सुशांत आत्महत्या: पहली बार विफल तो दूसरी बार लगाई फांसी?

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में आई नई जानकारी, मुंबई पुलिस कर रही जांच
सुशांत सिंह राजपूत का 14 जून को निधन हुआ था. मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट में उन्होंने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. मुम्बई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत के मौत की जांच कर रही है.
पटना: सुशांत सिंह राजपूत का 14 जून को निधन हुआ था. मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट में उन्होंने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. मुम्बई पुलिस सुशांत सिंह राजपूत के मौत की जांच कर रही है.
उनकी मौत को लकर नई जानकारी सामने आई है कि सुशांत ने फांसी लगाने के लिए हरे कुर्ते का इस्तेमाल किया था लेकिन उससे पहले सुशांत ने आत्महत्या करने के लिए बाथ रोब बेल्ट का सहारा लिया था लेकिन वो फट गया था. अब पुलिस यह जांच में जानना चाहती है कि क्या कुर्ता सुशांत का भार संभाल सकता था या नहीं इसलिए उसे फॉरेसिंक लैब में भेजा गया है.
पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस को तब शक तब हुआ जब रॉब बेल्ट 2 टुकड़ों में फर्श पर गिरा मिला जबकि सुशांत सिंह राजपूत की डेड बॉडी बेड पर थी, जो उस वक्त कमरे में मौजूद लोग थे उन्होंने कुर्ते को काटकर शव उतारा था. सूत्रों के अनुसार कलिना फोरेंसिक लैब( FSL )कुर्ते की तन्यता को मापने के लिए उपकरणों का इस्तेमाल करेगी जिससे यह पता चल सके कि क्या सुशांत का वजन कुर्ता उठा सकता था कि नहीं.
पुलिस के अनुसार घटना की जानकारी मिलते ही जांच के लिए पहुचीं पुलिस को थोड़ा शक हुआ जब 2 टुकड़ो में बेल्ट बरामद हुआ. ऐसे में ऐसा हो सकता है कि वो सुशांत चेक कर रहे होंगे कि बाथरोब बेल्ट से फांसी लगाई जा सकती है या नहीं, भार उठा पाएगा या नहीं.
अगर सुशांत ने आत्महत्या की है तो सुसाइड नोट होना ही चाहिए: शेखर सुमन
शेखर सुमन ने ट्वीट करते हुए लिखा, फिल्म इंडस्ट्री के सारे शेर बनने वाले कायर सुशांत के चाहनेवालों के कहर से, चूहे बनकर बिल में घुस गए हैं. मुखौटे गिर गए हैं.
शेखर सुमन
सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड ने बॉलीवुड इंडस्ट्री को ही नहीं बल्कि पूरे देश को हिला दिया है. सुशांत के सुसाइड के चलते नेपोटिज्म और इंडस्ट्री में गुटबाजी को लेकर भी बहस तेज हो गई है. फैंस सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के कई स्टार्स को निशाना बना रहे हैं और सुशांत की मौत की निष्पक्ष जांच की मांग कर रहे हैं. बिहार से ही ताल्लुक रखने वाले एक्टर शेखर सुमन ने भी अपने सिलसिलेवार ट्वीट्स के सहारे बॉलीवुड स्टार्स पर निशाना साधा है.
उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा,फिल्म इंडस्ट्री के सारे शेर बनने वाले कायर सुशांत के चाहनेवालों के कहर से,चूहे बनकर बिल में घुस गए हैं.मुखौटे गिर गए हैं.हिप्पोक्रेट्स एक्सपोज हो चुके हैं.जब तक दोषियों को सजा नहीं मिल जाती तब तक बिहार और ये देश चुपचाप नहीं बैठेगा. बिहार जिंदाबाद.
शेखर सुमन ये भी मानते हैं कि अगर सुशांत ने वाकई सुसाइड किया है तो उन्होंने एक सुसाइड नोट जरूर छोड़ा होता.उन्होंने अपने इस ट्वीट में लिखा,ये बिल्कुल साफ है कि अगर ये मान भी लें कि सुशांत सिंह राजपूत ने अगर सुसाइड किया भी है,वो जैसे दृढ़ निश्चयी और बुद्धिमान किस्म के थे,तो एक सुसाइड नोट तो जरूर छोड़ कर जाते. कई लोगों की तरह मेरा दिल कहता है कि जितना दिखाई दे रहा है, बात उससे कहीं ज्यादा गंभीर है.
उन्होंने अपने एक और ट्वीट में लिखा कि सुशांत एक बिहारी थे यही कारण है कि बिहारी सेंटीमेंट सबसे ज्यादा है.लेकिन इस बात में कोई दो राय नहीं कि भारत के सभी प्रदेशों के लोगों ने सुशांत के इस सुसाइड को परेशान किया है और सुशांत जैसी ही एक और त्रासदी किसी और युवा टैलेंट के साथ नहीं होनी चाहिए जो अपने बूते इंडस्ट्री में कामयाब होने आया है.
शेखर ने ये भी कहा कि वे एक फोरम का निर्माण कर रहे हैं और इस फोरम के सहारे वे सरकार पर दबाव डालेंगे कि सुशांत के सुसाइड मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *