सोम शाम तक नये 56 में टिहरी के 28, प्रदेश में 1411

उत्तराखंड में अबतक कोरोना के 1411 मामले, दिल्ली से लौटे शख्स की क्वारंटाइन सेंटर में मौत

देहरादून,।उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। सोमवार को 56 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें बागेश्वर दो, चंपावत दो, चमोली एक, देहरादून छह, हरिद्वार नौ, नैनीताल एक, पौड़ी गढ़वाल चार, रुद्रप्रयाग दो और टिहरी के 28 मरीज शामिल हैं। इसके साथ ही 135 स्वस्थ हुए लोगों को डिस्चार्ज किया गया। प्रदेशभर में अब कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1411 पहुंच गया है, जिसमें 714 केस एक्टिव हैं। वहीं, 14 कोरोना संक्रमितों की मौत भी हो चुकी है। इतना ही नहीं क्वारंटाइन सेंटरों में मौतों के मामले भी लगातर बढ़ रहे हैं। सोमवार को दिल्ली से लौटे एक शख्स की क्वारंटाइन में संदिग्ध हालत में मौत हो गई। उसका कोरोना सैंपल जांच के लिए भेजा गया है।
लेकिन, सोमवार देर शाम कोरोना वायरस के नए 31 मामले सामने आए हैं। चिंता की बात है कि सबसे ज्यादा 25 मामले टिहरी जिले में आए हैं, जबकि देहरादून जिले में पांच और हरिद्वार जिले में एक मरीज में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो गई है।
सोमवार देर शात तक कुल 56 मरीज मिलने से अब उत्तराखंड में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1411 पहुंच गई है। विभाग अब संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की पहचान कर उन्हें क्वारंटाइन करने में जुट गया है।
अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने बताया कि सोमवार को लैब से कुल 666 सैंपल की रिपोर्ट आई जिसमें से 25 पॉजिटिव जबकि 641 सैंपल नेगेटिव पाए गए हैं। राज्य के विभिन्न अस्पतालों से सोमवार को कुल 583 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं जिसमें से सबसे अधिक 127 सैंपल अकेले यूएस नगर जिले के हैं। राज्य भर से अभी तक कुल 39133 सैंपल जांच के लिए भेजे जा चुके हैं। जिसमें से 30620 सैंपल नेगेटिव आए हैं। जबकि 6150 सैंपल की रिपोर्ट आना अभी बाकी है।
राज्य में कोरोना मरीजों का डबलिंग रेट बढ़कर 16 दिन से अधिक हो गया है। जबकि संक्रमण दर 4.31 प्रतिशत है। 19 लाख लोग अभी तक आरोग्य सेतु एप से जुड़ चुके है।
उत्तराखंड में 55 कंटेनमेंट जोन

उत्तराखंड में जैसे-जैसे कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ रहा है। कंटेनमेंट जोन की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। अभी राज्य में 55 कंटेनमेंट जोन हैं, जिसमें देहरादून में 23, हरिद्वार में 21, पौड़ी में दो, टिहरी में आठ और ऊधमसिंह नगर में एक कंटेनमेंट जोन है।

क्वारंटाइन सेंटर में दिल्ली से लौटे जन की मौत

संजयनगर, खेड़ा निवासी 46 वर्षीय संजय विश्वास दिल्ली में नौकरी करता था। सोमवार सुबह वह दिल्ली से रुद्रपुर स्थित रामपुर बॉर्डर पर पहुंचा। यहां जांच के बाद उसे राधा स्वामी सत्संग भवन में क्वारंटाइन के लिए भेज दिया गया था। बताया जा रहा है कि राधास्वामी सत्संग भवन पहुंचते ही उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। आनन-फानन उसे जिला अस्पताल लाया गया,जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग ने उसका कोरोना सैंपल जांच के लिए भेज दिया है। रिपोर्ट के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।
महाराष्ट्र से लौटे दो लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव

चम्पावत जिले के जनपद में कोरोना संक्रमितों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। जनपद में विगत चार दिन से लगातार कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं। पांचवें दिन भी यह सिलसिला जारी रहा। सोमवार को हल्द्वानी से आई जांच रिपोर्ट में दो लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं, जिसके बाद जनपद में कोरोना संक्रमितों की संख्या 48 पहुंच गई है।
मुख्य चिकित्साधिकारी डॉक्टर आरपी खंडूड़ी ने बताया कि कोरोना संक्रमित मिले दोनों व्यक्ति महाराष्ट्र से आए हैं। इनमें एक व्यक्ति शारदा इंटर कॉलेज बनबसा में तो दूसरा पूर्णागिरि होटल में क्वारंटाइन किया गया था। दोनों लोगों को टनकपुर आइसोलेशन सेंटर में आइसोलेट कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि जनपद में 48 कोरोना संक्रमितों में 31 स्वस्थ्य होकर घर जा चुके हैं तो एक की मौत हो गई है। अब 16 एक्टिव केस हैं। अभी 11 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है। जनपद में 723 भेजे सैंपल में 668 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

कोरोना संक्रमित एएसआइ को दून अस्पताल किया शिफ्ट

जौलीग्रांट हॉस्पिटल में भर्ती दिल्ली पुलिस के एएसआइ की जांच के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सोमवार को संक्रमित पुलिस अधिकारी को जौलीग्रांट हॉस्पिटल से दून हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। डोईवाला हॉस्पिटल अधीक्षक डॉक्टर केएस भंडारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस में अधिकारी चार जून को दिल्ली से अपने घर जौलीग्रांट आया था। पांच जून को बुखार-खांसी होने पर वह हिमालयन हॉस्पिटल जौलीग्रांट भर्ती हो गए थे। सात जून की रात को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उन्होंने बताया कि सोमवार को उन्हें दून हॉस्पिटल शिफ्ट कर दिया गया है साथ ही नगर पालिका वार्ड नंबर 15 जौलीग्रांट आसपास कुछ एरिया को सुरक्षा की दृष्टि से सैनिटाइजर कर सील कर दिया गया है। एएसआइ के परिवार में उनकी बेटी और पत्नी है फिलहाल, उन्हें होम क्वारंटाइन किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *