पाक के इस्लामाबाद में सड़कों पर शिवसेना के संजय राउत का पोस्टर

अनुच्छेद 370:अमेरिका की अपील- दोनों पक्ष एलओसी पर बनाए रखें शांति-स्थिरता,UAE ने दिया भारत का साथ, कहा- ये उनका आंतरिक मामला,अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर में घटनाक्रम पर अमेरिका करीब से नजर रख रहा है. अमेरिका ने दोनो पक्षों से अपील की है कि एलओसी पर शांति बनाए रखें.

वॉशिंगटन: अमेरिका ने सोमवार को कहा कि वह भारत सरकार द्वारा अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर में घटनाक्रम पर करीब से नजर रख रहा है. साथ ही उसने सभी पक्षों से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर शांति और स्थिरता बनाए रखने की अपील की. अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोर्गन ओर्टागस ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना पीटीआई-भाषा से कहा,‘‘हम नियंत्रण रेखा पर सभी पक्षों से शांति और स्थिरता बनाए रखने की अपील करते हैं.’’

जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को समाप्त किए जाने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कहा,‘‘हम जम्मू कश्मीर की घटनाओं पर करीब से नजर रख रहे हैं. हमने जम्मू कश्मीर के संवैधानिक दर्जे में तब्दीली की भारत की घोषणा और राज्य को दो केन्द्रशासित प्रदेशों में बांटने की योजना को संज्ञान में लिया है.’’

उन्होंने कहा कि भारत ने जम्मू कश्मीर में कार्रवाई को ‘‘पूरी तरह से आंतरिक मामला’’ बताया है. हालांकि उन्होंने जम्मू कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित उल्लंघन पर चिंता जताई.

प्रवक्ता ने कहा,‘‘ हम हिरासत (जम्मू कश्मीर में) की खबरों पर चिंतित हैं और लोगों के अधिकारों के सम्मान और प्रभावित समुदायों से चर्चा की अपील करते हैं.’’

आर्टिकल 370 पर पाक को झटका, UAE ने दिया भारत का साथ, कहा- ये उनका आंतरिक मामला

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराएं हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित क्षेत्रों में विभाजित करने के कदम पर संयुक्त अरब अमीरात की ओर से टिप्पणी आई है.

आर्टिकल 370 पर पाक को झटका, UAE ने दिया भारत का साथ, कहा- ये उनका आंतरिक मामला

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराएं हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित क्षेत्रों में विभाजित करने के कदम पर संयुक्त अरब अमीरात की ओर से टिप्पणी आई है.

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने एवं राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के भारत के निर्णय का समर्थन किया है. यूएई के भारत में राजदूत अहमद अल बन्ना ने कहा कि उनका मानना है कि जम्मू कश्मीर से संबंधित भारत का निर्णय उसका अंदरूनी मामला है.

‘गल्फ न्यूज’ ने अल बन्ना के हवाले से कहा, ‘हम उम्मीद करते हैं कि बदलाव सामाजिक न्याय एवं सुरक्षा को बेहतर करेंगे और स्थानीय शासन में लोगों के विश्वास को बढ़ाएगा और स्थिरता एवं शांति को और बढ़ावा देगा.’ राजदूत ने कहा कि यूएई ने जम्मू कश्मीर पर भारत के निर्णय और भारतीय संविधान से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाने के फैसले का संज्ञान लिया है.

भारत के लिए नई बात नहीं
अल बन्ना ने कहा कि हमने भारतीय संसद में जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक पेश करने का संज्ञान लिया है जिसका मकसद लद्दाख क्षेत्र और जम्मू कश्मीर को भारत के दो नए केंद्र शासित प्रदेश बनाना हैं. उन्होंने कहा कि राज्यों का पुनर्गठन स्वतंत्र भारत के इतिहास में कोई नई बात नहीं है. इसका मुख्य लक्ष्य क्षेत्रीय असमानता को हटाने तथा दक्षता में सुधार लाना है.

वहीं इससे पहले अमेरिका ने सोमवार को कहा कि वह भारत सरकार द्वारा अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद जम्मू कश्मीर में घटनाक्रम पर करीब से नजर रख रहा है. साथ ही उसने सभी पक्षों से नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर शांति और स्थिरता बनाए रखने की अपील की.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह मामला उठाएगा पाक
पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने भी भारत के इस कदम की निंदा की और उसे खारिज करते हुए कहा कि पाकिस्तान की यात्रा पर आने वाले अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल के साथ होने वाली बैठकों में इस मुद्दे को उठाया जाएगा. साथ ही, इसे अंतरराष्ट्रीय समुदाय के समक्ष भी उठाया जाएगा.

बता दें कि भारत सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को सोमवार को रद्द कर दिया. साथ ही, सरकार ने संसद में यह प्रस्ताव किया कि इस राज्य का विभाजन कर दो केंद्र शासित प्रदेश–जम्मू कश्मीर और लद्दाख-बनाया जाएगा.

पाकिस्तान के इस्लामाबाद में सड़कों पर लगा शिवसेना के संजय राउत का पोस्टर- आज कश्मीर लिये है, कल ब्लूचिस्तान और पाक अधिकृत कश्मीर लेंगे, जांच में जुटी पाकिस्तानी पुलिस

पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में भारत के समर्थन में पोस्टर चिपकाए गए हैं. पोस्टर सामने आने के पुलिस मामले की जांच में जुट गई है कि आखिर पोस्टर कैसे यहां पहुंचा.

pro indian banner found in Islamabad

 पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के विभिन्न हिस्सों में मंगलवार को कई भारत समर्थक बैनर दिखाई दिए जिन्हें लेकर पाकिस्तान पुलिस परेशान है. सोमवार को भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया, जिससे संबंधित संकल्प को संसद ने भी पारित कर दिया.बैनरों पर शिवसेना नेता संजय राउत के संदेश लिखे हुए थे, जिन्हें हटाने के बाद पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया. बैनर के शीर्ष पर लिखा था, महा भारत एक कदम आगे.बैनरों पर लिखा था, ‘‘आज जम्मू-कश्मीर लिया है, कल बलूचिस्तान, पीओके लेंगे. मुझे विश्वास है कि देश के प्रधानमंत्री अखंड हिन्दुस्तान का सपना पूरा करेंगे.’’

खबरों के अनुसार इस्लामाबाद में  हाई सिक्युरिटी रेड जोन समेत शहर के विभिन्न स्थानों पर भारत के समर्थन में बैनर लगे देखे गए. अधिकतर बैनर कोहसर और आबपारा थाना क्षेत्रों में लगे हैं. इस्लामाबाद के इंस्पेक्टर जनरल (आईजी) आमिर जुल्फिकार के हवाले से कहा जा रहा है कि सेफ सिटी कैमरों की सहायता से बैनर लगाने वालों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है.

ट्विटर पर आदित्य राज काल के हैडल से पोस्ट किये गए वीडियो में इन पोस्टरों को साफ देखा जा सकता हैं, जिसे पाकिस्तान का नागरिक ही वीडियो बना रहा।

Aditya Raj Kaul
@AdityaRajKaul

Nothing can be more embarrassing for Pakistan. Posters all over with ‘Maha Bharat : A Step Forward’ written on it. Quoting @ANI tweet of @rautsanjay61 on Jammu and Kashmir full integration with India. And Balochistan as next goal. Says, Akhand Bharat would come true.

7,446 people are talking about this

वीडियो में वह कह रहा है ” मुझे समझ नहीं आ रहा है एक देश के रूप में हम कहा जा रहे हैं, हमारे ही मुल्क मे, हमारे शहर में, हमारे आंखों के सामने इंडिया वाले पोस्ट लगा रहे है”। फिलहाल पाकिस्तान के नागरिकों में इसे लेकर आक्रोश हैं, वहीं भारत मे इस ट्वीट को काफी रिट्वीट किया जा रहा है।

बताते चले की सबसे पहले इसे पाकिस्तान के पत्रकार गुलाम अब्बास शाह ने ट्विटर पर इसे पोस्ट किया है। जिसके बाद भारत मे कई जगह इसे कई जगहों पर साझा किया गया है, पोस्टर वायरल होने के एक और ट्वीट हुआ, जहां पाकिस्तानी पुलिस को पोस्ट हटाते साफ देखा जा सकता है। फिलहाल पूरी घटना के बाद पाकिस्तान के लिए शर्मनाक हालात पैदा हो गये हैं और उसकी आंतरिक एकता पर ही सवाल उठ खड़ा हुआ है ।

पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा

पुलिस ने शिवसेना के संजय राऊत का संदेश आगे बढ़ाने वाले बैनर लगाने के लिए अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. ‘महा-भारत एक कदम आगे’ शीर्षक से लगाए गए बैनरों पर लिखा है-‘आज जम्मू और कश्मीर लिया है, कल बलूचिस्तान, पीओके लेंगे. मुझे विश्वास है देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अखंड हिंदुस्तान का सपना पूरा करेंगे.’भारत के इस कदम से तिलमिलाए पाकिस्तान ने इसे दो परमाणु संपन्न पड़ोसियों के बीच शांति के लिए खतरा बताया था.  जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छिने जाने का प्रस्ताव पेश होते ही पाकिस्तान सरकार और पाक मीडिया, दोनों ही मुखर हो गए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *