नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर विपक्ष के दुष्प्रचार की पोल खोलने के लिए भाजपा अब शरणार्थियों की बस्तियों में अभियान चलाएगी। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने सोमवार को मेरठ जिले के हस्तिनापुर में बंगाली बस्ती अभियान की शुरुआत कर दी है।

प्रेस का जारी बयान में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि वरिष्ठ कार्यकर्ता शरणार्थियों के घरों में संपर्क करेंगे और कानून से होने वाले लाभ गिनाएंगे। अममून सभी जिलों में पाकिस्तान, अफगानिस्तान व बांग्लादेश से आए हिंदु, सिख, बौद्ध, पारसी, ईसाई व जैन धर्म मानने वाले परिवार मौजूद हैं। ऐसे लोग चिह्नित किए जा चुके हैं। उनको नागरिकता देने में आने वाली कठिनाइयों को दूर करने में मदद की जाएगी। सीएए का विरोध कर रहे कांग्रेस, सपा व अन्य विपक्षी दलों की साजिश के बारे में भी बताया जाएगा। उन्होंने कहा कि सीएए को लेकर सरकार एक कदम भी पीछे नहीं हटेगी।

रैलियों की तैयारी तेज

उत्तर प्रदेश के छह क्षेत्रों में प्रस्तावित शीर्ष नेताओं की रैली सफल बनाने के लिए तैयारियां तेज कर दी गई हैं। क्षेत्रीय अध्यक्षों के साथ ही प्रभारियों को बैठकें लेकर कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने को कहा है। प्रवक्ता संजय राय ने बताया कि जिलों की पद यात्राओं में जिस तरह जनसैलाब उमड़ा है। उससे रैलियों का ऐतिहासिक होना तय है।

एक सप्ताह में दो करोड़ लोगों से संपर्क

नागरिकता संशोधन कानून का सच बताने के लिए भारतीय जनता पार्टी द्वारा चलाए जा रहे जागरण अभियान में दो करोड़ से ज्यादा लोगों से संपर्क किया। सात जनवरी से आरंभ हुए अभियान में कार्यकर्ताओं ने 90 हजार से अधिक बूथों पर पहुंचकर लगभग 45 लाख से परिवारों से संवाद किया और पत्रक बांटे। अभियान के सह प्रभारी संतोष सिंह ने बताया कि सीएए को लेकर प्रत्येक वर्ग के लोगों ने विपक्ष के दुष्प्रचार को नकारा और समाज में विद्वेष फैलाने की साजिश की निंदा की। पदयात्राओं के कार्यक्रम सोमवार को संपन्न हो गए।

बड़े नेताओं ने सीएए का सच बताया

प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा, सहित प्रमुख पदाधिकारियों ने कार्यक्रमों में शामिल होकर सीएए का सच लोगों को बताया। सोमवार को आजमगढ़ में कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा, बलिया में अनिल राजभर तथा सिद्धार्थनगर में प्रदेश मंत्री कामेश्वर सिंह व राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सतीश द्विवेदी ने पदयात्राओं का नेतृत्व किया है। अभियान के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को सीएए लागू करने पर धन्यवाद पत्र देने की होड़ है। करीब 20 लाख लोगों ने अपने हस्ताक्षरित पत्र सौंपे है।

सघन संपर्क अभियान शुरू

सीएए के समर्थन में मंगलवार से पदाधिकारी, सांसद, विधायक सहित सभी जनप्रतिनिधि सघनसंपर्क अभियान शुरू किया गया है। सांसदों, विधायकों, महापौर, नगर पालिका अध्यक्ष व जिला पंचायत अध्यक्षों सहित सभी जनप्रतिनिधियों से अपने क्षेत्रों में संपर्क करने और सहमति पत्र प्राप्त करने को कहा गया है। मोर्चा व प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों ने सामाजिक संपर्क अभियान के तहत 13 हजार से अधिक स्थानों पर छात्रों, शिक्षकों, अधिवक्ताओं, किसानों, चिकित्सकों और व्यापारियों से भी सीएए पर चर्चा की। इसी क्रम में गांवों में चौपाल व दलित बस्तियों में बैठकों के माध्यम से कांग्रेस व सपा सहित विपक्षी पार्टियों द्वारा फैलाए जा रहे झूठ का राजफाश किया।