अमित नेगेटिव, दूसरे पॉजिटिव, उप्र की कैबिनेट मंत्री की मौत,एक गवर्नर भी संक्रमित

Amit Shah पहुंचे अस्पताल तो Amitabh Bachchan को मिली छुट्टी, UP में Cabinet Minister की मौत, एक दिन में साढ़े आठ सौ मौत
नई दिल्ली | भारत में कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह पॉजिटिव (Home Minister Amit Shah Corona Positive) पाए गए हैं और अस्पताल में भर्ती हुए हैं। वहीं बिग बी अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को कोराना से ठीक होने पर छुट्टी मिल गई है। कोरोना के पीड़ित यूपी की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण (UP Cabinet Minister Kamal Rani Varun No More Due to Covid19) का रविवार को एसजीपीजीआई में निधन हो गया। उन्होंने सुबह करीब साढ़े नौ बजे अंतिम सांस ली। कोरोना की चपेट में आने के बाद 18 जुलाई को उन्हें एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। कमल रानी की मौत की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या दौरा निरस्त कर दिया है। सरकार ने एक दिन का राजकीय अवकाश घोषित किया है। बीजेपी यूपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (BJP UP Chief Swatantra Dev Singh) भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

यूपी BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और तमिलनाडु के गवर्नर कोरोना पॉजिटिव
BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्होंने ट्वीट के जरिये खुद जानकारी दी. इसके अलावा, तमिलनाडु के गवर्नर बनवारीलाल पुरोहित की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. पुरोहित राजभवन के 87 कर्मचारियों के पॉजिटिव आने के बाद से ही आइसोलेशन में थे.
यूपी BJP प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट करके कहा, “मुझे कोरोना के शुरुआती लक्षण दिख रहे थे जिसके चलते मैंने अपनी कोविड-19 की जांच कराई. जांच में मेरी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. मुझसे संपर्क में आने वाले सभी लोगों से मेरा निवेदन है कि वह गाइडलाइन के अनुसार स्वयं को क्वारंटाइन कर लें और आवश्यकता अनुसार अपनी जांच करा लें.”
देश में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार तेजी आ रही है। बीते कुछ दिनों से रोजाना 50 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि, संक्रमण से ठीक होने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। पिछले 24 घंटे में 54,736 नए मामले सामने आए हैं। इसी दौरान 853 और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ ही कोरोना वायरस से संक्रमित होने वालों का आंकड़ा देश में 17 लाख के पार पहुंच गया है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार,कोरोना वायरस के कुल 17 लाख 50 हजार 724 मामलों में 11 लाख 45 हजार 630 लोग रिकवर हो चुके हैं। अभी 5 लाख 67 हजार 730 एक्टिव मामले हैं,जिनका इलाज चल रहा है। वहीं,37 हजार 364 लोगों की मौत हुई है।

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में अब तक 2,66,883 रिकवर हो चुके हैं। बीते दिन 10725 और मरीज ठीक हुए। वहीं,149520 लोगों का इलाज चल रहा है। राज्य में अब तक 15316 लोगों की मौत हो चुकी है।

गृहमंत्री हुए अस्पताल में भर्ती

गृहमंत्री अमित शाह कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसके बाद उन्हें डॉक्टर्स की सलाह पर गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। गृहमंत्री अमित शाह ने खुद अपने ट्विटर हैंडल पर इस बात की पुष्टि की है। बताया कि शुरूआती लक्षण दिखने के बाद उन्होंने कोरोना टेस्ट जांच करवाया। रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने बताया कि उनकी तबीयत ठीक है लेकिन डॉक्टरी सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। उन्होंने अनुरोध किया है कि हाल के दिनों में जो भी उनके संपर्क में आए हैं, कृपया कर खुद को आइसोलेट करें और जांच करवाएं।

उत्तर प्रदेश में एक दिन का अवकाश

उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण का रविवार को एसजीपीजीआई में निधन हो गया। उन्होंने सुबह करीब साढ़े नौ बजे अंतिम सांस ली। कोरोना की चपेट में आने के बाद 18 जुलाई को उन्हें एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था। एसजीपीजीआई के निदेशक प्रोफेसर आरके धीमान ने बताया कि प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण के इलाज में लगी टीम ने निरंतर प्रयास किया लेकिन फेफड़े का संक्रमण बढ़ता गया। हाई ब्लडप्रेशर और शुगर भी नियंत्रण में नहीं आ पाया । तमाम प्रयासों से भी उन्हें बचाया न जा सका। कोरोना प्रोटोकॉल में शव पैक कर परिजनों को सौंपा गया है। एसजीपीजीआई के निदेशक प्रोफ़ेसर आरके धीमान ने बताया कि इलाज में एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया व एम्स चंडीगढ़ के विशेषज्ञों से भी सलाह मशविरा किया गया। उन्हें कई तरह की थेरेपी भी दी गई लेकिन उन्हें बचाया न जा सका। कमल रानी वरुण कानपुर देहात के घाटमपुर से विधायक थी। वह दो बार लोकसभा सदस्य भी रही हैं। उनके परिजन कानपुर साउथ के बर्रा में रहते हैं। परिजन शव ले कानपुर रवाना हो गए हैं। वही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उधर कैबिनेट मंत्री के निधन की सूचना मिलते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या दौरा निरस्त कर शोक जताते हुए परिवार को ढांढस बंधाया है। एक दिन के राजकीय अवकाश की घोषणा की गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने सरकार का एक मजबूत स्तंभ खो दिया है,जिसकी भरपाई नहीं की जा सकती है।

दिल्ली की स्थिति सुधर रही

तमिलनाडु में संक्रमण के 56738 एक्टिव केस हैं, जबकि 190966 लोग रिकवर कर चुके हैं। यहां बीते दिन 7010 लोग ठीक हुए हैं। इसके अलावा 4034 लोगों की मौत हो चुकी है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां की स्थिति लगातार बेहतर हो रही है। दिल्ली में अब सिर्फ 10596 एक्टिस केस हैं,जबकि 122131 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। शनिवार को 1201 और लोग ठीक हुए। राजधानी में अब तक 3989 लोगों की जान गई है। उत्तर प्रदेश में भी कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां 36037 सक्रिय मरीज हैं। इसके अलावा 51334 लोग ठीक हो चुके हैं। राज्य में मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 1677 पहुंच गया है।

अमिताभ ने जताया फैन्स का आभार

अमिताभ बच्चन के फैंस के लिए बड़ी खुशखबरी है। कोरोना से निगेटिव होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट कर सभी प्रशंसकों और चाहने वालों को शुक्रिया कहा है। अमिताभ बच्चन ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘कोरोना निगेटिव होने के बाद मैं अस्पताल से डिस्चार्ज हो गया हूं। मैं घर पर क्वारंटीन रहूंगा। सर्वशक्तिमान की कृपा। मां, बाबूजी के आशीर्वाद, शुभचिंतकों और दोस्तों की दुआओं, नानावती अस्पताल में उत्कृष्ट देखभाल ने इस दिन को देखना मेरे लिए संभव बना दिया।’ वहीं अभिषेक बच्चन ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘मैं शुक्रगुजार हूं कि मेरे पिता का कोविड 19 टेस्ट निगेटिव आया है और वो अस्पताल से डिस्चार्ज हो गए हैं। अब वो घर पर रहेंगे और आराम करेंगे। आप सभी की दुआओं और प्रार्थनाओं का शुक्रिया।’ अभिषेक ने ये भी बताया कि अभी उन्हें अस्पताल में ही रहना पड़ेगा। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘दुर्भाग्यवश कुछ कारणों से अभी मैं कोविड 19 पॉजिटिव हूं और अस्पताल में ही हूं। एक बार फिर आप सभी को शुभकामनाओं और प्रार्थनाओं के लिए धन्यवाद। मैं इसे हरा दूंगा और स्वस्थ होकर लौटूंगा। वादा।’

बता दें कि अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन बीते 11 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव होने के बाद अस्पताल में भर्ती हुए थे। उसके कुछ ही दिन बाद ऐश्वर्या और आराध्या को भी कोरोना की वजह से अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था। ऐश्वर्या और आराध्या को पहले ही अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *