तेलंगाना दुष्कर्म-हत्या /सभी आरोपितों को लटकाएं फांसी,वकीलों का पैरवी से इनकार

शादनगर में आरोपितों को फांसी की मांग को लेकर प्रदर्शन करते लोग।
घटना के खिलाफ स्कूली बच्चों ने हैदराबाद-बेंगलुरु हाइवे जाम किया।
हैदराबाद में वेटरनरी डॉक्टर की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या के खिलाफ देशभर में आक्रोश
लोगों ने हैदराबाद-बेंगलुरु हाईवे जाम किया, दिल्ली में संसद के सामने स्कूली छात्रा ने धरना दिया
चारों आरोपियों की महबूबनगर के फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेशी, लोगों ने शादनगर थाने का घेराव किया
हैदराबाद. तेलंगाना के रंगा रेड्‌डी जिले में 26 वर्षीय वेटरनरी डॉक्टर की दुष्कर्म के बाद हत्या से देशभर में आक्रोश है। शनिवार को हैदराबाद के शादनगर थाने के बाहर लोगों ने प्रदर्शन किया। कुछ लोगों ने आरोपियों को बिना किसी सुनवाई के फांसी पर चढ़ाने या उनका एनकाउंटर करने की मांग की। इस बीच, स्थानीय बार एसोसिएशन ने आरोपियों की पैरवी से इनकार कर दिया। पुलिस ने कोर्ट में आरोपितों की पेशी के दौरान सुरक्षा बढ़ाई।
वेटरनरी डॉक्टर घर से करीब 30 किलोमीटर दूर स्थित हॉस्पिटल में काम करती थी। घर लौटते वक्त बुधवार रात उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म हुआ। इसके बाद गुरुवार सुबह डॉक्टर का शव अधजली हालत में मिला था। शुक्रवार को ही शम्शाबाद में शुक्रवार को एक और महिला का जला हुआ शव मिला।
महिला डॉक्टर से दरिंदगी का मामला शुक्रवार को देशभर में सुर्खियों में आया। इसके बाद साइबराबाद पुलिस ने चार आरोपियों, मोहम्मद अरीफ, जोलू शिवा, जोलू नवीन और चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु को गिरफ्तार किया। आरिफ की उम्र 26 साल है, जबकि बाकी आरोपियों की उम्र 20 साल है। सभी की गिरफ्तारी नारायणपेट जिले से हुई। ये सभी ट्रक ड्राइवर और क्लीनर हैं, जिन्होंने शराब पीने के बाद 7 घंटे तक डॉक्टर के साथ दरिंदगी की थी। इसके बाद पीड़ित को शादनगर के बाहरी इलाके में जला दिया था।
कोई वकील आरोपितों का केस नहीं लड़ेगा: बार एसोसिएशन
शादनगर के स्थानीय कोर्ट से संबंधित बार एसोसिएशन ने घटना के चारों आरोपियों का केस लड़ने से इनकार कर दिया है। बार एसोशिएसन ने कहा- कोई भी वकील अदालत में चारों आरोपितों की पैरवी करने नहीं जाएगा और उन्हें कानूनी सहायता भी उपलब्ध नहीं कराई जाएगी। दुष्कर्म और हत्या के आरोपितों को महबूबनगर के फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया गया।
महिला सुरक्षा के मुद्दे पर हैदराबाद से दिल्ली तक प्रदर्शन
डॉक्टर की हत्या और दुष्कर्म के खिलाफ हैदराबाद में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बेंगलुरु हाईवे जाम कर दिया। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे भी शामिल हुए। राजधानी दिल्ली में भी घटना के बाद महिला सुरक्षा के मुद्दे पर छात्रा ने संसद के बाहर प्रदर्शन किया। इस बीच, शनिवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम भी वेटरनरी डॉक्टर के घर पहुंची। तेलंगाना की राज्यपाल डॉ. तमिलिसई सुंदरराजन ने भी पीड़ित के परिजन से मुलाकात की।
तेलंगाना में एक और महिला का जला हुआ शव मिला
शम्शाबाद के सिद्दुला गुट्टा मंदिर इलाके में शुक्रवार को एक और महिला का जला हुआ शव मिला। यह क्षेत्र आरजीआई एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन की जद में आता है। डीसीपी प्रकाश रेड्डी ने बताया कि पुलिस को स्थानीय लोगों से सूचना मिली थी कि मंदिर के पास एक महिला का शव जल रहा है। हालांकि, लोगों ने आग बुझाने की कोशिश की, मगर वे नाकाम रहे। शव करीब 35 वर्षीय महिला का है, उसकी पहचान नहीं हो पाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *