कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज,बेटों-बहुओं समेत कोरोना पॉजिटिव

देहरादून,।उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज समेत 22 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पहले शनिवार को उनकी पत्नी अमृता रावत कोरोना पॉजिटिव पाई गईं थी, जिसके बाद उनके सैंपल लिए गए थे। रविवार को मिली रिपोर्ट में महाराज, उनके दो बेटे श्रद्धेय और सुयश तथा बहुएं आराध्या और मोहिना भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। उनके एक बेटे का सैंपल दोबारा लिया जा रहा है। कर्मचारियों के सैंपल में 17 लोग पॉजीटिव पाए गए हैं, जबकि 17 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। पांच की जांच दोबारा की जाएगी।
सतपाल महाराज के परिवार को होटल और कर्मचारीगणों/भक्तों को इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन किया गया था। अब सबकों अस्पतालों में भर्ती कराया जायेगा।
कैबिनेट मंत्री महाराज की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अब कैबिनेट के साथ ही कई अधिकारियों को भी क्‍वारंटाइन किए जाने की संभावना है। कैबिनेट मंत्री महाराज 29 मई को कैबिनेट की बैठक में शामिल हुए। सरकार के प्रवक्‍ता और कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि अब स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की जो भी गाइडलाइन होगी, मंत्री और अधिकारी उसका अनुपालन करेंगे।

प्रदेश में रविवार दो बजे तक कोरोना संक्रमण के 53 नए मामले आए हैं। इनमें देहरादून में 25, हरिद्वार में 15, पौड़ी में छह, उत्‍तरकाशी में छह और रुद्रप्रयाग में एक कोरोना पॉजिटिव केस आए। अब कुल संक्रमितों का आंकड़ा 804 पहुंच गया है। वहीं, एम्‍स ऋषिकेश में भर्ती एक कोरोना संक्रमित युवक की सुबह मौत हो गई, जबकि दून मेडिकल कालेज अस्पताल में तैनात एक महिला एनेस्थेटिस्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।

एम्‍स ऋषिकेश में भर्ती कोरोना पॉजिटिव एक युवक की मौत

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में भर्ती एक संक्रमित युवक की रविवार की सुबह मौत हो गई। दो माह पूर्व इस युवक को छत में करंट लगा था। जिस कारण उसे उस वक्त यहां भर्ती किया गया था। उसके एक हाथ और पैर का कुछ हिस्सा काटना पड़ा था। एम्स निदेशक के स्टाफ ऑफिसर व कोविड-19 के नोडल अधिकारी डॉ मधुर उनियाल ने बताया कि पूर्व में इलाज के बाद मई के प्रथम सप्ताह में इस युवक को यहां से छुट्टी दे दी गई थी। 27 मई को वह स्वयं को दिखाने ओपीडी में आया था। उस रोज इसका कोविड-19 सैंपल लेने के बाद आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया था। 29 मई को युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। ऋषिकेश के गढ़ी श्यामपुर निवासी 18 वर्षीय युवक की रविवार की सुबह मृत्यु हो गई। मृतक के स्वजनों को सूचित कर दिया गया है।

पौड़ी में आए छह नए मामले

पौड़ी जनपद में कोरोना संक्रमण के 6 नए मामले आए हैं, जिनमें पांच पॉबौ ब्लॉक और एक थलीसैंण ब्लॉक का है। कुछ दिन पूर्व पॉबौ ब्लॉक की एक महिला कोरोना पॉजिटिव आई थी। उक्त महिला अपनी बहू और तीन बच्चों के साथ एक प्राइवेट कार से दिल्ली से यहां पहुंची थी। बुजुर्ग महिला के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उसके साथ आए इन सभी लोगों का भी सैंपल लिया गया था। अब इनका सैंपल भी कोरोना पॉजिटिव आए हैं। वहीं थलीसैंण ब्‍लॉक का एक व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है, जो बीते 21 मई को मुंबई से आया था। इसके अलावा पॉबौ ब्‍लॉक का एक अन्य युवक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

उत्तरकाशी में छह नए कोरोना पॉजिटिव केस

सीमांत जनपद उत्तकाशी में रविवार को छह नए कोरोना पॉजिटिव केस आए हैं। ये सभी मुबंई से लौटने वाले प्रवासी हैं। इनमें पांच ऐसे हैं जो 19 मई उत्तरकाशी पहुंचे थे। ये सभी गढ़वाल मंडल विकास निगम में संस्थागत क्वारंटाइन किए गए, जबकि एक युवक 21 मई को मुंबई से लौटा। उसे बुखार की शिकायत थी। यह युवक कोविड सेंटर में भर्ती है। जनपद कोरोना पॉजिटिव के केस बढ़कर 20 हो गए हैं।

रुद्रप्रयाग में आया एक कोरोना पॉजिटिव

रुद्रप्रयाग जनपद में एक और व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। यह व्यक्ति 73 वर्षीय बुजुर्ग हैं और नई दिल्ली से लगभग 15 मई को आए थे। उन्‍हें एक होटल में संस्थागत क्‍वारंटाइन किया गया था। स्वास्थ्य विभाग ने 25 मई को उनका सैंपल लिया था। जिसकी रिपोर्ट बीती रात आई। स्वास्थ्य विभाग ने बुजुर्ग व्यक्ति को आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर दिया है, जबकि कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग में पुलिस व स्वास्थ्य विभाग जुट गया हैं। आज तक जनपद में कुल छह कोरोना पॉजिटिव हो गए है, जबकि दो की जांच देहरादून में हुई थी। इनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। यह दोनों कोटेश्वर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं।

दून मेडिकल कॉलेज अस्‍पताल की डॉक्‍टर कोरोना पॉजिटिव

वहीं, दून मेडिकल कालेज अस्पताल में तैनात महिला एनेस्थेटिस्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। अस्पताल के किसी स्टाफ में संक्रमण का यह पहला मामला है। यह डॉक्‍टर आइसीयू में तैनात थी। संक्रमित डॉक्‍टर को वार्ड में भर्ती किया गया है।

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज का आवास देहरादून में म्यूनिसिपल रोड पर है। इसका दूसरा हिस्सा सकरुलर रोड पर भी खुलता है। हाल में दिल्ली से कुछ लोग उनके यहां आए थे, जिन्हें सकरुलर रोड की तरफ खुलने वाले गेस्ट हाउस व कार्यालय में क्वारंटाइन किया गया। महाराज व उनका परिवार म्यूनिसिपल रोड की ओर तरफ वाले आवास में रहता है।

सतपाल महाराज के घर से लगी गली सील

कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के घर की म्यूनिसिपल रोड की गली सील है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *