शास्त्रीय संगीत केवल मनोरंजन को नही,पूजा है: पं.राजन-साजन मिश्रा

सहारनपुर। ‘स्वच्छ भारत अभियान श्रृंखला’ के अंतर्गत आज स्पिक मैके एवम जिला प्रशासन सहारनपुर के संयुक्त तत्वाधान में प्लास्टिक मुक्त सहारनपुर बनाने के लिए पद्म विभूषण पंडित राजन- साजन मिश्रा द्वारा हिन्दुस्तानी शास्त्रीय गायन का कार्यक्रम जनमंच सभागार में प्रस्तुत किया गया। गुरु राजन मिश्रा ने कहा कि शास्त्रीय संगीत केवल मनोरंजन के लिए नही है । यह पूजा है ! उन्होंने बच्चों को शास्त्रीय संगीत सुनने का तरीका बताते हुए रागों के बारे में जानकारी दी।पहली प्रस्तुति में राग बैरागी भैरव में ‘मन सिमरत निस दिन तुमरो नाम’ सुनाया और दूसरी प्रस्तुति में उन्ही द्वारा रचित बंदिश ‘माँ शारदे जगत जननी’ सुनाया। अंतिम प्रस्तुति में जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडेय ने उनकी ‘सुर संगम’ फ़िल्म के गीत की फरमाइश पर मिश्रा बंधुओं ने राग भैरवी में ‘सुर संगम फ़िल्म’ का गीत ष्धन्य भाग सेवा का अवसर पाया’ सुनाया।उनके साथ तबले पर विनीत व्यास,हारमोनियम पर सुमित मिश्रा,तानपुरे पर राजा एवं अमन शर्मा ने संगत की।
इस अवसर पर मंडलायुक्त संजय कुमार ने युवाओं को स्वच्छता का संदेश देते हुए प्लास्टिक मुक्त सहारनपुर बनाने के लिए जागरुक किया। इस अवसर पर पंडित राजन -साजन मिश्रा ने युवाओं को प्लास्टिक मुक्त सहारनपुर बनाने के लिए शपथ दिलाई । मंडलायुक्त संजय कुमार, जिलाधिकारी आलोक कुमार पांडेय ,नगर आयुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने कलाकारों को स्मृति चिह्न प्रदान किए। इस अवसर पर युवाओं को पालीथिन का इस्तेमाल न करने पर जोर देते हुए कपड़े के बने थैले भी वितरित किए।समन्वयक पंकज मल्होत्रा ने बताया कि प्रशासन के सहयोग से स्पिक मैके स्वच्छता का संदेश देने के लिए एक आंदोलन के रूप में पूरे दो माह तक यह अभियान जारी रखेगा और युवाओं में सांस्कृतिक मूल्यों के साथ-साथ पालीथिन उपयोग न करने के लिए जागरुक करता रहेगा।कार्यक्रम में संयुक्त निदेशक शिक्षा आर पी शर्मा ,जय शर्मा,अनुराग सेठ आदि उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *