महोबा, । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जसोदा बेन पहली बार महोबा आईं तो स्वागत के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। इससे पहले वह मऊरानीपुर से पनवाड़ी और कुलपहाड़ होते हुए यहां पहुंचीं तो रास्ते में जगह जगह उनका स्वागत किया गया। साहू आवास पहुंचे से पहले मुस्लिम महिलाओं ने फूल बरसाकर और माला पहनाकर उनका स्वागत किया। यहां पर वह चरखारी के मंदिर में दर्शन पूजन भी करेंगी। हालांकि अधिकारिक तौर प्रशासन ने उनके दौरे की पुष्टि नहीं की लेकिन खुफिया से मिली जानकारी के आधार पर सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता की गई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदा बेन का प्रथम बार महोबा आगमन हुआ है। इसके चलते लोगों में बेहद उल्लास नजर आ रहा है। उन्हें देखने के लिए भी आसपास से लोग शहर में पहुंच गए हैं। वह मऊरानीपुर से वाया पनवाड़ी कुलपहाड़ होते हुए महोबा शहर के बड़ीहाट मोहल्ला पहुंचीं। काफिला जैसे ही गांव पहुंचा तो लोग मोदी मोदी के नारे लगाने लगे। भाजपाइयों ने महोबकंठ थाने के पास स्वागत किया। यहां से पनवाड़ी बाईपास, कुलपहाड़ गोंदी चौराहा, सूपा रेलवे स्टेशन के पास के बाद शहर सीमा पर प्राचीन हनुमान मंदिर के पास भाजपा जिलाध्यक्ष जीतेंद्र सिंह सेगर, कोऑपरेटिव बैंक चेयर मैन चक्रपाणि त्रिपाठी, युवा मोर्चा अध्यक्ष अंकुर शवहरे ने स्वागत किया।

यहां से बड़ी हाट साहू आवास में पहुंचने से पहले मदरसा दारुल उलूम समदिया गेट पर मदरसा प्रबंध समिति के लोगों के साथ मुस्लिम महिलाओं ने स्वागत किया। जसोदा बेन पर फूल बरसाए और माल्यापर्ण किया। इसके बाद वह वाहन से उतरकर जगत नारायण साहू के घर गईं, जहां पर परिवार से सदस्यों के साथ औपचारिक वार्ता करते हुए विश्राम किया। जगत नारायण पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष राम किशोर साहू के साले हैं।

यहां से वह सरकारी गेस्ट हाउस निर्माण भवन में शाम तक विश्राम करेंगी और चरखारी के गुमान बिहारी मंदिर में दर्शन के बाद भाजपा जिला अध्यक्ष जीतेंद्र सिंह के आवास पर भोजन का कार्यक्रम तय है। रात को विरमा भवन में विश्राम के बाद सुबह ललितपुर के लिए प्रस्थान करेंगी। उनके कार्यक्रम की प्रशासन ने पुष्ट नहीं की लेकिन, खुफिया की जानकारी के आधार पर सुरक्षा में  पुलिस बल भी तैनात किया गया है।