अलग-अलग दुर्घटनाओं में सात कांवड़ियों की मौत,दर्जनों घायल

दिल्ली में दो कांवड़ियों की मौत, सहारनपुर में भी करंट लगने से एक की गई जान,बरेली में कार की टक्कर से घायल हुए कांवड़िये की मौत के बाद बवाल हो गया।गुरुग्राम और राजस्थान के तीन कांवड़ियों की सड़क हादसों में मौत की खबर है, जबकि कई घायल बताए जा रहे हैं।

शनिवार का दिन कांवड़ियों के लिए ठीक नहीं रहा. दिल्ली में दो कांवड़ियों की मौत अलग-अलग घटना में हो गई. वहीं, यूपी के सहारनपुर में भी एक कांवड़िये की मौत करंट लगने से हुई. दिल्ली में एक कांवड़िये की मौत करंट लगने से हुई जबकि दूसरे की मौत सड़क दुर्घटना में हुई है.

Two kanwariya dead in delhi, one in saharanpur
प्रतीकात्मक तस्वीर 

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार तड़के हुई दो अलग-अलग घटनाओं में दो कांवड़ियों की मौत हो गई. एक कांवड़िये की मौत सड़क दुर्घटना में जबकि दूसरे कांवड़िये की मौत करंट लगने से हुई. मामले पर दिल्ली पुलिस ने कहा कि मृतकों की पहचान मोहित (24) और विजेंद्र करन (36) के रूप में हुई है. दोनों ही दिल्ली के रहने वाले हैं. बता दें कि करंट लगने से कांवड़िये की मौत की एक घटना यूपी के सहारनपुर से भी सामने आई है. इस घटना में यहां एक कांवड़िये की मौत हो गई जबकि एक अन्य घायल हो गया.

दिल्ली पुलिस का बयान

दिल्ली पुलिस ने कहा कि दोनों मृतक डाक कांवड़ के समूह में शामिल थे. पुलिस ने कहा कि मोहित की मौत पश्चिमी दिल्ली में सागरपुर बस स्टैंड के पास एक ट्रकों की टक्कर से हुई. पुलिस ने कहा कि इस मामले में मोहित और उसके तीन अन्य सहयोगी घायल हो गये जिसमें से मोहित ने सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया. पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने दूसरे ट्रक के चालक अजय शंकर (41) को गिरफ्तार कर लिया है.’’

दिल्ली के दूसरे कांवड़िये विजेंद्र की मौत करंट लगने से हुई. दरअसल, विजेंद्र जिस ट्रक पर सवार थे उस पर रखा बड़ा स्पीकर हाई टेंशन तार के संपर्क में आ गया. इस घटना में तीन लोग घायल भी हुए. यह घटना जैतपुर क्षेत्र के सेंट्रल बैंक एटीएम के पास हुई.

सहारनपुर में बिजली के तार के संपर्क में आए कांवड़िए

सहारनपुर में कांवड़िये की मौत एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि कांवड़िये टैक्ट्रर ट्राले में सवार होकर हरिद्वार जा रहे थे. कांवड़ियों की ट्रैक्टर-ट्राली देवबंद से निकलकर मंगलौर रोड स्थित मानकी मन्दिर के निकट पहुंचने पर वाहन बिजली के तार के संपर्क में आ गया. इसके बाद डी जे संचालक अंकित (26) और रामकुमार (50) करंट लगने से बुरी तरह झुलस गये. सिटी एसपी ने बताया कि उपचार के दौरान रामकुमार की मौत हो गई जबकि अंकित का इलाज चल रहा है.

घायल कांवड़िये की मौत पर बवाल

 कार की टक्कर से घायल हुए कांवड़िये की मौत के बाद बवाल हो गया।
बरेली में कार की टक्कर से घायल हुए कांवड़िये की मौत के बाद बवाल हो गया। जाम लगाने की कोशिश की गई। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हादसे के बाद चौकी इंचार्ज ने कार चालक को छोड़ दिया, इसलिए उन्हें सस्पेंड किया जाए। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि चौकी इंचार्ज की भूमिका की जांच करा ली जाएगी तब लोग माने।

शनिवार रात को तेज रफ्तार कार ने चौपुला पुल पर कांवड़ियों के जत्थे में टक्कर मार दी थी। हादसे में इज्जतनगर के संतनगर निवासी रोहित (28) समेत तीन कांवड़िये गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बुधवार सुबह मिशन अस्पताल में इलाज के दौरान रोहित की मौत हो गई। यह जानकारी मुहल्ले वालों को हुई तो अस्पताल में भीड़ जुटने लगी। हंगामा शुरू हो गया। इस बीच शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। वहां कुछ ¨हदू संगठन व भाजपा नेता भी आ गए। रोहित की मौत से गुस्साए लोग नारेबाजी करते हुए जाम लगाने की कोशिश करने लगे। वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने समझाने की कोशिश की। लोगों को शांत कर पुलिसकर्मियों ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अंदर ले जाना चाहा तो सैकड़ों लोगों की भीड़ भिड़ गई। शव को हाथ नहीं लगाने दिया। अड़ गए कि जब तक चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई नहीं होती, वे पोस्टमार्टम नहीं होने देंगे। भीड़ और बवाल बढ़ता गया तो एडीएम सिटी और एसपी सिटी समेत तमाम अधिकारी व कई थानों का फोर्स मौके पर पहुंच गया। अधिकारियों ने आश्वासन दिया कि जांच के बाद चौकी इंचार्ज पर कार्रवाई करेंगे। तब भीड़ शांत हुई।

सड़क हादसे में गुरुग्राम व रेवाड़ी के तीन कांवड़ियों की मौत की खबर, 20 घायल

सड़क हादसे में गुरुग्राम व रेवाड़ी के तीन कांवड़ियों की मौत की खबर, 20 घायल

दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम और राजस्थान के तीन कांवड़ियों की सड़क हादसों में मौत की खबर है जबकि कई घायल बताए जा रहे हैं।

दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम और राजस्थान के तीन कांवड़ियों की सड़क हादसों में मौत की खबर है, जबकि कई घायल बताए जा रहे हैं। पहला हादसा गुरुग्राम के कांवड़ियों के साथ हादसा सोहना तावडू रोड पर रात 2:00 बजे के बाद हुआ। मिली जानकारी के मुताबिक, हरिद्वार से डाक कावड़ लेकर लौट रहे कांवड़ियों के कैंटर का टायर सोहना घाटी के पास फट गया, जिसके बाद वाहन अनियंत्रित होकर खाई में चला गया। हादसे में दो कावड़ियों की मरने की खबर है, जबकि 20 घायल बताए जा रहे हैं।

सड़क हादसे में रेवाड़ी के कांवड़िये की मौत

दिल्ली-जयपुर हाइवे पर शुक्रवार की रात कसौला चौक के निकट ट्रक की टक्कर से एक कावड़िये की मौत हो गई।जान गंवाने वाला कांवड़ियां राजस्थान के जिला सीकर के गांव महरौली निवासी 32 वर्षीय प्रदीप था।

पुलिस बोली हमने तो 307 तक लगा दी थी

मृतक के परिजनों का कहना था कि पुलिस ने कार चालक को पकड़कर थाने से छोड़ दिया। इस पर पुलिस ने बताया कि कार जब्त कर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज किया था। कार चालक परमेश्वरी लाल को रविवार को अदालत में पेश किया था लेकिन अदालत ने हादसे के मामले में धारा 307 लगाने पर पुलिस को जमकर फटकार लगाई थी। जिसके बाद चालक को थाने से मजबूरी में जमानत देनी पड़ी।

परिजनों ने की मुआवजे की मांग

मृतक के साथी कांवड़िये व ¨हदू संगठन के लोग बतौर मुआवजा दस लाख रुपये, सौ गज का प्लाट व बिहारीपुर चौकी इंचार्ज को सस्पेंड करने की मांग कर रहे थे। अधिकारियों ने परिजनों को आश्वासन दिया है कि वह मुआवजे के लिए शासन को लिखेंगे।

रोहित के परिवार में पत्‍‌नी रीना, दो बच्चे दिव्यांश और आर्यन हैं। रोहित की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। उनकी दादी कई बार बेहोश हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *