14 व 17 वर्षीय बहनों का गैंगरेप: वसीम,सावेज,अखलाक,आरिफ,आमिर ने किया वीडियो वायरल

वसीम, सावेज, अखलाक, आरिफ, आमिर ने मिलकर दोनों बहनों का बारी-बारी से बलात्कार किया। दोनों बहनें गिड़गिड़ाती रहीं, लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी। इस दौरान इनका वीडियो भी बनाया गया ताकि…
बरेली : थाना बहेड़ी क्षेत्र के एक गांव में ममेरी और फुफेरी बहनों के साथ तमंचे के बल पर सामूहिक दुष्कर्म किये जाने और वीडियो वायरल करने वाले पांच युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपितों ने खेत में खीच कर नाबालिग बहनों से दुष्कर्म कर उनका वीडियो भी बना लिया था। इसके दो दिन बाद नाबालिगों के न आने पर आरोपितों ने वीडियो वायरल कर दिया था। पुलिस ने पांचों की लोकेशन ट्रेस कर अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार कर लिया। उनसे पूछताछ की जा रही है। जानकारी के मुताबिक लड़कियों की उम्र 14 और 17 साल है। दोनों बहनें 17 नवंबर को अपने घर से दवा लेने को निकली थीं। लेकिन जब घर आने लगीं तो एक लड़के ने उन्हें तमंचा दिखा रास्ते में रोक लिया और फिर गन्ने के खेत में मौजूद अपने साथियों के पास उन्हें खींच ले गया जहाँ 5 लोगों ने उन दोनों का बलात्कार किया। दोनों गिड़गिड़ाती रहीं, लेकिन उनमें से किसी ने एक नहीं सुनी। इतना ही नहीं, लड़कियों के विरोध करने पर उनसे मारपीट भी की गई और वीडियो भी बनाया गया।

पहले तमंचा दिखा कर दो किशोरियों के साथ 5 आरोपियों ने किया गैंगरेप, फिर Video बना कर किया Viralhttps://t.co/vzLF7igoXV
— News18Hindi (@HindiNews18) November 22, 2019

हालाँकि, ये वीडियो पहले दोनों बहनों को ब्लैकमेल करने के लिए बनाया गया था और उनसे कहा गया था कि वे पाँचों जब भी उन्हें बुलाएँ तो उन्हें आना होगा। लेकिन, जब लड़कियों ने घटना के दो दिन उनकी ये बात नहीं मानी तो गुरुवार को उनका वीडियो वायरल कर दिया गया। धीरे-धीरे पूरे इलाके में इस वीडियो को देख हड़कंप मच गया और लड़कियों के घरवालों के पास भी ये वीडियो पहुँच गया। वीडियों में लड़कियों को देखकर घरवाले सन्न रह गए। उन्होंने बच्चियों से सारा मामला पता किया। घटना की जानकारी मिलते ही घरवालों ने ये मामला पुलिस में दर्ज करवाया और पुलिस ने आरोपितों की तलाश की।

बरेली में एक चौंकाने वाली वारदात देखने को मिली है. यहां पर दो किशोरियों के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया.@Uppolice @dgpup @UPGovt @myogiadityanath @bareillypolice #NewsState #UPPolice https://t.co/hNSmzeeOZ4
— News State (@NewsStateHindi) November 22, 2019

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार आरोपितों की पहचान वसीम(पुत्र यासीन),सावेज (पुत्र हामिद रजा खां), अखलाक(पुत्र इकरार खां),आरिफ (पुत्र भदय्या खां),आमिर (पुत्र घसीटे खां) के रूप में हुई है जिसके बाद पुलिस ने इन पर सामूहिक दुष्कर्म (376डी), आपराधिक धमकी देना (506), पॉक्सो एक्ट (3/4), 67ए आइटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है।
इलाके के एसएसपी शैलेश पांडेय ने जानकारी देते हुए बताया है कि सामूहिक दुष्कर्म (376डी), आपराधिक घटना के लिए धमकी देना (506),पॉक्सो एक्ट (3/4),67ए आइटी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।
चिप बदलने के चक्कर में वायरल हो गई वीडियो वर्ना दब जाती वारदात
वीडियो में आरोपितों की दबंगई आ रही सामने, गैंगरेप का सच तफ्तीश में खुलेगा


दो बहनों के साथ की गई क्रूरता का मामला लगभग पूरी तरह दब चुका था। इनमें से एक आरोपित के मोबाइल की चिप बदलने के चक्कर में वारदात खुल गई।
पांचों आरोपितों में से एक मोबाइल ठीक करता है। उसने अपने मोबाइल की चिप एक दोस्त के मोबाइल में डालकर दे दी। वह भूल गया कि उसने इसी चिप में घटना के वीडियो को सेव कर रखा है। दोस्त ने जब अपने ही गांव की किशोरी का वीडियो देखा तो इसे अपने और दोस्तों को भेज दिया। बुधवार सुबह से लेकर दोपहर तक यह वीडियो व्हाट्सएप पर दूर तक फैल गया। इलाके के कुछ पुलिसकर्मियों के पास तक यह वीडियो पहुंचा था लेकिन फिर भी अंजान बने रहे।
लड़कियों ने कहा- पुलिस से कहेंगे, लड़के बोले- हम बुला लेते हैं यूपी 100
रिपोर्ट में वसीम पर तमंचा दिखाकर खेत में ले जाने और वहां अपने चार साथियों के संग सामूहिक दुष्कर्म का आरोप और पॉस्को एक्ट में भी कार्रवाई हुई है। सत्यता परखने को थाने आए एसपी क्राइम ने जांच की तो देखा कि घटना में थोड़ी-थोड़ी देर के चार वीडियो हैं। इनमें दो लड़कियां अर्धनग्न हालत में हैं और अपने हाथ में पकड़े कपड़ों से शरीर छुपाने की कोशिश कर रही है। लड़कियां रोते हुए छोड़ने और वीडियो न बनाने को हाथ जोड़कर विनती कर रही हैं। वहीं लड़के उन्हें सबक सिखाने की बात कह रहे हैं। लड़के जब वीडियो बनाते हुए नेट पर डालने की धमकी देते हैं तो लड़कियों का परिचित कह रहा है कि तुम गलत काम कर रहे हो। लड़कियां रोते हुए पुलिस से शिकायत की बात कहती हैं तो एक लड़का उनके कपड़े खींचते हुए और हमलावर हो जाता है कि तू बाद में बुलाएगी, पहले हमीं यूपी 100 बुलाते हैं।
प्रमुख सचिव बहेड़ी में थे, दरोगा जी दबाए रहे तहरीर
प्रमुख सचिव नवनीत सहगल समेत अफसर बुधवार दोपहर जब बहेड़ी के गांवों में घूम रहे थे उसी वक्त पीड़ित कोतवाली में लिखित शिकायत लेकर पहुंचे। हलका दरोगा ने शाम तक लिखित शिकायत नहीं ली। उन्हें दिलासा देते रहे कि इंस्पेक्टर साहब आने वाले हैं तब लिखित शिकायत देना। वह कुछ नहीं कर सकते। साफतौर पर वह जिम्मेदारी से बच रहे थे। गुरुवार को भी दिनभर परिवारथाने के चक्कर काटता रहा । शाम को एसएसआई ने तहरीर तो ली पर यह कह दिया कि रिपोर्ट साहब के आने पर होगी। मीडिया कर्मियों ने दरोगा से इस बारे में पूछताछ की तो उनका कहना था कि घटना वाकई गंभीर है। वीडियो देखकर मेरी आंखों में आंसू आ गए कि लड़कियों के साथ इस कदर दबंगई की गई पर यह भी कहा कि बिना साहब के आदेश से हम कुछ नहीं कर सकते।
देवरनिया पुलिस ने दूसरा इलाका बताकर टरकाया
घटनास्थल वाली जगह पर देवरनियां और बहेड़ी पुलिस की सीमा है। इसी का फायदा उठाकर देवरनिया पुलिस ने पहले ही तहरीर ( लिखित शिकायत) लेकर आए परिवार को लौटा दिया। साफ कहा कि घटनास्थल हमारे यहां है ही नहीं, बहेड़ी जाइए। नियमानुसार पुलिस को मामला दर्ज कर लेना चाहिए था भले ही बाद में अफसर उसे सही घटनास्थल वाले थाने में ट्रांसफर कर देते। दूसरी बात यह कि कार्रवाई न करने वाली देवरनिया पुलिस के कई सिपाही बुधवार रात भर पीड़ित परिवार के घर के आसपास जुटे रहे। चर्चा थी कि वह मामले को मैनेज कराने की कोशिश में थे।
किशोरियों ने खुद कर ली आरोपितों की पहचान
गुरुवार सुबह जब मामला गरमाया तो पड़ोसी गांव में भी खलबली मच गई। पंचायत में प्रधान ने उस गांव के कई युवकों को बुलवाया और वहीं पीड़ित किशोरियों को भी उनके परिवार के साथ बुलाया गया। यहां दोनो बहनों ने भीड़ में से पांचों आरोपितों की पहचान कर ली। उन्होंने और उनके परिवार ने कहा कि वह इस मामले में किसी बेगुनाह को नही फंसायेंगे। इसके बाद आरोपितों के परिजन फैसले के लिए पीड़ित पक्ष के घर पहुंचे और दबाव बनाया जो हुआ उसे भूलकर फैसला कर लें। हालांकि इसके लिए लड़कियां और परिवार तैयार नहीं हुआ।
पहले भी हो चुकी है घटनाएं
पहले ठीक इसी तरह की एक घटना रिछा की एक युवती के साथ हो चुकी है। उसमें भी देवरनियां व बहेड़ी पुलिस सीमा विवाद के चक्कर में दो दिन तक पीड़िता को टरकाती रही थी। बाद में जब वीडियो वायरल हुआ और अधिकारियों की फटकार के बाद बहेड़ी पुलिस ने रिपोर्ट कराई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *