अम्बानी का खुला खजाना: कोरोना इलाज को अस्पताल, आपात सेवाओं को फ्री तेल, रोज 1 लाख मास्क उत्पादन

रिलायंस ने कहा है कि वो इस घड़ी में सरकार के साथ खड़ी है (मुकेश अम्बानी: फाइल फोटो)
मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक बड़ा संकल्प लिया है। आरआईएल ने अपनी ड्यूटी 24 घंटे 7 दिन देने का संकल्प लिया है।
रिलायंस ने कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए उत्पादन क्षमता बढ़ाकर एक लाख मास्क प्रतिदिन करने, कोविड 19 के मरीजों को ले जाने वाले वाहनों को मुफ्त ईंधन देने तथा विभिन्न शहरों में मुफ्त भोजन उपलब्ध कराने की घोषणा की है। कंपनी ने सोमवार को एक बयान में कहा कि उसकी सीएसआर (कंपनी सामाजिक जिम्मेदारी) इकाई द्वारा संचालित अस्पताल ने अपने एक अस्पताल में कोरोना वायरस मरीजों के लिये 100 बेड वाली एक इकाई स्थापित की है।
रिलायंस ने अपने कर्मचारियों को भी भरोसा दिया है कि वो स्थायी हों या कॉन्ट्रैक्ट बेस्ड,उन्हें सैलरी मिलती रहेगी- भले ही उनसे काम लिया जाए या नहीं। साथ ही जिन भी कर्मचारियों का वेतन 30,000 से कम है,उन्हें महीने में 2 बार वेतन दिया जाएगा ताकि उन्हें कैश की कमी न हो।
रिलायंस ने कोरोना वायरस को देखते हुए लोगों की मदद के लिए क़दम बढ़ाए हैं। रिलायंस ने कहा है कि वो संकट की इस घड़ी में सरकार की मदद करने के लिए तैयार है। रिलायंस ने सिर्फ़ दो सप्ताह में कोरोना वायरस के मरीजों के लिए अस्पताल बनाया है। ये देश का पहला ऐसा अस्पताल है, जो केवल कोरोना वायरस के मरीजों के लिए होगा। एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल ने भी कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का इलाज करने और क्वारंटाइन की सुविधा देने की घोषणा की है। साथ ही रिलायंस फाउंडेशन देश के विभिन्न शहरों में लोगों को मुफ्त भोजन भी देगा। ये काम कई एनजीओ के माध्यम से किया जाएगा।
महाराष्ट्र के लोधीवाली में भी एक आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है। रिलायंस लाइफ साइंस ने विदेश से मेडिकल कीटस इम्पोर्ट करने का फ़ैसला लिया है। डिमांड को पूरा करने के लिए कम्पनी ने प्रतिदिन 1 लाख फेस मास्क का निर्माण शुरू कर दिया है। इसके अलावा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए का दान दिया गया है। जियो ‘कोरोना हारेगा, इंडिया जीतेगा’ इनिशिएटिव शुरू किया है, जिसमें लोगों को घर में रह कर काम करने और परिवार व प्रियजनों से जुड़े रहने के लिए उत्साहित किया जा रहा है।
जियो हेल्थ केयर ने घोषणा की है कि वो लोगों को घर में रह कर ही कोरोना के लक्षण जाँच करने की सुविधा देना शुरू कर दिया है, जिससे अस्पतालों में आवश्यक रूप से भीड़ न बढ़े। रिलायंस ने तकनीक के माध्यम से सरकार द्वारा जारी की गई हेल्पलाइन नंबर को लोगों तक पहुँचाने में भी मदद करने का ऐलान किया है। जियो ने बिना किसी सर्विस चार्ज के लोगों के घर तक ब्रॉडबैंड पहुँचाने का फ़ैसला लिया है, जिससे लोग ‘वर्क फ्रॉम होम’ कर सकें। साथ ही अब जियो धारकों को ज्यादा वॉइस कॉल डेटा भी दिया जाएगा।
CNBC-TV18

@CNBCTV18Live
Reliance announces further steps up its support to India’s fight against #Coronavirus #CoronaHaaregaIndiaJeetega @flameoftruth
1,207
17:01 – 23 Mar 2020
831 people are talking about this
साथ ही सभी इमरजेंसी सेवाओं की गाड़ियों को रिलायंस अपने पेट्रोल पम्प्स पर मुफ्त में तेल भी देगा। पूरे देश में रिलायंस के 736 ग्रोसरी स्टोर्स हैं, जिन्हें लोगों के डिमांड्स को पूरा करने के लिए तैयार किया जा रहा है। अब ये सभी स्टोर्स सुबह 7 बजे से रात 11 बजे तक खुले रहेंगे। इन स्टोर्स में सब्जियों व अन्य चीजों का इंतजाम किया जाएगा। साथ ही बुजुर्गों के लिए होम डिलीवरी की व्यवस्था की जाएगी।
रिलायंस ने अपने कर्मचारियों को भी भरोसा दिया है कि वो स्थायी हों या कॉन्ट्रैक्ट बेस्ड, उन्हें सैलरी मिलती रहेगी- भले ही उनसे काम लिया जाए या नहीं। साथ ही जिन भी कर्मचारियों का वेतन 30,000 से कम है, उन्हें महीने में 2 बार वेतन दिया जाएगा ताकि उन्हें कैश की कमी न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *