भूमि पूजन में भारत का हर हिस्सा, सुरक्षा होगी अभूतपर्व

भूमि पूजन में भारत का हर हिस्सा होगा, सुरक्षा के होंगे अभूतपूर्व इंतजाम: चंपत राय
अयोध्या, 3 अगस्त। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू हो रहा है. पांच अगस्त को भूमि पूजन है और इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंचे हैं.
अयोध्या में भूमि पूजन की चल रही तैयारियां
अयोध्या में 5 अगस्त को मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजनभूमि पूजन की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे सीएम योगी
अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन की घड़ी अब नज़दीक आ रही है. 48 घंटे से भी कम का वक्त बचा है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखेंगे. इस बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से ट्वीट कर लोगों से अपील की गई है कि वो घर पर बैठकर ही ऐतिहासिक दृश्य का नजारा लें.
वहीं श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने कहा है कि भूमि पूजन कार्यक्रम में यहां से लेकर नेपाल के संतों तक को बुलाया गया है. कुछ लोग संतों को भी दलित कहते हैं जबकि वो लोग भगवान के लोग हैं. भारत के भूगोल का हर हिस्सा यहां पर रहेगा. संत महात्मा मिलाकर करीब 175 लोग शामिल होंगे. उन्होंने बताया कि पद्मश्री पा चुके फैजाबाद के मोहम्मद यूनुस को बुलाया गया है. वो लावारिस लाशों का अंतिम संस्कार करते हैं. वो चाहे जिस धर्म के हों.
सुरक्षा बंदोबस्त के बारे में बताते हुए चम्पत राय ने कहा कि निमंत्रण पत्र पर सिक्योरिटी कोड है. ये केवल एक बार ही काम करेगा. जो प्रवेश करेगा, एक बार अंदर जाने के बाद दोबारा वापस नहीं आ सकता. अंदर कोई भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण नहीं जा सकता है.
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को अयोध्या पहुंचे हैं,यहां रोगी ने तैयारियों का जायजा लिया. और सुरक्षा व्यवस्था को परखा.मुख्यमंत्री योगी यहां मौजूद अधिकारियों को निर्देश देते,उनसे जानकारी लेते हुए नज़र आए.
मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश रोगी आदित्य नाथ ने इस दौरान भूमि पूजन स्थल के अलावा हनुमानगढ़ी मंदिर का दौरा भी किया.इस बीच उन्होंने ट्वीट किया,‘अवधपुरी प्रभु आवत जानी,भई सकल सोभा कै खानी’.
मुख्यमंत्री ने लिखा कि कई शताब्दियों की प्रतीक्षा अब पूर्ण हो रही है,व्रत फलित हो रहे हैं,संकल्प सिद्ध हो रहा है.सभी श्रद्धालुजन घर पर दीप जलाएं, श्रीरामचरितमानस का पाठ करें.प्रभु श्री राम का आशीष सभी जनों को प्राप्त होगा.
गौरतलब है कि पांच अगस्त को होने वाले भूमि पूजन से पहले 4 तारीख को ही अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएंगी.इस बीच आज मुख्यमंत्री सभी तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे हैं.कोरोना वायरस संकट के कारण बड़ी संख्या में लोगों को आने की अनुमति नहीं है,भूमि पूजन के दौरान भी सिर्फ दो सौ से कम मेहमान मौजूद रहेंगे.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करीब दो से तीन घंटे के लिए अयोध्या में रहेंगे, इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन होगा और कोरोना से जुड़ी गाइडलाइन्स का पालन किया जाएगा. मुहूर्त में ट्रस्ट से जुड़े लोग, राम मंदिर आंदोलन से जुड़े लोग और अन्य मेहमानों को बुलाया जा रहा है.
आज से लोगों के पास निमंत्रण पत्र जाना शुरू हो गया है, सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद पक्ष के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी को भी न्योता मिला है.
राम मंदिर भूमि पूजन में वर्चुअली शामिल होंगे लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी,कोरोना बना कारण
राम मंदिर भूमि पूजन में भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी वर्चुअली शामिल होंगे. दोनों नेताओं को आमंत्रित किया गया था लेकिन कोरोना संक्रमण को देखते हुए दोनों ने ये फैसला लिया है. राम मंदिर आंदोलन के जरिए देशभर में ‘रामलहर’ पैदा करने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी भी अयोध्या में होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होंगे. हालांकि, दोनों नेताओं की उपस्थिति वर्चुअली होगी. दरअसल, कोरोना के मद्देनजर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने दोनों नेताओं को निमंत्रित तो किया है लेकिन उम्र, स्वास्थ्य और कोरोना के संक्रमण को देखते हुए दोनों नेताओं ने कार्यक्रम में वर्चुअली शामिल होने का फैसला लिया है.
ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि आमंत्रित किए जाने वाले लोगों के जरिए सनातनी सद्भाव के संगम की तस्वीर पेश करने का प्रयास है. इसीलिए सिर्फ हिंदू ही नहीं राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में अन्य संप्रदायों और पंथों के धर्माचार्यों और विशिष्ट लोगों को भी बुलाया गया है.

संघ प्रमुख मोहन भागवत, भैया जी जोशी समेत तमाम मेहमान कल शाम पहुंचेंगे अयोध्या,अयोध्या में सीएम योगी ने लिया तैयारियों का जायजा,बोले- 500 सालों बाद यह एऐतिहासिक क्षण आया है,भूमि पूजन पर न लगे कोरोना का साया,सभी का टेस्ट कराने की तैयारी- सूत्र

हालांकि, कार्यक्रम में कोरोना के मद्देनजर ज्यादा लोगों से न जुटने की भी अपील की गई है. बता दें कि राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं. बता दें कि 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत तमाव विशिष्टगण शामिल होंगे. मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंचे.
वहीं,अयोध्या में भूमि पूजन की शुरुआत सुबह 9 बजे गणपति पूजन से हुई जो 1 बजे तक चला,इसमें विघ्नहर्ता गणेश जी की पूजा कर शुभ कार्य की शुरुआत की.इसमें 21 पुजारी शामिल हुए. इसके बाद मंगलवार को रामर्चा पूजन होगा.
उधर,उमा भारती बोलीं- कोरोना के चलते भूमि पूजन कार्यक्रम से दूर रहूंगी, सभी के चले जाने पर करूंगी दर्शन
अयोध्या में सीएम योगी ने लिया तैयारियों का जायजा, बोले- 500 सालों बाद यह एतिहासिक क्षण आया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *