15 साल की हरियाणवी छोरी का कमाल, तोड़ा तेंदुलकर का 30 साला वर्ल्ड रिकॉर्ड

शेफाली वर्मा ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 मैच में अर्धशतक जड़ा
15 साल की उम्र में शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने वेस्टइंडीज के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना पहला अर्धशतक जड़ा.
ग्रोस आइलेट. भारत की उभरती बल्लेबाज 15 साल की शेफाली वर्मा (Shafali Verma) ने आखिरकार सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ ही दिया है. शेफाली अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अर्धशतक जड़ने वाली सबसे युवा भारतीय खिलाड़ी बन गई हैं. उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच में 49 गेंदों पर 73 रन बनाए. इस युवा बल्‍लेबाज ने 15 साल 285 दिन की उम्र में यह उपल‌‌ब्धि हासिल की. इस तरह से उन्होंने मास्टर ब्लास्‍टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को भी पीछे छोड़ दिया है.
सचिन ने अपने करियर का पहला अर्धशतक 16 साल 214 दिन की उम्र में जड़ा था. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला अर्धशतक लगाया था. हरियाणा की शेफाली ने पिछले महीने ही साउथ अफ्रीका के खिलाफ इंटरनेशनल टी20 में कदम रखा था और दूसरे ही मैच में 46 रन की पारी खेली थी.
भारत ने दर्ज की बड़ी जीत
हरमनप्रीत कौर की अगुआई में टीम इंडिया (Team India) ने वेस्‍टइंडीज के खिलाफ पहले टी20 मैच में 84 रनों से बड़ी जीत हासिल की. पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने शेफाली और स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) की अर्धशतकीय पारियों में दम पर निर्धारित ओवर में चार विकेट के नुकसान पर 185 रन बनाए. जवाब में भारतीय गेंदबाजों की आक्रामक गेंदबाजी के सामने कैरेबियाई टीम टिक नहीं पाई और निर्धारित ओवर में 101 रन ही बना सकी.शेफाली वर्मा ने 15 साल 285 दिन की उम्र में यह उपल‌‌ब्धि हासिल की
शेफाली ने की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी
शेफाली और मंधाना ने मिलकर टीम इंडिया(Team India) को मजबूत शुरुआत दिलाई. शेफाली ने अपनी पारी में 49 गेंदों पर छह चौके और चार छक्के लगाकर 73 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली. वहीं मंधाना ने 46 गेंदों में 11 चौके लगाकर 67 रन बनाए. भारत को पहला झटका 143 रन पर शेफाली के रूप में लगा. हालांकि शेफाली का विकेट गिरने के कुछ देर बाद मंधाना भी अपना विकेट गंवा बैठी. हरमनप्रीत कौर ने नाबाद 21 रन बनाए, जबकि पूजा वस्‍त्राकर अपना खाता तक नहीं खोल पाई. दीप्ति शर्मा तीन और वेदाकृष्‍णामूर्ति 15 रन पर नाबाद रहीं.
भारतीय अटैक के सामने नहीं टिक पाई कैरेबियाई टीम
भारतीय बल्लेबाजों के कमाल के बाद भारतीय गेंदबाजों ने भी कैरेबियाई टीम को परेशान करने में कमी नहीं छोड़ी. वेस्टइंडीज की ओर से कैंपबेल ने सर्वाधिक 33 रन बनाए. उनके अलावा कोई और बल्लेबाज 15 रन को पार तक नहीं कर पाया. शिखा पांडे (Shikha Pandey), राधा यादव और पूनम यादव को दो-दो सफलता मिली. दीप्ति शर्मा और पूजा वस्त्राकर को एक-एक सफलता मिली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *