सोलर प्‍लांट ठेकेदार की गला रेतकर हत्‍या,एसयूवी में मिली बॉडी

सहारनपुर में सोमवार रात कार सवार एक 40 वर्षीय व्यक्ति की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
सहारनपुर, । छुटमलपुर के फतेहपुर थाना के गांव नानका में सोमवार रात कार सवार एक 40 वर्षीय सोलर प्‍लांट ठेकेदार की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई। पुलिस जांच में उसकी शिनाख्त सुभाष (पुत्र ओपी सिंह निवासी चुड़ियाल थाना भगवानपुर जनपद हरिद्वार) के रूप में हुई है। पुलिस ने खून से लथपथ शव को कब्जे में ले लिया है और परिजनों को घटना की बाबत जानकारी दी गई है। मृतक देहरादून में कार्यरत एक पत्रकार के भाई हैं।
एसयूवी के भीतर थी लाश
मंगलवार की सुबह ग्राम नानका के कुछ लोगों ने हाइवे के किनारे स्थित प्लाट में एक एसयूवी गाड़ी को देखा, इस गाड़ी के भीतर झांककर देखा तो चालक की सीट पर खून से लथपथ शव था। ग्रामीणों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। एसओ अमित शर्मा मय फ़ोर्स के मौके पर पहुंचे और उन्होंने गाड़ी व शव की तलाशी ली।
मृतक के परिजनों को किया सूचित
मृतक के पर्स से मिले आधार कार्ड आदि कागजात के आधार पर उसकी पहचान सुभाष (पुत्र ओपी सिंह निवासी चुड़ियाल थाना भगवानपुर जिला हरिद्वार) के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है और मृतक के परिजनों के पहुंचने का इंतजार कर रही है। सीओ सदर रजनीश उपाध्याय भी मौके पर पहुंचे है। हत्या का कारण अभी स्पष्‍ट नहीं हो सका है। पुलिस घटना की बारीकी से जांच कर रही है।
परिजन भी पहुंचे, एसएसपी ने जुटाई जानकारी
कार सवार व्यक्ति की गला रेत कर हत्या की घटना की सूचना पर एसएसपी और एसपी देहात भी मौके पर पहुंचे। मृतक के परिजन भी घटनास्‍थल पर पहुंच गए हैं। एसएसपी ने मृतक के परिजनों से बात की। बातचीत में यह बात सामने आई है कि मृतक बड़े सोलर प्लांट लगाने की ठेकेदारी का कार्य करते थे और वह सोमवार को सवेरे के समय घर से देहरादून के लिए निकले थे। कल शाम तक फोन पर परिजनों का उससे संपर्क भी होता रहा। इसके बाद उसका फोन स्विच ऑफ हो गया। मृतक मूल रूप से भगवानपुर थाना के चुड़ियाला के नजदीकी गांव महेशवरी गांव के रहने वाले हैं और वर्तमान में रुड़की के रामनगर में रह रहे थे। पुलिस मृतक के परिजनों से अभी और जानकारी जुटा रही है।
हत्या का मुकदमा दर्ज कराने को लगाया जाम
चकहरेटी में सोमवार शाम ट्रैक्टर-ट्राली निकालने को लेकर झगड़े में मारे गए पूर्व प्रधान के भाई की मौत के मामले में पुलिस ने गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज की है। इसके विरोध में मंग
सहारनपुर, जेएनएन। चकहरेटी में सोमवार शाम ट्रैक्टर-ट्राली निकालने को लेकर झगड़े में मारे गए पूर्व प्रधान के भाई की मौत के मामले में पुलिस ने गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज की है। इसके विरोध में मंगलवार को परिजनों ने ग्रामीणों के साथ जाम लगाकर हंगामा किया। उन्होंने एफआईआर को 302 में दर्ज करने की मांग की। करीब ढाई घंटे बाद एसपी सिटी के समझाने पर ग्रामीण शांत हुए और जाम खोला।
चकहरेटी गांव में सोमवार शाम गांव की ही सीमेंट की दुकान से कुछ लोग ट्रैक्टर-ट्राली में रेत-बजरी भरकर पूर्व प्रधान इसम सिंह की गली से गुजर रहे थे। इसी बात का विरोध करने पर पूर्व प्रधान के भाई सतीश (45) ने अधिक लोड से सड़क के खराब होने की बात कहकर उनका विरोध किया। जिसको लेकर दोनों पक्षों में मारपीट हो गई। उस समय तो कुछ लोगों ने दोनों पक्षों को समझाकर शांत करा दिया, लेकिन कुछ देर बाद फिर से हमलावर आए और सतीश की दुकान पर पहुंचकर उसके साथ मारपीट की, जिससे उनकी तबियत बिगड़ गई। अस्पताल पहुंचने पर सतीश को मृत घोषित कर दिया गया। मामले में पूर्व प्रधान की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज की थी। मंगलवार सुबह जब यह बात पता चली तो परिवार की महिलाएं व अन्य ग्रामीण बिफर गए। ग्रामीणों ने जाम लगा कर हंगामा शुरू कर दिया। गांव के कुछ जिम्मेदार लोगों ने समझाने का प्रयास किया, लेकिन महिलाएं समझने को तैयार नहीं थीं। इंस्पेक्टर राजेंद्र नागर की बात का भी असर नहीं हो रहा था। कुछ ही देर में एसपी सिटी, सीओ व अन्य थानों का फोर्स भी पहुंच गया। महिलाओं का कहना था कि पुलिस आरोपियों को बचाने में लगी है। मुकदमा धारा 304 के बजाए 302 के तहत दर्ज किया जाएगा। एसपी सिटी ने महिलाओं को समझाकर शांत कराकर जाम खुलवाया।गांव चकरहेटी में ट्रैक्टर निकालने को लेकर दो पक्षों के बीच झगड़ा हो गया, जो देखते ही देखते इतना बढ़ा कि अधेड़ को पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया। सरेशाम हुई वारदात के बाद हमलावर फरार हो गए। मौके पर पहुंच परिजनों ने पहले तो शव का बिना किसी कार्रवाई के ही अंतिम संस्कार करने की बात कही लेकिन पुलिस ने शव कब्जे में ले लिया है। समाचार लिखे जाने तक तहरीर नहीं दी गई।
सोमवार शाम करीब साढ़े पांच बजे गांव में ही सीमेंट स्टोर से कुछ लोग छोटे ट्रैक्टर-ट्राली में रेत-बजरी भरकर निकल रहे थे। पूर्व प्रधान इसम सिंह की गली से निकलते हुए गांव के ही सतीश (45) पुत्र दयाराम ने ट्रैक्टर निकलने का विरोध किया तो उनके बीच झगड़ा हो गया। सतीश बार-बार यही ट्राली में ज्यादा भार होने की वजह से रास्ता खराब होने की बात कर रहा था, लेकिन ट्रैक्टर चालक व उस पर सवार अन्य सुनने को तैयार नहीं थे। इसी बात पर इनके बीच गाली-गलौज के बाद मारपीट शुरू हो गई। झगड़े में सतीश बुरी तरह से जख्मी हो गए। शोर मचा तो अन्य दुकानदार भी दौड़ कर आए गए और हमलावर इधर-उधर भाग खड़े हुए। हालांकि दो हमलावर भी जख्मी हो गए थे। गंभीर रूप से सतीश को जिला अस्पताल लाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद शव लेकर परिजन गांव पहुंच गए। सरेशाम हुई हत्या की खबर से हड़कंप मच गया। थाने का चार्ज लेते ही इंस्पेक्टर राजेंद्र नागर तुरंत ही मौके पर पहुंचे तो परिजन बिना किसी कार्रवाई के ही अंतिम संस्कार करने की बात कहने लगे। इंस्पेक्टर ने बतायाकि उन्होंने शव को कब्जे में ले लिया है। उधर पता चला है झगड़े में घायल दो अन्य भी जिला अस्पताल पहुंचे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *