कोरोना: दिलीप कुमार के छोटे भाई असलम दिवंगत, बड़े भाई एहसान गंभीर, खुद दिलीप-सायरा सुरक्षित

अभिनेता दिलीप कुमार के भाइयों को कोरोना:सबसे छोटे भाई असलम खान का 88 की उम्र में हॉस्पिटल में निधन, दूसरे भाई 90 वर्षीय एहसान की हालत भी गंभीर
ब्राउन कुर्ते में दिलीप कुमार के (पीछे) खड़े उनके भाई असलम खान। -फाइल फोटो
दोनों भाई रेपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था
दिलीप कुमार के दोनों भाई असलम और एहसान अलग घर में रहते थे, इसलिए दिलीप और सायरा बानो कोरोना संक्रमण से सुरक्षित हैं
मुंबई में कोरोना का कहर अब दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार के परिवार तक पहुंच गया। शुक्रवार तड़के दिलीप कुमार के सबसे छोटे भाई असलम खान (88) का कोरोना संक्रमण से मुंबई के लीलावती हॉस्पिटल में निधन हो गया। देर रात से ही उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी और वे वेंटीलेटर पर थे। दिलीप के दूसरे भाई एहसान खान (90) की भी तबीयत नाजुक है। हॉस्पिटल सूत्रों के अनुसार, उन्हें भी क्रिटिकल केयर यूनिट में रखा गया है। दोनों भाइयों को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी, जिसके बाद उन्हें आर्टिफिशियल ब्रीदिंग सपोर्ट लगाया गया। दोनों भाई रैपिड एंटीजन टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे, जिसके बाद उन्हें लीलावती में भर्ती कराया गया था।

लीलावती हॉस्पिटल के डॉक्टर जलील पार्कर ने असलम खान के निधन की पुष्टि करते हुए कहा, ‘‘महान अभिनेता दिलीप कुमार के छोटे भाई असलम खान को शुगर, ब्लडप्रेशर और हार्ट से जुड़ी समस्याओं के साथ कोविड-19 संक्रमण था। तड़के उनका निधन हो गया।’’

दिलीप कुमार-सायरा सुरक्षित हैं

दिलीप के दोनों भाई असलम और एहसान अलग घर में रहते थे। लिहाजा वे और सायरा बानो कोरोना संक्रमण से सुरक्षित हैं। हालांकि, भाइयों में संक्रमण की पुष्टि के बाद दिलीप कुमार और सायरा का भी कोरोना टेस्ट करवाया गया। दिलीप कुमार ने अप्रैल में अपने फैन्स से अपील करता हुए एक पोस्ट भी शेयर किया था। इसमें लिखा था कि मैं आपसे निवेदन करता हूं कि कोरोना महामारी के दौर में अपने घर पर ही सुरक्षित रहें।
मुंबई में एक दिन 1275 नए कोरोना केस सामने आए
मुंबई में कोरोना संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरुवार को यहां 1275 नए केस सामने आए हैं। इसे अलावा 46 मरीजों की संक्रमण से मौत हो गई। अगर कुल केस की बात की जाए तो मुंबई में अब तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,32,817 हो गई है। वहीं अब तक 7311 मरीजों की जान जा चुकी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *