एमएलए हॉर्स ट्रेडिंग में हरीश की बढ़ी मुश्किलें,सीबीआई ने दर्ज किया केस

हॉर्स ट्रेडिंग मामले में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. अब केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और अन्य के खिलाफ कथित एमएलए हॉर्स ट्रेडिंग मामले में केस दर्ज किया है. दरअसल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत के खिलाफ विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त का आरोप है.उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को सीबीआई की तरफ से झटका लगा है। सीबीआई ने कथित रूप से विधायकों की खरीद-फरोख्त के मामले में रावत और अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है।
हॉर्स ट्रेडिंग मामले में उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. अब केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और अन्य के खिलाफ कथित एमएलए हॉर्स ट्रेडिंग मामले में केस दर्ज किया है. दरअसल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत के खिलाफ विधायकों की कथित खरीद-फरोख्त का आरोप है.मार्च 2016 में उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत की ओर से अपनी सरकार को बचाने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला सामने आया था। इसके बाद से उत्तराखंड में कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई और 31 मार्च 2016 को राज्यपाल की संस्तुति से हरीश रावत के खिलाफ सीबीआई जांच शुरू हुई।
सीबीआई ने प्राथमिक जांच रिपोर्ट कोर्ट में पेश कर हरीश रावत के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की अनुमति मांगी थी। नैनीताल हाईकोर्ट ने हरीश रावत के स्टिंग मामले में सीबीआई को एफआईआर दर्ज करने की छूट दे दी थी साथ ही यह भी साफ किया कि यह कार्रवाई न्यायालय के अंतिम आदेश पर आधारित होगी। ये केस सीबीआई के उस जांच के बाद सामने आया था जब साल 2016 में उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन था और एक विवादित वीडियो सामने आया थी. इस वीडियो में हरीश रावत कथित तौर पर विधायकों को पैसा देकर उनका समर्थन पाने की बात कर रहे थे. बता दें कि बाद में ये सभी विधायक कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए थे.
हाल ही में उत्तराखंड हाईकोर्ट ने सीबीआई की ओर से इनक्वायरी रिपोर्ट दर्ज किए जाने के बाद सीबीआई को इस केस में जांच करने और एफआईआर दर्ज करने की अनुमति दी थी.कांग्रेस नेता हरीश रावत ने मीडिया से बात करते हुए एक बार कहा था कि वो कांग्रेस के लिए बालिका वधु हैं. उनके जेल जाने से कांग्रेस को फायदा होता है तो वो खुशी-खुशी हथकड़ी लगवाकर जेल जाना चाहेंगे. साथ ही ये भी कहा कि उनका गिरफ्तार होना सरकार के द्वारा सीबीआई के दुरुपयोग का उदाहरण बनेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *