उत्तराखंड में कोरोना विस्फोट,एक दिन में नौ पॉजिटिव केस

उत्‍तराखंड में एक दिन में कोरोना के सर्वाधिक नौ मामले आए सामने
देहरादून। प्रवासियों के उत्तराखंड पहुंचने के बाद से ही प्रदेश में कोरोना वायरस का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। शनिवार को भी प्रदेश में नौ नए मामले सामने आए हैं। इनमें चार दून अस्पताल में भर्ती संक्रमित मरीजों के परिजन हैं। इन्हें भी संदिग्ध मानकर इनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव निकली है। इसके साथ ही चार मामले ऊधमसिंहनगर और एक नैनीताल जिले में सामने आए हैं।
ऊधमसिंह नगर में मुंबई और गुरुग्राम से घर लौटे दो युवकों में कोरोना संक्रमण पाया गया है। इनमें से एक को रुद्रपुर जिला अस्पताल और दूसरे को एलडी भट्ट चिकित्सालय काशीपुर में आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है। कोरोना वॉर्ड के चिकित्सक दोनों युवकों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री का पता कर रहे हैं,जिससे संक्रमण फैलने से रोका जा सके।
आज मिले नौ नए पॉजिटिव मामले, कुल मरीजों का आकड़ा पहुंचा 91
वहीं राज्य में 91 में से 51 मरीज ठीक हो चुके हैं। शनिवार को नौ नए संक्रमित मामले सामने आने से स्वास्थ्य विभाग में भी हड़कंप मचा है। प्रदेश में अब तक एक ही दिन में सर्वाधिक नौ कोरोना संक्रमित मामले शनिवार को मिले हैं।
संक्रमितों में एक काशीपुर, एक किच्छा और दो लोग जसपुर के हैं। इन्हें मिलाकर प्रदेश में अब संक्रमितों की संख्या 91 हो गई है।
संक्रमित युवकों की उम्र 18 साल
ऊधमसिंह नगर की सीएमओ शैलजा भट्ट ने बताया कि जिले में पॉजिटिव पाया गया एक युवक (18) काशीपुर के गुलड़िया गांव का है, जो मुंबई से लौटा था। दूसरा किच्छा के बंडिया का रहने वाला है और वह गुरुग्राम से लौटा था।
वहीं, जसपुर में दो लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सीएमओ ने बताया कि ये दोनों मुंबई से आए थे। डॉ. भट्ट ने बताया कि संक्रमितों के संपर्क आए अन्य लोगों को भी ट्रेस किया जा रहा है। जिले में अब कोरोना पॉजिटिव लोगों की कुल संख्या 20 हो गई है।
नैनीताल के सुुुुुयाल बाड़ी में एक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। वह पिछले दिनों दिल्ली से लौटा था।
अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने बताया कि शनिवार को देहरादून में चार कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसमें मसूरी निवासी 10 साल का बच्चा और डीएल रोड निवासी महिला (32) और उसका बेटा (15) कोरोना संक्रमित पाए गए, जबकि दिल्ली से लौटे रायपुर के आईटी पार्क निवासी 49 वर्षीय व्यक्ति में कोरोना की पुष्टि हुई है। 10 साल के बच्चे की मां और डीएल रोड निवासी महिला के पति 14 मई को संक्रमित मिले थे। इनका इलाज दून मेडिकल कालेज में चल रहा है।
लॉकडाउन में पिकनिक मनाने गए दो गुटों में मारपीट, दो घायल
कण्वघाटी भाबर में लॉकडाउन के नियमों का उल्लघंन करते हुए कण्वाश्रम में पिकनिक मनाते युवकों के दो गुटों में मारपीट का मामला प्रकाश में आया है।
मारपीट में मंडावर, बिजनौर निवासी दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। मारपीट के मामले में बिजनौर के युवकों ने स्थानीय चार अज्ञात के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच कलालघाटी चौकी इंचार्ज संदीप शर्मा को सौंपी गई है।
पुलिस के अनुसार कलालघाटी और कोटद्वार क्षेत्र से आए कुछ युवकों के दो गुट शुक्रवार शाम को कण्वाश्रम में भिड़ गए। बताया जा रहा है कि ये लोग लॉकडाउन के दौरान कण्वाश्रम में पिकनिक मनाने गए थे। देर शाम करीब सात बजे लौटते हुए दोनों गुटों में किसी बात को लेकर विवाद हो गया और मामला मारपीट तक पहुंच गया।
स्थानीय लोगों ने कलालघाटी पुलिस चौकी में घटना की जानकारी दी। सूचना मिलते ही चौकी इंचार्ज संदीप शर्मा पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। मारपीट में कोटद्वार से आए बिजनौर के मंडावर निवासी नरेंद्र कुमार पुत्र सुदर्शन सिंह और उज्जवल निवासी मगन सिंह बुरी तरह घायल हो गए।
पुलिस ने 108 की मदद से दोनों घायलों को कोटद्वार चिकित्सालय में भर्ती कराया। एसएसआई प्रदीप नेगी ने बताया कि पीड़ित की ओर से मंडावर निवासी कन्हैया पुत्र उदयवीर सिंह ने पुलिस को तहरीर दी है। जिसके आधार पर मारपीट के आरोप में अज्ञात युवकों के खिलाफ मारपीट, गालीगलौच और जान से मारने की धमकी में मुकदमा दर्ज किया गया है।
उत्तरकाशी में कोरोना पॉजिटिव पाए गए युवक की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने से राहत
जनपद में पाए गए इकलौते कोरोना पॉजिटिव मरीज की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आयी है। अब इस युवक का तीसरा सैंपल रविवार को एम्स ऋषिकेश भेजा जाएगा। यह रिपोर्ट भी निगेटिव आने पर उसके पूरी तरह सुरक्षित होने की पुष्टि होगी।
बता दें कि बीते चार मई को सूरत गुजरात से मोटरसाइकिल पर सवार होकर चार युवक सात मई को उत्तरकाशी पहुंचे थे। यहां इनमें से एक युवक को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर उसका सैंपल जांच के लिए एम्स ऋषिकेश भेजा गया था। जबकि शेष तीन को संस्थागत क्वारंटीन किया गया था। नौ मई को उक्त युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर जिले में हड़कंप मच गया था।

नगुण बैरियर से जिला अस्पताल पहुंचने के बीच उक्त युवक रास्ते में अपने भाई और मोटरसाइकिल ठीक करने वाले मैकेनिक के सीधे संपर्क में आया था। इन दोनों के अलावा छह अन्य लोग भी इनके साथ प्रथम एवं द्वितीय संपर्क में आए।प्रशासन ने आनन-फानन में इन सभी आठ लोगों को तत्काल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया और इनके सैंपल 10 मई को जांच के लिए भेजे थे। इन सभी आठ लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आना राहत वाली बात रही।

कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए पांच लोग क्वारंटीन

कोटद्वार बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती गुरुग्राम से लौटे युवक के सीधे संपर्क में आए लोगों की तलाश में स्वास्थ्य विभाग की टीम जुट गई है। स्वास्थ्य विभाग ने युवक के साथ बस में सफर कर रहे 29 लोगों में से दुगड्डा ब्लाक के पांच लोगों की पहचान कर उन्हें क्वारंटीन सेंटर में भर्ती कर दिया है। कोरोना पॉजिटिव युवक का राजकीय बेस अस्पताल में उपचार शुरु कर दिया गया है। एसडीएम योगेश मेहरा ने बताया कि शुक्रवार को एम्स ऋषिकेश से युवक की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन अलर्ट है।
देहरादून के रायपुर बाजार में पुलिस ने दुकानों के आगे गोले न बनाने और पोस्टर न लगाने वाले दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की। देहरादून जिले के रायवाला मिलिट्री कैंटीन में खरीददारी को जाने वाले लोग शारीरिक दूरी का पालन करते नजर नहीं आए। बाद में पुलिस और सेना के जवानों ने मोर्चा संभाला। लॉकडाउन के बाद बाहरी राज्य से आ रहे प्रवासियों को रायपुर स्पोर्ट्स कॉलेज से उनके घर तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस हर संभव प्रयास कर रही है। इस दौरान पुलिस ने रुद्रप्रयाग जाने वाले प्रवासियों को बस से पुलिस भिजवाया। इस दौरान जैसे ही बच्चा बस पर चढ़ा, तभी वहां ड्यूटी पर तैनात सीपीयू दरोगा संजीव त्यागी ने उसको खाने का टिफिन और पानी की बोतल दी। तो बच्चे ने बड़े ही प्यारे अंदाज में कहा थैंक यू पुलिस अंकल। कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन के बाद से दून फंसे मध्य प्रदेश के निवासी अब अपने घर जाने की राह देख रहे हैं। ये मजदूर अपने बच्चों को लेकर रायपुर स्पोर्ट्स कॉलेज पहुंचे। इस दौरान कॉलेज मैदान से मध्य प्रदेश की बस न होने के कारण इन मजदूरों को बस के माध्यम से जैन धर्मशाला भिजवाया गया।
शुक्रवार को भी सामने आए थे चार मामले

एक सप्ताह के भीतर बाहरी राज्यों से उत्तराखंड लौटे 30 लोगों में कोरोना की पुष्टि हो चुकी है।
चिंताजनक पहलू यह है कि अब पर्वतीय क्षेत्रों में भी कोरोना का खतरा बढ़ने लगा है। ग्रीन जोन में शामिल रहे उत्तरकाशी और अल्मोड़ा के बाद अब पौड़ी में भी 50 दिन बाद फिर कोरोना पॉजिटिव मरीज मिला है। यहां तीन दिन पहले हरियाणा के गुरुग्राम से वापस कोटद्वार लौटा बीरोंखाल ब्लॉक निवासी 23 वर्षीय युवक कोरोना संक्रमित पाया गया है। युवक को बेस अस्पताल कोटद्वार में भर्ती कराया गया है।
इधर, देहरादून की रिंग रोड स्थित आदर्श कॉलोनी के जिस 29 वर्षीय युवक में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है वह भी चार दिन पहले दिल्ली से अपनी मां के साथ वापस लौटा था। उसकी मां पहले ही एम्स ऋषिकेश में भर्ती है। संदिग्ध मरीज के लिहाज से युवक को भी सीमा डेंटल कॉलेज में क्वारंटाइन किया गया था। वहीं, नैनीताल में एक 11 वर्षीय बच्ची और 24 वर्षीय युवक कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। यह दोनों भी गुरुग्राम से लौटे हैं।

एक और मरीज स्वस्थ

प्रदेश में अब तक कोरोना के 84 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें दिल्ली और पंजाब में संक्रमित पाए जाने के बाद उत्तराखंड में उपचार कराने वाले दो लोग भी शामिल हैं। प्रदेश में 52 ठीक हो चुके हैं। वर्तमान में प्रदेश में 31 एक्टिव केस हैं। जबकि एक महिला की मौत भी हो चुकी है। शुक्रवार को जनपद नैनीताल में एक मरीज स्वस्थ हुआ। शुकव्रार को प्रदेश में 369 रिपोर्ट प्राप्त हुई, इनमें चार पॉजिटिव और 365 नेगेटिव आईं। 495 सैंपल जांच के लिए भेजे गए।

देहरादून पहुंचे 192 लोगों की रैंडम सैंपलिंग

शुक्रवार को देहरादून की सीमाओं पर स्वास्थ्य जांच टीम ने कुल 192 व्यक्तियों की रैंडम सैंपलिंग की। जिनमें आशारोड़ी चेक पोस्ट पर 71, कुल्हाल चेक पोस्ट पर 74 और महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज रायपुर में 47 सैंपल लिए गए। सभी को जांच के लिए भेजा गया है।

वॉट्सएप पर किए 315 पास जारी,39 निरस्त

प्रशासन ने जिले में आने या अन्यत्र जाने के लिए वाट्सएप के माध्यम से भी पास के आवेदन की सुविधा दी है। शुक्रवार को जनपद में कुल 315 पास बनाए गए। जबकि, 39 आवेदन विभिन्न कारणों से निरस्त कर दिए गए।
एडीएम प्रशासन रामजी शरण शर्मा ने बताया कि वाट्सएप के माध्यम से पास के लिए आवेदन कर सकते हैं। शुक्रवार को 415 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 315 पास जारी किए गए और 39 निरस्त। जबकि, 61 आवेदन अभी लंबित हैं। कहा, जिनके पास अपने वाहन हैं तो संबंधित तहसील के वाट्सएप नंबर पर आवेदन कर पास मांग सकते हैं।
पास के लिए वाट्सएप नंबर

देहरादून (सदर): 8191099301

ऋषिकेश: 8193972232

डोईवाला: 9412952973

चकराता: 9458905356

विकासनगर: 9917628815

मसूरी: 7895110040

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *