दीपिका के जेएनयू जाने से घबराए ब्रैंड्स, नुकसान बचाने को अपने विज्ञापन की विज़िबिलिटी कम करने का फ़ैसला

दीपिका पादुकोण (फाइल फोटो)

कुछ ब्रैंड्स जिनके लिए दीपिका विज्ञापन करती हैं, उन्होंने अपने विज्ञापन की विज़िबिलिटी कम करने का फ़ैसला लिया है. दीपिका फिलहाल 23 ब्रैंड्स के लिए विज्ञापन कर रही हैं.

हाइलाइट्स

  • कुछ कंपनियों ने विवाद थमने तक एक्ट्रेस से जुड़े विज्ञापन रोकने का निर्णय किया
  • दीपिका एक फिल्म के लिए वह 10 करोड़ रुपये और विज्ञापन के लिए 8 करोड़ रुपये लेती हैं
  • ब्रैंड्स अब कॉन्ट्रैक्ट में रख सकते हैं राजनीतिक राय से पैदा होने वाले जोखिम से जुड़ी शर्त

नई दिल्ली/मुंबई: जेएनयू कैंपस में हुई हिंसा के विरोध में छात्रों के समर्थन में खड़ी होने को लेकर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का सोशल मीडिया पर एक हिस्से ने जमकर विरोध किया. दीपिका की हालिया रिलीज़ फिल्म छपाक के खिलाफ सोशल मीडिया पर हैशटैग ट्रेंड करवाए गए. लोगों से छपाक ना देखने की अपील की गई. इस पूरी कवायद का मकसद दीपिका पादुकोण को आर्थिक और सामाजिक नुकसान पहुंचाने का था.देश में विज्ञापनों और फिल्मों के लिए सबसे ज्यादा पेमेंट पाने वाली अभिनेत्री दीपिका पादुकोण से अपने जुड़ाव को लेकर प्रमुख ब्रैंड्स सतर्कता बरतने लगे हैं। जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में नकाबपोशों ने छात्रों पर लोहे के रॉड, चेन और लाठियों से हमला किया था। इसके विरोध में लेफ्ट विंग के छात्रों की ओर से आयोजित एक प्रदर्शन में दीपिका पादुकोण भी कैंपस में गई थीं। इससे नाराज एक वर्ग ने दीपिका की नई फिल्म छपाक का विरोध शुरू कर दिया। अब विवाद को देखते हुए ब्रैंड्स भी सतर्कता बरत रहे हैं।

कुछ ब्रैंड्स ने कहा कि वे दीपिका वाले अपने विज्ञापनों को फिलहाल के लिए कम दिखा रहे हैं। वहीं नामचीन सितारों के एंडोर्समेंट्स संभालने वाले मैनेजरों ने कहा कि आने वाले समय में विज्ञापनों के करारों में इस तरह के क्लॉज जोड़े जा सकते हैं, जिनमें किसी सिलेब्रिटी के राजनीतिक रुख तय करने से प्रशासन के नाराज हो सकने वाले जोखिम का जिक्र होगा। कोका-कोला और ऐमजॉन आदि को रिप्रेजेंट करने वाली IPG मीडियाब्रैंड्स में चीफ एग्जिक्युटिव शशि सिन्हा ने कहा, ‘सामान्य तौर पर ब्रैंड्स सुरक्षित दांव चलते हैं। वे किसी विवाद से बचना चाहते हैं।’

जेएनयू जाने को लेकर सोशल मीडिया पर एक वर्ग के निशाने पर आईं ऐक्ट्रेस दीपिका पादुकोण के ऐड्स आपको टीवी पर अब कुछ कम दिख रहे होंगे। विज्ञापनों और फिल्मों के लिए मोटी पेमेंट पाने वालीं दीपिका से अपने जुड़ाव को लेकर बड़े ब्रैंड्स अब सतर्कता बरतने लगे हैं। कुछ ब्रैंड्स के मुताबिक, वे दीपिका वाले अपने विज्ञापनों को फिलहाल के लिए कम दिखा रहे हैं। आपको बता दें कि दीपिका ब्रिटानिया के गुड डे, लॉरियल, तनिष्क, विस्तारा एयरलाइंस और एक्सिस बैंक सहित 23 ब्रैंड्स के लिए विज्ञापन करती हैं। बताया जाता है कि एक फिल्म के लिए वह 10 करोड़ रुपये और विज्ञापन के लिए 8 करोड़ रुपये लेती हैं।

दीपिका के खिलाफ बढ़ते इस गुस्से को देखते हुए अब उद्योग जगत भी सावधानी बरत रहा है. अंग्रेजी अखबार इकॉनोमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक दीपिका पादुकोण को लेकर बड़े ब्रैंड्स कोई जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं. इसी के चलते कुछ ब्रैंड्स जिनके लिए दीपिका विज्ञापन करती हैं, उन्होंने अपने विज्ञापन की विज़िबिलिटी कम करने का फ़ैसला लिया है.अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक दीपिका फिलहाल 23 ब्रैंड्स के लिए विज्ञापन कर रही हैं. रिपोर्ट के मुताबिक दीपिका एक विज्ञापन के लिए आठ करोड़ रुपये फीस लेती हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि आज सुबह से सोशल मीडिया पर दीपिका के खिलाफ #दीपिका_हटाओ_LUX_बचाओ का हैशटैग ट्रेंड कर रही है.

बता दें कि फिल्म छपाक 10 फरवरी को रिलीज़ हुई थी. यह फिल्म एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर आधारित है. जिन पर 15 साल की उम्र में एसिड से हमला किया गया था. लक्ष्मी ने बाद में स्टॉप एसिड सेल कैंपेन चलाया.

इसके लिए उन्हें 2014 में अंतर्राष्ट्रीय महिला सम्मान पुरस्कार से नवाजा गया. फिल्म में दीपिका पादुकोण के अलावा एक्टर विक्रांत मैसी लक्ष्मी के रियल लाइफ पार्टनर और सोशल वर्कर आलोक दीक्षित का किरदार निभा रहे हैं.

ट्रोल्स के निशाने पर दीपिका
अपनी फिल्म छपाक की रिलीज से तीन दिन पहले दीपिका 7 जनवरी को जेएनयू कैंपस गई थीं। गुंडों के हमले में घायल जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष आइशी घोष के पास खड़ी दीपिका की तस्वीर वायरल हो गई थी। इस पर जहां उनके साहस की प्रशंसा की गई थी, वहीं कई मंत्रियों, दक्षिणपंथी ट्रोल्स आदि ने उन पर निशाना साधा था।

‘छपाक’ की कमाई
बायकॉट करने की अपीलों के बीच छपाक ने पहले दो दिनों में 11.67 करोड़ रुपये की कमाई की। शुक्रवार को इसका कलेक्शन 4.77 करोड़ रुपये था। शनिवार को बढ़कर 6.90 करोड़ रुपये हो गया। शुरुआती अनुमानों के मुताबिक रविवार को यह 9 करोड़ रुपये पहुंच गया था। इस फिल्म की कुल लागत 40 करोड़ रुपये से कम है।

दो हफ्तों के लिए रोका विज्ञापन

एक मीडिया बाइंग एजेंसी के एग्जिक्यूटिव ने कहा, ‘मझोले आकार के एक ब्रैंड ने हमसे कहा है कि दीपिका वाले उसके विज्ञापन करीब दो हफ्तों के लिए रोक दिए जाएं। उम्मीद है कि तब तक विवाद ठंडा पड़ जाएगा।’ दीपिका ब्रिटानिया के गुड डे, लॉरियल, तनिष्क, विस्तारा एयरलाइंस और एक्सिस बैंक सहित 23 ब्रैंड्स के लिए विज्ञापन करती हैं। दीपिका की नेटवर्थ 103 करोड़ रुपये की है। ट्विटर पर उनके 2.68 करोड़ फॉलोअर हैं। बताया जाता है कि एक फिल्म के लिए वह 10 करोड़ रुपये और विज्ञापन के लिए 8 करोड़ रुपये लेती हैं।

राजनीतिक मामलों में बोलने के नफा-नुकसान समझा रहीं मैनेजमेंट कंपनियां

शाहरुख खान और प्रियंका चोपड़ा की ब्रैंड डील्स पर काम कर चुकी क्रॉसओवर एंटरटेनमेंट की एमडी विनीता बंगार्ड ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि मौजूदा विवाद के कारण ब्रैंड्स पीछे हट जाएंगे। दीपिका को जिस बात पर भरोसा है, उसके लिए वह खड़ी हुईं। ब्रैंड्स राजनीतिक नजरिए से बचना चाते हैं, लेकिन सोचने-समझने वाले सेलेब्रिटीज को अपनी बात कहने की आजादी होनी चाहिए।’ एक टॉप सेलेब्रिटी मैनेजमेंट कंपनी के हेड ने कहा, ‘हम अपने सेलेब्रिटी क्लाइंट्स को राजनीतिक मामलों में बोलने के नफा-नुकसान के बारे में बता रहे हैं। तय तो उनको ही करना है, लेकिन संवेदनशील मामलों में विवाद बढ़ भी सकता है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *