गौहत्या पर भीड़ ने मदरसे में तोड़फोड़ कर लगाई आग

गांव के मंदिरों में बढ़ाई सुरक्षा, दहशत इतनी कि स्कूल खुले पर नहीं पहुंचे बच्चे

फतेहपुर मदरसा कांड : गांव के मंदिरों में बढ़ाई सुरक्षा, दहशत इतनी कि स्कूल खुले पर नहीं पहुंचे बच्चे Fatehpur News
फतेहपुर के बेहटा गांव में उपद्रव के बाद भारी फोर्स तैनात पुलिस ने तीन संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है।

फतेहपुर, । बेहटा गांव में मदरसा में आगजनी व तोडफ़ोड़ की घटना के बाद तनाव अभी कम नहीं हुआ है लेकिन प्रशासन ने स्थिति पूरी तरह नियंत्रित कर रखी है। दहशत का आलम इतना है कि दूसरे दिन बुधवार को गांव सन्नाटा पसरा रहा और स्कूल खुले पर एक भी बच्चा पढऩे नहीं आया। प्रशासन ने गांव में मंदिरों की सुरक्षा बढ़ा दी और चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात कर दिया है। साथ ही तीन संदिग्ध युवकों को हिरासत में लेकर अन्य उपद्रवियों की पहचान शुरू कर दी है।

गांव में ये हुई थी घटना

गौहत्या की आशंका पर सोमवार को बेहटा गांव में गर्माया माहौल मंगलवार को फिर बिगड़ गया था। गांव के तालाब किनारे फिर किसी जानवर के अवशेष मिले तो दोबारा गौहत्या की खबर फैलने पर उग्र ग्रामीणों ने पास के मदरसे पर धावा बोल दिया था। यहां मौलवी का बंद कमरा खोलने पर बोरी में मांस मिलने पर भीड़ ने मदरसे में तोडफ़ोड़ कर आग लगा दी थी। दूसरे पक्ष के पथराव से भीड़ और उग्र हो गई थी और पुलिस पर पथराव कर दिया था। डीएम, एसपी के साथ कई थानों की फोर्स पहुंचने से हालात काबू में आए। मदरसे के मौलवी समेत अन्य लोग फरार हैं।

60 अज्ञात पर मुकदमा, इंस्पेक्टर और चौकी इंचार्ज निलंबित

डीएम संजीव कुमार सिंह, एसपी रमेश ने गांव का पैदल भ्रमण कर हालात का जायजा लिया था। एसआइ उमाशंकर सिंह की तहरीर पर 60 अज्ञात उपद्रवियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। एसपी रमेश ने इंस्पेक्टर तेज बहादुर सिंह चंदेल और जोनिहां चौकी इंचार्ज उमेशचंद्र पटेल को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। डीएम ने बताया कि उग्र भीड़ ने मौलवी के कमरे में रखे उसके कपड़ों में आग लगाई थी। बरामद संदिग्ध मांस का परीक्षण कराया जा रहा है, उपद्रवियों पर सख्त कार्रवाई होगी।

चप्पे-चप्पे में पुलिस, गलियों में सन्नाटा

उपद्रव के बाद बेहटा गांव की गलियों में सन्नाटा पसरा था। पुलिस की गाडिय़ां इधर से उधर पूरे गांव में गश्त कर रही थी। पूरे गांव की गलियों व मोड़ पर पुलिस की टुकड़ी तैनात थी। छावनी बने गांव में खुफिया विभाग के अधिकारी घटना का कारण तलाश रहे थे। गांव के बाहर को आने-जाने सभी रास्तों पर नाकेबंदी करा दी गई ताकि बाहर का कोई व्यक्ति गांव में न आ सके। मदरसे के आसपास रहने वाला दूसरा पक्ष घरों में ताला डालकर फरार हैं।

मदरसा निर्माण पर हुआ था विवाद

गांव में मदरसा बनने के दौरान गांव के लोगों ने विरोध किया था। ग्रामीणों को शक था कि मदरसा खोलकर उसे मस्जिद का रूप दे दिया जाएगा। कुछ दिनों से यहां पर नमाज भी अदा की जाने लगी थी। मदरसे में 150 के करीब बच्चे पढ़ते हैं।

मदरसे की जमीन की छानबीन में जुटा राजस्व विभाग

बेहटा गांव में जिस जमीन पर मदरसा संचालित है वह जमीन कब्रिस्तान की बताई जा रही है। डीएम ने पूरे मामले के जांच के आदेश दिए हैं। इसकी जांच तहसीलदार को सौंपी गई है। मदरसे में बिना विद्युत कनेक्शन विद्युत उपयोग किए जाने पर विद्युत विभाग ने विद्युत चोरी का मुकदमा दर्ज कराया है और कनेक्शन काट दिया है। एसडीओ प्रशांत शुक्ला ने बताया विद्युत चोरी करने पर गरीब नवाज मदरसा कमेटी के खिलाफ विद्युत चोरी का मुकदमा दर्ज कराया गया है।

1989 हुई गोकशी में हुआ था बवाल

गांव के पूर्व प्रधान रासिदउद्दीन ने बताया गौहत्या के मुख्य अरोपी के दादा ने 1989 में गोकसी थी। तब एक बार गांव का माहौल खराब हुआ था, अब एक बार गौहत्या के चलते उपद्रव हो गया। पुलिस ने गौहत्या के मामले में जिन दो लोगों के खिलाफ सोमवार को मुकदमा दर्ज किया था। मंगलवार को पुलिस ने तीसरे आरोपित उमर अली को गिरफ्तार किया।

वायरल वीडियो से उपद्रवियों की पहचान

बेहटा गांव में उपद्रव करने वालों का वीडियो भी वायरल हुए हैं। इन वायरल वीडियो से पुलिस उन उपद्रवियों की पहचान कर रही है जो तोडफ़ोड़ व आगजनी की घटना में शामिल हैं। इसमें आसपास गांव के लोग भी है। पुलिस ने इस मामले में 60 लोगों को नामजद किया। रात भर छापेमारी में तीन संदिग्धों को पकड़ा गया है।

एसओ चांदपुर सहित चार इंस्पेक्टर तैनात

बेहटा गांव के मदरसे में थाना प्रभारी चांदपुर सहित चार इंसेक्टर तैनात किए गए हैं। सीओ अभिषेक तिवारी, एसडीएम विजय शंकर तिवारी भी बुधवार को हालात का जायजा लेने पहुंचे। स्थानीय अभिसूचना इकाई के इंस्पेक्टर भी गांव में डेरा डाले हैं। मंदिरों के आसपास विशेष सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

स्कूल खुला पर बच्चे नहीं आये

बेहटा गांव का प्राथमिक विद्यालय तो खुला और शिक्षक पहुंचे लेकिन बच्चे नहीं आए। इससे गांव में रहने वालों के बीच फैली दहशत का अंदाजा लगाया जा सकता है। दूसरे दिन में गलियों में सन्नाटा पसरा रहा है। घरों से महिलाएं बच्चे और पुरुष बाहर नहीं निकले। शांति सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस टीम ने पड़ोसी गांव शाहबाजपुर, डीघ, फरीदपुर आदि कई गांवों में भी मार्च किया।

फतेहपुर में बवाल, गोकशी पर भीड़ ने मदरसे में तोड़फोड़ के बाद लगाई आग Fatehpur News

फतेहपुर के बेहटा गांव में घटना के बाद पहुंचे कई गांवों के लोग जानकारी पर फोर्स के साथ डीएम एसपी ने पहुंचकर संभाले हालात।

बेहटा गांव में सोमवार को गौहत्या  की घटना के बाद दूसरे दिन सुबह तालाब के पास मांस से भरी बोरी मिलने से आक्रोश फैल गया। जानकारी होते ही कई गांवों से लोग एकत्र हो गए और पास के मदरसे में तोड़फोड़ करते हुए आग लगा दी। इससे क्षेत्र में तनाव की स्थिति बन गई और दूसरे पक्ष के लोग भी सड़क पर उतर आए। सूचना मिलते ही फोर्स लेकर एसपी और डीएम गांव पहुंच गए और लोगों से बातचीत करके स्थिति को नियंत्रण में करने का प्रयास शुरू किया।

बेहटा गांव में सोमवार को गौहत्या की घटना के बाद से तनाव की स्थिति बन गई थी। इसके चलते गांव में रात को पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। मंगलवार की सुबह तालाब की ओर गई महिलाओं ने मांस से भरी बोरी पड़ी देखी।

ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मांस से भरी बोरी बरामद कर ली। गौहत्या की जानकारी होते ही उरदौली, शाहबाजपुर, खंझाहालपुर, फरीदपुर, धानेमऊ, गौरी आदि गांव से बड़ी संख्या में लोग बेहटा गांव आ गए।ग्रामीणों ने पुलिस से गौहत्या करने वालों को गिरफ्तारी न किये जाने को लेकर विरोध जताया और पास के मदरसे में गोमांस रखा होने की बात कही। इसके बाद भीड़ ने मदरसे में धावा बोल दिया। मदरसे के अंदर एक कमरे से गोवंश का सिर व मांस मिलने से भीड़ का गुस्सा बढ़ गया। भीड़ ने मदरसे में तोडफ़ोड़ करते हुए आग लगा दी। क्षेत्र में तनाव का माहौल व्याप्त होने और हालात बेकाबू होने पर पुलिस ने उच्चाधिकारियों को जानकारी दी।

डीएम संजीव कुमार सिंह, एसपी रमेश, एएसपी पूजा यादव, सीओ अभिषेक तिवारी, एसडीएम विजय शंकर तिवारी भारी पुलिस बल के साथ गांव पहुंच गए। क्यूआरटी के साथ कई थानों का भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

डीएम व एसपी गांव में मार्च करके लोगों को शांत करने का प्रयास कर रहे हैं। गांव में तनाव का माहौल बना है। पुलिस ने गौहत्या के मामले में मुस्ताक व मुन्नू शाह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। दोनों फरार आरोपितों की तलाश के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *