आहार में अखरोट शामिल करने के तीन कारण

अपने आहार में अखरोट को शामिल करने के 3 बड़े कारण

अखरोट स्वास्थ्य के लिये बहुत लाभदायक होते हैं और इसलिये इन्हें उत्कृष्ट खाद्य पदार्थों में गिना जाता है। अपने दैनिक आहार में अखरोट को शामिल करने से आप कार्डियोवैस्कुलर रोगों, कैंसर, मधुमेह और स्थायी प्रदाह से बच सकते हैं। इसके अलावा, शोध कहता है कि स्वास्थ्यकर आहार के भाग के तौर पर अखरोट बढ़ती आयु के साथ शारीरिक और ज्ञानात्मक स्वास्थ्य को ठीक रखने में भूमिका निभाते हैं। कैलिफोर्निया वालनट्स की नई पहल ‘‘पावर ऑफ 3’’ हर किसी से अपने साप्ताहिक आहार में कम से कम 3 मुट्ठी अखरोट जोड़ने और कम से कम तीन लोगों को इसके लाभ बताकर ऐसा करने की सलाह देने का आग्रह करती है, ताकि लोग स्वास्थ्यकर आहार विकल्पों के प्रति जागरूक हों। क्या इसके लिये और कारण चाहिये? अखरोट को आपके दैनिक आहार में शामिल करने के 3 प्रमुख कारण निम्नलिखित हैं:

अच्छी वसा (गुड फैट्स)

अखरोट मुख्य रूप से अच्छी, असंतृप्त वसा से बने होते हैं और प्रत्येक 28 ग्राम अखरोट में 2.5 ग्राम ओमेगा-3 अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (एएलए) होता है। 28 ग्राम अखरोट में कुल 18 ग्राम वसा होती है, 13 ग्राम पॉलीअनसैचुरेटेड और 2.5 ग्राम मोनोअनसैचुरेटेड, इस प्रकार यह अच्छी वसा वाले भोजन का आदर्श विकल्प हैं। FSSAI की ईट राइट गाइडलाइंस के अनुसार, संतृप्त और ट्रांस फैट की जगह मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स लेना चाहिये, जो प्राकृतिक रूप से सूखे मेवों, मछली और वनस्पति तेलों में होता है।1

पादप-शक्ति वाला प्रोटीन

संतुलित आहार के लिये विभिन्न रंगों वाली मौसमी सब्जियाँ और फल समेत विविधतापूर्ण खाद्य पदार्थ लेना जरूरी है।1 प्रोटीन पादप आहार में मिल सकता है, जैसे सूखे मेवे, बीज, फली, दाल और सोया-आधारित भोजन में। पादप प्रोटीन को अन्य स्रोतों में मिलाया जा सकता है, जैसे समुद्री भोजन, बिना चरबी वाला मांस, पोल्ट्री, अंडा और डेयरी उत्पाद, ताकि आपको संतुलित पोषण मिले। एक चौथाई कप अखरोट में 4 ग्राम पादप-आधारित प्रोटीन होता है।

पोषक तत्व, अभी

अखरोट लाभदायक पोषक तत्वों की एक श्रृंखला प्रस्तुत करते हैं, जो विभिन्न आहार योजनाओं के लिये उपयुक्त होती है, जैसे मेडिटेरेनियन और वेजीटेरियन से लेकर कम कार्बोहाइड्रेट वाला आहार। अच्छी वसा और पादप प्रोटीन के अलावा यह एंटीऑक्सीडैन्ट्स के प्राकृतिक स्रोत होत हैं, इनमें ग्‍लूटेन नहीं होता है और कार्बोहाइड्रेट कम होता है (28 ग्राम में 4 ग्राम, 2 ग्राम फाइबर समेत)। यह सक्रिय जीवनशैली को सहयोग देने वाली किसी भी स्वास्थ्यकर आहार योजना को समृद्ध बना सकते हैं और आपको कुछ ज्यादा करने की शक्ति दे सकते हैं।

तो अपने दैनिक आहार में अखरोट को शामिल करने का संकल्प लीजिये, ताकि आपका दिन ज्यादा स्वस्थ और पोषण से प्रचुर हो!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *