दरिंदगी:पिता के दोस्त ने किया 6 वर्षीय बच्ची का रेप,गला घोंटा,हथौड़े से कूटा माथा,अंत में काटा गला

खून में लथपथ बच्ची आरोपित बबलू के घर में मिली. परिवारीजन और पुलिस उसे तत्‍काल ट्रॉमा सेंटर (Trauma Centre) लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने मासूम को मृत घोषित कर दिया.
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राजधानी लखनऊ के ठाकुरगंज के बाबा हजारा बाग में छह वर्षीय मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या करने वाले बबलू उर्फ अराफत मिर्जा को पुलिस ने सोमवार दोपहर जेल भेज दिया। देर शाम आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची के साथ रेप किए जाने की पुष्टि हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक बच्ची की मौत गला दबाने और दम घुटने से हो गई थी। पर, यह सुनिश्चित करने के लिए की बच्ची मर गई है, बबलू ने उस पर हमला जारी रखा। उसने हथौड़े से बच्ची के माथे और आंख पर वार किया। इसके बाद चाकू से उसका गला रेत दिया था। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर भी शरीर के जख्म देख सकते में आ गए।
एएसपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि आरोपित बबलू उर्फ अराफत से देर रात तक पूछताछ की गई। इस दौरान उसने जुर्म कबूल लिया। बच्ची आरोपित के घर में तख़्त के नीचे खून से लथपथ मिली. परिवारीजन और पुलिस उसे लेकर तत्‍काल ट्रॉमा सेंटर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. वारदात के बाद से ही इलाके में तनाव है. देर रात पुलिस ने आरोपित बबलू उर्फ़ बच्चन को गिरफ्तार कर लिया.
सआदतगंज थाना क्षेत्र में गढ़ी पीर खां निवासी आरोपित बबलू बच्ची के पिता का परिचित है. बच्ची के पिता ठेला चलाते हैं. शाम करीब 4 बजे वह घर के बाहर खेल रही थी. उसी वक्त बबलू वहां पहुंचा. वह बच्ची को फुसलाकर अपने घर ले गया. पुलिस के मुताबिक, बबलू ने दुष्कर्म के बाद पहचाने जाने के डर से बच्ची की चाकू या किसी नुकीली चीज हत्‍या कर दी. शाम 6 बजे तक जब बच्ची घर नहीं पहुंची तो परिवार ने उसे खोजना शुरू किया. बच्ची की नानी ने बताया कि उसे बबलू लेकर गया है.
जब फोन पर बबलू से पूछा गया तो उसने जानकारी होने से मना कर दिया. इसके बाद जब बच्ची का पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी गई. पिता ने बबलू पर बच्ची को गायब करने का शक जताया. इस पर पुलिस बबलू के ठाकुरगंज के हजाराबाग स्थित घर पहुंची. वहां बबलू नशे की हालत में मिला. पुलिस उसे अपने साथ ले आई. पूछताछ में आरोपित पुलिस को गुमराह करने का प्रयास करता रहा. इसी दौरान बच्ची के घरवाले दोबारा आरोपित के घर पहुंच गए. परिवारीजनों के दबाव पर पुलिस ने बबलू के घर के दरवाजे पर लगा ताला तोड़ा. तलाशी में बेड के नीचे बच्ची की लाश निर्वस्‍त्र अवस्था में खून से लथपथ मिली. उसके गले पर धारदार हथियार से हमले के कई निशान थे.पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल चाकू और हथौड़ा बरामद कर लिया। पुलिस ने उसके कपड़े बरामद कर लिए हैं, जिन पर बच्ची का खून लगा है। उसने तौलिया से फर्श पर फैला खून भी साफ किया था। पुलिस ने यह तौलिया भी बरामद कर लिया है। इन सभी चीजों को विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा गया है।
डॉक्टरों के पैनल ने किया पोस्टमार्टम: सोमवार को चार डॉक्टरों के पैनल ने बच्ची के शव का पोस्टमार्टम किया। डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची का गला व मुंह दबाया गया था, जिससे उसका दम घुट गया था। उसके माथे और दाहिनीं आंख की भौंहों के पास हथौड़े की चोट के गहरे निशान मिले हैं। उसकी गर्दन पर साढ़े छह सेंटीमीटर का ढाई इंच गहरा कट मिला है। बच्ची के सीने, जांघ और पीठ पर भी हलकी चोटों के निशान मिले हैं। इससे प्रतीत होता है कि आरोपी ने उसे बुरी तरह मारापीटा था। बच्ची के नाजुक अंगों में चोट के निशान मिले हैं। फोरेंसिक जांच के लिए स्वाब बनाया गया है।
वकीलों ने आरोपित को धुना : दोपहर में सआदतगंज पुलिस उसे लेकर कोर्ट पहुंची। पुलिस उसे गैलरी से ले जा रही थी, तभी वकीलों ने उस पर हमला कर दिया। हालांकि, पुलिस ने उसे तुरन्त ही बचा लिया। उसे 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है।
पोक्सो एक्ट में केस दर्ज
एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि बबलू के खिलाफ दुष्कर्म, हत्या व पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। अकाट्य साक्ष्यों की मदद से आरोपित को कठोर सजा दिलाई जाएगी। इसका मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा। तहरीर में बबलू के साथ ही उसके परिवार को भी आरोपित बनाया गया है.
दो बेटियों का बाप और ऐसी दरिंदगी!
पुलिस के मुताबिक अराफत की डेढ़ साल और छह महीने की दो बेटियां हैं। जांच में सामने आया कि अराफत नशे का लती है। उसकी हरकतों से परेशान पत्नी बच्चों के साथ मायके में रह रही है। सोमवार को बच्ची के घर पर इक्ट्ठा हुए लोग यही चर्चा कर रहे थे कि दो बेटियों का बाप, इतनी घिनौनी हरकत कैसे कर सकता है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *