शाम तक 62 नये कोरोना केस में दून के 23, रूद्रप्रयाग के 14,प्रदेश में 1215

उत्तराखंड में आज मिले 62 केस, कुल संक्रमितों की संख्या हुई 1215
उत्तराखंड में आज कोरोना संक्रमण के 62 मामले सामने आए हैं। जिसके बाद अब राज्य में कुल संक्रमित मामलों की संख्या 1215 हो गई है जिसमें से 309 मरीज ठीक हो चुके हैं। आज नैनीताल में चार,अल्मोड़ा में पांच,चमोली व चंपावत में तीन,देहरादून में 23,हरिद्वार व पौड़ी में एक,रुद्रप्रयाग में 14 और टिहरी में आठ संक्रमित मिले हैं।
दोपहर बाद प्रदेश में कोरोना के 16 नए केस, 1215 पहुंचा आंकड़ा, 344 स्वस्थ
प्रदेश में कोरोना के 16 नए पॉजिटिव मिलने के बाद कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1215 पहुंच गया. वहीं, अब तक 344 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.
उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. कोरोना के 16 नए मरीज मिलने के बाद संक्रमितों का आंकड़ा 1215 पहुंच गया है. वहीं, अब तक कुल 344 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

राजधानी देहरादून में सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या सबसे ज्यादा 347 पहुंच गई है. नैनीताल में मरीजों का आंकड़ा 314 पहुंच गया है, जबकि 310 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.जिलेवार संक्रमितों की संख्या.वहीं, देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 2,26,770 पहुंच गया है. अब तक 6,348 मरीजों की मौत हो चुकी है. वहीं, 1,09,462 मरीज अब तक स्वस्थ हो चुके हैं, जबकि 1,10,960 केस एक्टिव हैं.

दून अस्पताल में कोरोना संक्रमण फैलता ही जा रहा है। अस्पताल के स्टाफ में लगातार तीन दिन से कोरोना के केस सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को यहां चार मामले सामने आए। जिसमें अस्पताल की दो स्टाफ नर्स,एक इलेक्ट्रिशियन व अस्पताल में भर्ती एक गर्भवती महिला में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। स्टेट कॉर्डिनेटर एनएस खत्री ने इन मामलों की पुष्टि की है। अब प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कुल 1156 मामले हो गए हैं।
प्रदेश में 33 हजार लोग संस्थागत क्वारंटीन
प्रदेश में बाहरी क्षेत्रों से आने वाले 33 हजार से अधिक लोगों को संस्थागत क्वारंटीन किया गया है। लगभग पांच सौ लोगों की संस्थागत क्वारंटीन की अवधि पूरी होने के बाद 14 दिन के होम क्वारंटीन में भेजा गया है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार चार जून को प्रदेश में 33 हजार 942 लोग संस्थागत क्वारंटीन में रह रहे थे।
शुक्रवार को लगभग पांच सौ लोगों को सात दिन की अवधि पूरी होने के पर घर भेजा गया है। ये अब 14 दिन तक अपने घर में क्वारंटीन रहेंगे। प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश के 75 शहर चिह्नित किए हैं। जहां से आने वाले लोगों को सात दिन तक संस्थागत क्वारंटीन में रहना अनिवार्य होगा।
वहीं, रेड जोन से आने और जाने के लिए पास बनाना अनिवार्य है। ऑरेंज जोन में एक जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए सिर्फ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। ऑनलाइन पंजीकरण ही पास माना जाएगा और उन्हें संस्थागत क्वारंटीन में नहीं रहना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *