बताया है। पीएम मोदी ने हमारे सहयोगी अखबार इकनॉमिक टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि हमने बहुत सोच-विचारकर आर्टिकल 370 पर फैसला लिया है। पीएम ने कहा कि प्रदेश अब देश के दूसरे हिस्सों की ही तरह विकास की रफ्तार पकड़ सकेगा। प्रदेश में निवेश और रोजगार के नए अवसर मिलेंगे और स्थानीय लोगों की तरक्की होगी।

कश्मीर को लेकर सोशल मीडिया पर अफवाहों का बाजार गर्म है। घाटी में शुक्रवार को सुरक्षा पाबंदियों में थोड़ी ढील मिलने के बीच जुमे का नमाज पढ़ा गया। उसके बाद तो झूठी खबरों की बाढ़ सी आ गई। वीकेंड में ट्विटर पर #Kashmirwantsfreedom #Savekashmirfrommodi #Kashmirbanegapakistan, #UnsubscribeIndiansyoutubers और #BBCNews ट्रेंड कर रहे थे। शनिवार को गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट कर न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की एक खबर को बिल्कुल ‘मनगढ़ंत’ और ‘गलत’ बताया। रॉयटर्स ने खबर दी थी कि श्रीनगर में 10 हजार लोगों ने प्रदर्शन किया। गृह मंत्रालय ने बताया कि श्रीनगर/बारामूला में छोटे-छोटे प्रदर्शन हुए, जिनमें 20 से ज्यादा लोग नहीं थे।

ईद-उल-अजहा के मौके पर जम्मू में नमाज अता करते लोग।

View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
 आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के एक 7 सदस्यीय आत्मघाती दस्ते ने जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की है। खुफिया सूत्रों ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि घुसपैठ करने वाले आतंकी ईद या स्वतंत्रता दिवस से पहले बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में हैं। सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने इस प्रतिबंधित दहशतगर्द तंजीम जैश-ए-मोहम्मद को भारत में आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए हरी झंडी दे दी है। जैश-ए-मोहम्मद का सरगना अंतरराष्ट्रीय तौर पर आतंकी घोषित किया जा चुका मसूद अजहर है। सूत्रों के मुताबिक, ISI ने जैश-ए-मोहम्मद से कहा है कि वह भारत में ऐसे हमलों को अंजाम दे, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग मारे जाएं।
शासन ने सोमवार को अलग-अलग इलाकों की स्थानीय मस्जिदों में ईद की नमाज के लिए इजाजत तो दे दी है लेकिन घाटी की बड़ी मस्जिदों में ज्यादा संख्या में लोगों को इजाजत नहीं है। प्रशासन को शक है कि आसमाजिक तत्व बड़ी भीड़ का फायदा उठाने की कोशिश कर सकते हैं। गौरतलब है कि आर्टिकल 370 के ज्यादातर प्रावधानों को संसद द्वारा निरस्त किए जाने के बाद बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती, प्रतिबंधों और संचार संपर्क सीमित किए जाने के कारण कश्मीर घाटी में त्योहार की चहल-पहल नजर नहीं आ रही है।
कश्मीर में ईद-उल-अजहा से पहले रविवार को बैंक, एटीएम और कुछ बाजार खुले रहे। कई प्रतिबंधों में ढील भी दी गई ताकि लोगों को त्योहार से जुड़ी खरीदारी करने में आसानी हो। प्रशासन लोगों के लिए खाने-पीने के सामान के अलावा दूसरी जरूरी चीजों को उपलब्ध कराने और सोमवार को मस्जिदों में नमाज के लिए पूरी व्यवस्था करने में जुटा है। हालांकि, श्रीनगर में कुछ जगहों पर पथराव की खबरें आई हैं, जिससे ढील के बाद और ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत हो गई है।मस्जिदों में ईद की नमाज के लिए इजाजत दी गई है, लेकिन घाटी की बड़ी मस्जिदों में ज्यादा संख्या में लोगों को एकत्र होने की इजाजत नहीं है।खुफिया सूत्रों ने आशंका भी जताई है कि राज्य में जैश-ए-मोहम्मद के 7 आतंकी घुस गए हैं। इसकी वजह से भी सुरक्षा बढ़ी।अनुच्छेद 370 हटने के बाद से कश्मीर के माहौल पर खास नजर है। बकरीद के मौके पर भी वहां चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात हैं।देशभर में आज बकरीद का त्योहार मनाया जा रहा है। इस मौके पर कश्मीर में खास इंतजाम किए गए हैं।ईद-उल-अजहा  से पहले रविवार को बैंक, एटीएम और कुछ बाजार खुले थे। इसी बीच लोगों ने त्योहार की खरीदारी भी की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *