मुद्रा लोन योजना बड़ा खुलासा,लेने वालों ने नहीं लौटाए ₹18 हजार करोड़

मुद्रा लोन योजना में बड़ा खुलासा, लोन लेने वालों ने नहीं लौटाए ₹18 हजार करोड़करीब ₹18 हजार करोड़ का मुद्रा लोन बना बैड लोन
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 अप्रैल, 2015 को नॉन-कॉर्पोरेट, नॉन-फार्म/लघु, सूक्ष्म उद्यमों (SME) को रोजगार पैदा करने और आसानी से वित्तीय मदद पहुंचाने के लिए 10 लाख रुपये तक के कोलैटरल फ्री लोन बांटने के लिए पीएमएमवाई (PMMY) की शुरुआत की थी
नई दिल्ली. सरकार ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) में बांटे गए 6.04 लाख करोड़ रुपये लोन में से 3 फीसदी लोन यानी 18,000 करोड़ रुपये बैड लोन (Bad Loan) में बदल गए हैं. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 8 अप्रैल, 2015 को नॉन-कॉर्पोरेट, नॉन-फार्म/लघु, सूक्ष्म उद्यमों (SME) को रोजगार पैदा करने और आसानी से वित्तीय मदद पहुंचाने के लिए 10 लाख रुपये तक के कोलैटरल फ्री लोन बांटने के लिए पीएमएमवाई (PMMY) की शुरुआत की थी.
राज्यसभा में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना पर एक प्रश्न के लिखित जवाब में वित्त राज्य मंत्री (Minister of State for Finance) अनुराग ठाकुर ने कहा, PMMY के लागू करने के संबंध में कई शिकायतें प्राप्त हुई हैं, जिनमें लोन के लिए आवेदनों को बंद करना, टर्न-अराउंड-टाइम (TAT) में देरी और कुछ मौकों पर लेंडर्स द्वारा कोलैटरल/गारंटर की मांग करना शामिल है.करीब 18 हजार रुपये बना बैड लोन- वित्त राज्य मंत्री ने कहा, शेड्यूलड कमर्शियल बैंकों (SCBs) और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों (RRBs) से मिली जानकारी के मुताबिक, मार्च 2019 तक PMMY के तहत कुल 6.04 लाख करोड़ रुपये के लोन बांटे गए. योजना की शुरुआत के बाद से इनमें से 17,251.52 करोड़ रुपये की राशि नॉन-परफॉर्मिंग एसेट्स (NBP) में बन गई, यह कुल बांटे गए लोन का 2.86 फीसदी है.
तीन कैटगरी में बांटे गए हैं लोन- PMMY में मुद्रा लोन को तीन भागों में बांटा गया है. ये लोन शिशु (Shishu), किशोर (Kishore) और तरुण (Tarun) के तहत दिए जाते हैं.
एक अन्य सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा कि पिछले 5 वित्तीय वर्षों के दौरान मार्च 2019 के अंत तक सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSBs) की कुल शाखाओं की संख्या 87,580 हो गई है, जो मार्च 2014 तक 78,939 थी.
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में आपको कैसे मिल सकता है लोन?
PMMY के तहत मिलने वाले लोन की खास बात यह है कि इसके तहत लोन लेने वाले चार लोगों में से तीन महिलाएं हैं.केंद्र सरकार ने छोटे उद्यम शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) शुरू की है. इसके तहत लोगों को अपना उद्यम (कारोबार) शुरू करने के लिए छोटी रकम का लोन दिया जाता है. यह योजना अप्रैल 2015 में शुरू हुई थी.
क्या है मुद्रा योजना (PMMY) का मकसद?
केंद्र सरकार की मुद्रा योजना (PMMY)के दो उद्देश्य हैं. पहला, स्वरोजगार के लिए आसानी से लोन देना. दूसरा, छोटे उद्यमों के जरिए रोजगार का सृजन करना.
अगर आप भी अपना कारोबार शुरू करने के लिए पूंजी की समस्या का सामना कर रहे हैं तो केंद्र सरकार की PMMY से आप अपने सपने को साकार कर सकते हैं. सरकार की सोच यह है कि आसानी से लोन मिलने पर बड़े पैमाने पर लोग स्वरोजगार के लिए प्रेरित होंगे. इससे बड़ी संख्या में रोजगार के मौके भी बनेंगे. मुद्रा योजना (PMMY) से पहले तक छोटे उद्यम के लिए बैंक से लोन लेने में काफी औपचारिकताएं पूरी करनी पड़ती थीं. लोन लेने के लिए गारंटी भी देनी पड़ती थी. इस वजह से कई लोग उद्यम तो शुरू करना चाहते थे, लेकिन बैंक से लोन लेने से कतराते थे.
महिलाओं पर फोकस
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) का पूरा नाम माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट रीफाइनेंस एजेंसी (Micro Units Development Refinance Agency) है. मुद्रा योजना (PMMY) की खास बात यह है कि इसके तहत लोन लेने वाले चार लोगों में से तीन महिलाएं हैं.
PMMY के लिए बनाई गयी वेबसाइट के मुताबिक 23 मार्च 2018 तक मुद्रा योजना के तहत 228144 करोड़ रुपये के लोन मंजूर किये जा चुके हैं. सरकार ने मुद्रा योजना के तहत इस साल 23 मार्च तक 220596 करोड़ रुपये के लोन बांटे हैं.
क्या हैं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के लाभ?
मुद्रा योजना (PMMY) में बिना गारंटी के लोन मिलता है. इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है. मुद्रा योजना (PMMY) में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है. लोन लेने वाले को एक मुद्रा कार्ड मिलता है, जिसकी मदद से कारोबारी जरूरत पर आने वाला खर्च किया जा सकता है.
कौन ले सकता है मुद्रा योजना (PMMY)में लोन?
कोई भी व्यक्ति जो अपना व्यवसाय शुरू करना चाहता है, वह PMMY के तहत लोन ले सकता है. अगर आप मौजूदा कारोबार को आगे बढ़ाना चाहते हैं और उसके लिए पैसे की जरूरत है तो आप प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) में 10 लाख रुपये तक के लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *