सनसनीखेज खुलासा:दूसरी शादी,अपनी हत्या का इरादा जान पत्नी ने ही कराई तालीम की हत्या

पत्नी ने ही कराई थी तालीम की हत्या
सहारनपुर। 11 दिन पूर्व गंगोह के ग्राम धलापड़ा में हुई एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या के मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। अपने पति से जान का खतरा मानते हुए पत्नी ने ही तालीम की हत्या कराई थी। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने मृतक तालीम का मोबाइल फोन, बाइक, तीन तमंचे बरामद किए हैं।
गंगोह के ग्राम धलापड़ा में 27 अक्तूबर को तालीम की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में तालीम के पुत्र शोएब ने जमीन की रंजिश में पिता की हत्या के आरोप में चार भाइयों अफसर, मुकरीम, कौसर तथा हाकिम (निवासी ग्राम भूरा थाना कैराना शामली) को नामजद किया था। एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि हत्या के खुलासे के लिए गंगोह पुलिस के साथ अभिसूचना विंग को भी जिम्मेदारी दी गई थी। जांच में नामजद आरोपियों की हत्या में संलिप्तता नहीं मिली। बुधवार शाम को तालीम की हत्या करने वाले दो लोगों के नकुड़ रोड पर पशु पैठ के पास होने की सूचना मिली। जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों आरोपियों अकरम (निवासी ग्राम गंदेवड़ा थाना फेतहपुर )तथा समीर (निवासी मोहल्ला बामनवाला हरिद्वार बाईपास थाना पटेल नगर देहरादून उत्तराखंड) को घेराबंदी कर दबोच लिया। आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने तीन तमंचे, एक बाइक एवं मृतक तालीम का मोबाइल फोन बरामद किया।
एसएसपी ने बताया कि पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि तालीम की पत्नी फुरकाना ने ही हत्या का षड्यंत्र रचा था। फुरकाना ने तालीम से अपनी जान का खतरा मानते हुए अकरम से हत्या कराई थी। उन्होंने बताया कि तालीम दूसरा निकाह करना चाहता था, उसने अपने साथी अकरम से पत्नी फुरकाना की हत्या करने को कहा था। लेकिन अकरम तालीम की पत्नी को बहन मानता था, इसलिए उसने तालीम की योजना फुरकाना को बता दी। इस पर फुरकाना ने अकरम को ही तालीम की हत्या के लिए राजी कर लिया। पुलिस ने मृतक तालीम की पत्नी फुरकाना को भी गिरफ्तार कर लिया। तीनों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।
फुरकाना ने कहा था हत्या करने को
एसएसपी ने बताया कि फुरकाना ने ही अकरम को तालीम की हत्या करने के लिए कहा था। अकरम ने पूछताछ में बताया कि एक दिन तालीम ने उससे कहा कि वह किसी दूसरी औरत से शादी करना चाहता है, फुरकाना एवं उसके भाई उसे परेशान करते हैं। वह फुरकाना एवं उसके भाई को मरवा दे। यह बात उसने फुरकाना को बता दी। जिस पर फुरकाना ने अकरम को तालीम की हत्या करने को कहा था।
फुरकाना ने ही रचा हत्या का षड्यंत्र, तमंचा भी दिया
एसएसपी ने बताया कि अकरम ने पूछताछ में बताया कि फुरकाना ने ही हत्या का पूरा षड्यंत्र रचा था। फुरकाना ने अकरम से कहा कि डरो मत, उसका पूरा प्लान तैयार है। उसने तालीम से अफसर कौसर, हाकिम, मुकरीम (निवासी भूरा थाना कैराना शामली) के खिलाफ प्रार्थना पत्र दिलवा दिया है। हत्या के बाद उन्हीं पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराएगी। दिवाली से दो दिन पूर्व फुरकाना ने अकरम को बुलाया और 27 अक्तूबर को हत्या का दिन निर्धारित किया। फुरकाना ने हत्या के लिए गत्ते के एक डिब्बे में तमंचा एवं कारतूस रखकर दिया था।
एक लाख रुपये का लालच देकर समीर को किया हत्या में शामिल
एसएसपी ने बताया कि अकरम ने अपने दोस्त समीर (निवासी बामनवाला पटेल नगर देहरादून) को अपने साथ हत्या में एक लाख रुपये का लालच देकर शामिल किया था। देहरादून से बाइक पर ही समीर के साथ सहारनपुर पहुंचा।
15 हजार रुपये लाने के बहाने फुरकाना ने भेजा था तालीम को
फुरकाना ने 27 अक्तूबर को लगभग साढ़े सात बजे तालीम को अकरम से 15 हजार रुपये लाने के बहाने घर से उनके पास अंबेहटा रोड पर भेजा था। जैसे ही तालीम धलापड़ा के जंगल में कच्चे रास्ते पर पहुंचा, तभी उन्होंने तमंचे से तालीम के सर में गोली मार दी। जब वह बाइक के साथ नीचे गिर गया और उठ कर भागा, तो पीछे से एक और गोली मार दी, वह फिर गिर पड़ा जिसके बाद उन्होंने तालीम को रास्ते से नीचे कर दिया। उसके बाद एक गोली उसके सीने में मार दी और भाग गए। हत्या करने के बाद फुरकाना को फोन कर बताया कि उन्होंने पूरा काम कर दिया है।
हत्या एवं लूट में शामिल रहा अकरम
एसएसपी ने बताया कि अकरम ने पूछताछ में बताया कि उसने असजद (निवासी ग्राम बाढ़ीमाजरा) के साथ थाना फतेहपुर में 2015 में 15 लाख के जेवरों की लूट की थी। जनकपुरी थाना क्षेत्र में एक हत्या की थी, कई अन्य वारदातों में असजद के साथ रहता था। उस पर हत्या, लूट समेत पांच मामले दर्ज हैं। असजद के साथ वह फुरकाना के घर आता रहता था। वह फुरकाना को बहन मानता था। जबकि समीर पर भी हत्या का मामला दर्ज है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *