शनिवार 244 नये कोरोना केसों में 72 दून,61 हरिद्वार से,प्रदेश में 5961

उत्‍तराखंड में शनिवार को आए कोरोना के 244 नए मामले, एक की हुई मौत
देहरादून, । उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण थमता नहीं दिख रहा है। शनिवार को राज्य में 244 और लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। संक्रमितों की कुल संख्या 5961 पहुंच गई। हालांकि, इनमें से 58.‍63 फीसद यानी 3495 लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं। वर्तमान में 2365 एक्टिव केस हैं, जबकि 38 मरीज राज्य से बाहर चले गए हैं। वहीं, आज एक महिला की मौत हो गई। अब कुल मौत का आंकड़ा 63 पहुंच गया है।
शनिवार को राज्य में 54 संक्रमित ठीक हुए हैं। शनिवार को अल्मोड़ा व पौड़ी में छह, बागेश्वर में तीन, चंपावत में नौ, देहरादून में 72, हरिद्वार में 61, नैनीताल में 30, पिथौरागढ़ में 18, टिहरी में चार, ऊधमसिंह नगर में 23 और उत्तरकाशी में 12 नए मामले सामने आए हैं।
सीओ कार्यालय में तैनात महिला सिपाही समेत छह लोग पॉजिटिव
रामनगर (नैनीताल) क्षेत्र में शनिवार को छह लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें एक सीओ ऑफिस में तैनात महिला सिपाही, सेंट्रल बैंक के तीन कर्मचारी, एक एलआईसी का कर्मचारी और दिल्ली से आई बेतालघाट निवासी महिला शामिल है।
दो दिन के भीतर ही कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 13 हो गई है। ऐसे में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आने वालों की तलाश की जा रही है। सीओ ऑफिस में तैनात महिला सिपाही की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य टीम ने वहां तैनात अन्य आठ पुलिस कर्मियों को क्वारंटीन कर दिया है। इसके अलावा कोतवाली में तैनात पुलिस कर्मी भी अपनी जांच कराएंगे।
इधर, ज्वाला लाइन निवासी व्यापारी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद अब उनके भाई की रिपोर्ट पर प्रशासन की नजर है। यदि रिपोर्ट भी पॉजिटिव आती है तो ज्वाला लाइन को सील किया जा सकता है। दूसरी ओर गूलरघट्टी निवासी युवक भी हेयर ड्रेसर के संपर्क में आने से कोरोना संक्रमित हो गया है।
रामनगर में दो माइक्रो कंटेनमेंट जोन बने
कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या को लेकर प्रशासन सतर्क है। व्यवसायी और एक युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दो जगहों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। यहां पर रहने वाले सभी लोगों की कोरोना जांच कराई जाएगी और वहां की सभी दुकानें बंद अग्रिम आदेश तक बंद रहेंगी।
एसडीएम विजयनाथ शुक्ल ने बताया कि मुख्य बाजार के ज्वाला लाइन निवासी एक व्यवसायी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इस पर ज्वाला लाइन को माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया है। इस क्षेत्र में आने वाली सभी दुकानें बंद रहेंगी। इस क्षेत्र के लोगों को जरूरत का सामान प्रशासन की ओर से उनके घरों पर पहुंचाने की व्यवस्था की जाएगी।
साथ ही डॉक्टरों की टीम सभी लोगों की जांच करेगी। इनके अलावा गूलरघट्टी में भी एक युवक कोरोना पॉजिटिव निकला था। इसको देखते हुए गूलरघट्टी की नगीना मस्जिद से जेआर कॉलेज तक को भी माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। यहां भी सभी लोगों की कोरोना जांच कराई जाएगी।
कोरोना संक्रमित 70 वर्षीय महिला की आज हुई मौत

दून अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित 70 वर्षीय महिला की आज मौत हो गई। महिला बैजरों पौड़ी की रहने वाली थी। हृदया रोग से पीड़ित महिला को मैक्स अस्पताल में भर्ती किया गया था। कोरोना जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर शुक्रवार रात उसे कोविड-हास्पिटल यानि दून अस्पताल लाया गया। शनिवार को महिला ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

देहरादून जिला कारागार में भी कोरोना की दस्तक

मुख्य चिकित्साधिकारी डाक्टर बीसी रमोला के मुताबिक 82 कैदियों की जांच कराई गई थी। इनमें से सात कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। कैदी दून अस्पताल में भर्ती कराए जा रहे है। एक कैदी को एम्‍स ऋषिकेश अस्पताल में कुछ दिन पहले दिल संबंधी शिकायत के बाद दिखाया गया था। जिसके बाद उसे संक्रमण की पुष्टि हुई। फिर उसके संपर्क में आए कैदियों की जांच कराई गई है। इनके संपर्क में आए लोगों को आइसोलेशन में रखा जा रहा है।
गलत मोबाइल नंबर बताने पर 40 कोरोना संक्रमितों पर मुकदमा
हरिद्वार में होम क्वारंटाइन के नोडल अधिकारी डॉक्टर जीएस जंगपांगी ने सिडकुल थाने में लिखित शिकायत देकर बताया कि हाल के दिनों में क्‍वारंटाइन किए गए 40 लोग होम क्वारंटाइन का पालन नहीं कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने अपने मोबाइल नंबर भी गलत दर्ज कराएं हैं। पुलिस ने इन सभी 40 कोरोना संक्रमितों के खिलाफ अलग-अलग 40 मुकदमे दर्ज कर लिए हैं। मुकदमों में नामजद करीब 17 आरोपित सिडकुल की हिंदुस्तान यूनिलीवर कंपनी के कर्मचारी हैं। बाकी 23 कर्मचारियों के खिलाफ जीरो एफआईआर दर्ज कर अलग-अलग थाना कोतवाली को ट्रांसफर किया गया है।

सीएमआई अस्पताल के 22 कर्मचारी और संक्रमित

अब तक सीएमआई अस्पताल से जुड़े 38 लोग संक्रमित हो चुके हैं। शनिवार को संक्रमित मिले 22 लोगों में छह लोग यहां इलाज कराने के लिए आए थे। वही चार डॉक्टर और अन्य कर्मचारी हैं। सभी को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। अस्पताल को रविवार तक बंद कर दिया गया है। हालांकि,देर शाम तक जिलाधिकारी की ओर से भी अस्पताल को सील किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *