शिक्षा-खेल मंत्री अरविंद पाण्डेय को पुत्र शोक,छोटे बेटे की दुर्घटना में मौत

एक और साथी की मौत, तीसरा कोमा में

देहरादून:उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के छोटे बेटे अंकुर पांडेय की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई है। वह 24 साल के थे। वहीं इस दुर्घटना में उनके एक साथी की भी मौत हो गई और एक अन्य कोमा में है। उत्तर प्रदेश के फरीदपुर के पास एनएच-24 पर अंकुर की कार और ट्रक में भिड़ंत हो गई.   फरीदपुर से पहले फ्यूचर कॉलेज के पास उनकी कार की ट्रक से भिड़ंत हो गई.जानकारी के मुताबिक वह अपने दो साथियों मुन्ना गिरी व  पिंकू यादव के साथ निजी कार से  किसी वैवाहिक  कार्यक्रम में हिस्सा लेने गोरखपुर जा रहे थे।वहां के लिए उत्तराखंड से तीन कार व दो बसों में लोग सवार होकर रवाना हुए थे।उनके एक साथी मुन्ना की भी मौत हो गई,तीसरा कोमा में है। गाड़ी अंकुर ही चला रहे थे। बरेली के पास फरीदपुर और रजउ के नजदीक आमने-सामने ट्रक और  वरना कार  भिड़ गई। कार की टक्कर हो गई। इस हादसे में अंकुर गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।  वहीं, पीछे चल रही दूसरी क्रेटा कार भी स्पीड में थी। जो आगे वाली कार के ट्रक से टकराने के बाद अनियंत्रित होकर सड़क किनारे गहरे गड्ढे में चली गई। इसमें चार लोग सवार थे, लेकिन कोई भी गंभीर रूप से घायल नहीं हुआ।सड़क हादसे में अंकुर की कार के परखच्चे उड़ गए                           सड़क दुर्घटना में अंकुर की कार के परखच्चे उड़ गए

क्रेटा में सवार लोगों की ही सूचना पर यूपी 100 मौके पर पहुंची। एंबुलेंस से तीनों को बरेली हॉस्पिटल भिजवाया गया, जहां अंकुर और मुन्ना को मृत घोषित कर दिया गया। बुधवार तड़के उजाला होने पर क्रेटा कार को क्रेन मंगवाकर निकलवाया गया।

उनके साथी मुन्ना की भी मौत

दुर्घटना में अंकुर के साथी मुन्ना की भी मौत हो गई है। अंकुर के शव को उनके निवास गूलरभोज (ऊधमसिंह नगर) लाया गया है। जहां श्रद्धांजलि देने वाले लोग पहुंचने लगे हैं। मृतक अंकुर अविवाहित और निशानेबाजी के शौकीन थे।उनकी मौत के बाद घर पर दुखों का पहाड़ टूट गया।

इधर, बेटे की मौत की सूचना के बाद मंत्री अरविंद पांडेय भी गूलरभोज के लिए रवाना हो गए हैं। उनके बड़े बेटे अतुल पांडेय अभी आवास पर नहीं पहुंचे हैं। सूचना मिलने के बाद तड़के से ही शोक जताने के लिए आवास पर लोगों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई। बताया गया कि अंकुर पांडेय की अंत्येष्टि गूलरभोज शमशान घाट पर आज सुबह 11 से 12 बजे के बीच की जाएगी।अंकुर पांडेय (फाइल फोटो)

एक साथी कोमा में

वहीं अंकुर पांडेय की कार में सवार तीसरा साथी पिंकू यादव अभी कोमा में है। वह बरेली के सिद्धि विनायक अस्पताल में भर्ती है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट कर अपना दुख व्यक्त किया है। उन्होंने अपनी वॉल पर लिखा है ‘कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय जी के पुत्र अंकुर की सड़क हादसे में असमय मृत्यु का बेहद दुःखद समाचार मिला। ईश्वर से कामना करता हूं कि अंकुर की आत्मा को शांति व पांडेय परिवार को इस असहनीय दुःख से उबरने की शक्ति मिले।’लाल घेरे में मृतक अंकुर पांडेय

लाल घेरे में मृतक अंकुर पांडेय- फोटो : फाइल फोटो

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी किया ट्वीट
हरीश रावत ने भी दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा ‘उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री @TheArvindPandey के बेटे अंकुर पांडेय की सड़क दुर्घटना में असमय मृत्यु का दुःखद समाचार बेहद हृदय विदारक हैं। मैं ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति के लिए और दुःख इस कठिन घड़ी में शोकाकुल परिजनों को संबल प्रदान करने की प्रार्थना करता हूं।’

जवान बेटे की दर्दनाक मौत से टूटे शिक्षा मंत्री, रोक नहीं पाए अपने आंसू, uk education minister arvind pandey ankur son death in road accident

जवान बेटे की सड़क हादसे की खबर के बाद उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय टूट गए। वह तुरंत देहरादून से ऊधमसिंह नगर के गूलरभोज स्थित अपने आवास के लिए रवाना हो गए।

सुबह करीब 10 बजे वह अपने आवास पहुंचे। जहां छोटे बेटे अंकुर की पार्थिव देह देखकर वह दुख में डूब गए। उन्होंने खुद को संभालने की बेहद कोशिश की, लेकिन एक पिता की आंखें सबकुछ बयां कर गईं।

 

अंकुर के बड़े भाई अतुल पांडेय भी घर पहुंचे। उनका रो-रोकर बुरा हाल था। आज गूलरभोज स्थित शमशान घाट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत भी हेलीकॉप्टर से ऊधमसिंह नगर पहुंचे। जहां से वह गूलरभोज के लिए रवाना हुए।

शिक्षामंत्री अरविंद पांडेय को ढांढस बंधाने और स्व. अंकुर पांडेय को श्रद्धांजलि देने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य, पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी गूलरभोज पहुंचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *