गुरूवार शाम 80 नये कोरोना केसों में दून से 28,प्रदेश में 2102

प्रदेश में आज कोरोना के 80 नए मामले, 2102 पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा
उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2102 हो गई है. इसके साथ ही प्रदेश में अब तक 1386 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

देहरादून: उत्तराखंड में आज कोरोना के 80 केस मिले हैं, जिसके बाद कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 2102 पहुंच गया है. इसके साथ ही आज 124 मरीजों ने कोरोना से जंग जीत ली है, जिसके बाद स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 1386 पहुंच गई है. वहीं, इलाज के दौरान अब तक 26 संक्रमितों की मौत हो गई है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग का मानना है कि इन मरीजों की मौत अन्य बीमारियों की वजह से हुई है.
राजधानी देहरादून में कोरोना संक्रमितों की संख्या 562 पहुंच गई है, जबकि ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 363 पहुंच गई है. वहीं, नैनीताल में कोरोना मरीजों की संख्या 352 पहुंच गई है. टिहरी में 318 और हरिद्वार में कोरोना के 246 केस हैं.देहरादून में 28, पौड़ी में 19, नैनीताल में छह, रूद्रप्रयाग में चार, चमोली में तीन संक्जिरमित मिले हैं।लेवार संक्रमितों की संख्या
टिहरी के जिला सर्विलांस अधिकारी सहित 80 और संक्रमित, कुल 132 मरीज डिस्चार्ज
वर्तमान में प्रदेश में 676 एक्टिव केस हैं,जबकि कोरोना संक्रमित 26 लोगों की मौत भी हो चुकी है। इसके अलावा कोरोना पॉजीटिव 14 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं। गुरुवार को 80 केस पॉजीटिव हैं। इनमें सर्वाधिक 28 मामले जनपद देहरादून से हैं। इसके अलावा पौड़ी में भी 19 नए मामले आए हैं।

टिहरी में डाक्टर की रिपोर्ट आई पॉजिटिव

टिहरी में जिला सर्विलांस अफसर में कोरोना की पुष्टि हुई। आज ही सुबह उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सर्विलांस अधिकारी के रूप में तैनात डॉक्टर सीएमओ कार्यालय में दिन सीएमओ और अन्य डाक्टरों के संपर्क में आए। वहीं, डीएफओ टिहरी के साथ भी कांटेक्ट डिटेल में काम कर रहे थे। अब सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों और अधिकारियों को क्वारंटाइन सेंटर में भेजने की तैयारी है। टिहरी में सीएमओ कार्यालय का गेट बंद किया। किसी को भी सीएमओ कार्यालय में प्रवेश की अनुमति नहीं है।

मंडी समिति ऋषिकेश के अध्यक्ष और पूर्व सभासद की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव

कृषि उत्पादन मंडी समिति ऋषिकेश के अध्यक्ष और पूर्व सभासद की कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इन दोनों को सीमा डेंटल कॉलेज कोविड केयर सेंटर में आइसोलेट किया गया है। शेष पांच लोगों को एम्स ऋषिकेश भेजा गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम मंडी समिति अध्यक्ष की पत्नी और पुत्र को जांच कराने एम्स ले गई है। इन्हें सीमा डेंटल कॉलेज में क्‍वारंटाइन किया जाएगा। जो सात लोग पॉजिटिव आए हैं, उनमें दो लोग मंडी समिति परिसर में रहते हैं। चार लोग आवास विकास कॉलोनी में रहते हैं। आईडीपीएल चौकी प्रभारी चिंतामणि मैठाणी के साथ राजस्व उपनिरीक्षक सतीश जोशी और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आवास विकास क्षेत्र का निरीक्षण किया। दो पॉजिटिव लोगों के लिए एक कंटेनमेंट जोन और अन्य एक-एक पॉजिटिव व्यक्ति के लिए दो कंटेनमेंट जोन नए बनाए गए हैं।
मंडी समिति अध्यक्ष विनोद कुकरेती का आवास जनपद टिहरी के मुनिकीरेती क्षेत्र में है। उप जिलाधिकारी नरेंद्र नगर युक्ता मिश्रा अधिशासी अधिकारी मुनिकीरेती बद्री प्रसाद भट्ट, चौकी प्रभारी कैलाश गेट विकेद्र कुमार उनके गृह क्षेत्र भजन गढ़ कैलाश आश्रम मार्ग का निरीक्षण करने पहुंचे हैं। इस पूरे क्षेत्र को कंटेनमेंट क्षेत्र में परिवर्तित किया जा रहा है।
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार,ताजा मामले में 602 सैंपलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। इनमें 521 मामलों में रिपोर्ट निगेटिव और 81 की पॉजिटिव आई है। इनमें देहरादून में सर्वाधिक 35 मामले हैं। इनमें कृषि उत्पादन मंडी समिति ऋषिकेश के अध्यक्ष सहित मंडी से जुड़े सात लोग पॉजिटिव हैं।
इसके अलावा एक निजी अस्पताल की दो स्टाफ नर्स में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। वहीं,सचिवालय की महिला समीक्षा अधिकारी,उनकी मां व बेटे की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कुछ दिन पूर्व ही कोरोना पॉजिटिव उनके पिता की मृत्यु हो चुकी है। जिसके बाद एहतियातन उनके सैंपल लिए गए थे।
वहीं दिल्ली से लौटे चार,बिहार से लौटे एक शख्स सहित 17 अन्य लोग भी संक्रमित मिले हैं। जबकि एक पूर्व में पॉजिटिव आए शख्स के संपर्क में आया व्यक्ति है। अल्मोड़ा में 14 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें 11 लोग दिल्ली से लौटे हुए हैं,जबकि तीन की कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। टिहरी में भी नौ और संक्रमित मिले हैं। ये पुणो व मुंबई से लौटे हैं।
नैनीताल में भी दिल्ली, मुंबई व गाजियाबाद से लौटे आठ और लोग संक्रमित मिले हैं। हरिद्वार में दिल्ली से लौटे दो लोगों सहित तीन की रिपोर्ट पॉजिटिव है। बागेश्वर में संक्रमित मिले पांच लोग दिल्ली, मुंबई व गुरुग्राम से लौटे हैं। रुद्रप्रयाग में दो मामले सामने आए हैं। ये पूर्व में संक्रमित पाए गए मरीज के संपर्क में आए हुए लोग हैं।
वहीं ऊधमसिंहगर में दिल्ली से लौटे दो लोग संक्रमित मिले हैं। जबकि एक व्यक्ति पूर्व में पॉजिटिव पाए गए शख्स के संपर्क में आकर संक्रमित हुआ। पौड़ी व उत्तरकाशी में भी एक-एक पॉजिटिव मरीज मिला है। ये मुरादाबाद व दिल्ली से लौटे हैं।
उधर, हल्द्वानी में कोरोना संक्रमित 18 वर्षीय युवक की मौत हो गई है। युवक दिल्ली से लौटा था और पहले बागेश्वर के कोविड केयर सेंटर और फिर हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज में भर्ती रहा। बुधवार को 38 लोग डिस्चार्ज भी किए गए हैं। देहरादून से चौदह, चमोली व हरिद्वार से तीन-तीन, नैनीताल व पौड़ी में 16 और उत्तरकाशी से दो मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं।

सात लोग संक्रमित मिलने पर ऋषिकेश मंडी सील

ऋषिकेश क्षेत्र में अभी तक सिविल सोसाइटी का इलाका कोरोना वायरस संक्रमण से अछूता था। अब कृषि उत्पादन मंडी समिति परिसर में वायरस ने पैर पसार लिए हैं। यहां मंडी समिति अध्यक्ष सहित छह अन्य लोगों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिला प्रशासन ने देर रात मंडी को सील करने के आदेश दे दिए हैं। आदेश मिलते ही पुलिस ने मंडी के दोनों गेट बंद कराए। सब्जी व फलों की आपूर्ति को विकल्प तलाशे जा रहे हैं।
देहरादून निरंजनपुर स्थित कृषि उत्पादन मंडी समिति में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ रहे मामलों को देखते हुए कृषि उत्पादन मंडी समिति ऋषिकेश की ओर से कृषि मंत्री सुबोध उनियाल से यहां भी रैंडम सैंपलिंग कराने का आग्रह किया गया था। 13 जून को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ऋषिकेश कृषि मंडी समिति में रैंडम सैंपलिंग कर 97 लोगों के सैंपल लिए गए थे। जिनमें मंडी समिति अध्यक्ष, कर्मचारी, व्यापारी, ट्रांसपोर्टर और पल्लेदार शामिल थे। इन सभी के सैंपल को जांच के लिए चंडीगढ़ लैब भेजा गया था। वहां से जांच रिपोर्ट बुधवार को आई। इनमें मंडी समिति अध्यक्ष सहित छह अन्य लोगों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

कोटद्वार में एक ही परिवार के पांच संक्रमित

कोटद्वार के मोहल्ला गोविंद नगर निवासी तीन और लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। बीती देर रात जारी एक जांच रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई। इस परिवार के अब तक पांच लोग संक्रमित हैं। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि गोविंद नगर निवासी एक व्यापारी व उसकी मां पूर्व में ही कोरोना संक्रमित पाए गए थे। बताया बीती रात जारी जांच रिपोर्ट में इसी परिवार के तीन अन्य सदस्य भी करुणा संक्रमित पाए गए हैं।
इससे पूर्व ‌बुधवार दोपहर को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में परिवार के दो सदस्यों की कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। बताया कि कोरोना संक्रमित पाए गए तीनों लोगों के संपर्क में आए अन्य लोगों की तलाश शुरू कर दी गई है। बताना जरूरी है कि व्यापारी व उसकी माता के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद मोहल्ला गोविंद नगर को प्रशासन ने पूरी तरह सील कर दिया।
साथ ही प्रशासन ने मालिनी मार्केट व जिला परिषद मार्केट को भी तीन दिन के लिए बंद कर दिया था। आज से यह दोनों मार्केट भी खोली जानी है। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि परिवार के तीन सदस्यों की पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद अब व्यापारियों से वार्ता कर मार्केट खोले जाने को लेकर चर्चा की जाएगी।
दून अस्पताल बना सेंटर ऑफ एक्सीलेंस

केंद्र सरकार के निर्देशों के क्रम में प्रदेश सरकार ने दून अस्पताल को उत्तराखंड में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस घोषित किया है। डॉक्टर अनुराग अग्रवाल को इसका नोडल अधिकारी नामित किया गया है। प्रदेश सरकार से दून अस्पताल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस घोषित होने पर अब यह प्रदेश के सभी अस्पतालों को कोरोना के इलाज के संबंध में गाइड करेगा। इसमें इन अस्पतालों पर निगरानी रखने और मार्ग दिखाने के साथ ही उपकरणों की खरीद के संबंध में दिशा-निर्देश जारी करेगा। इसके अलावा प्रशिक्षण दिलवाने के साथ ही इलाज के तरीकों
कोरोना संक्रमितों का आंकड़ावहीं, देशभर में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 3,66,946 पहुंच गया है. कोरोना से अब तक 12,237 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके साथ ही अब तक 1,94,325 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. देश में कोरोना के एक्टिव केस 1,60,384 हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *