ब्लॉक क्षेत्र के एक गांव निवासी एक व्यक्ति की पत्नी की मौत होने पर उसने कई साल पहले मुरादाबाद जनपद की एक विधवा महिला से निकाह किया था। बताते हैं महिला के साथ उसकी बालिग बेटी भी साथ आई थी। कुछ साल बाद इस महिला ने अपनी बेटी की शादी पाकबाड़ा मुरादाबाद में कर दी। शादी के बाद युवती की एक बेटी हुई। पिछले साल कहासुनी के बाद युवती को उसके पति ने तलाक देकर घर से निकाल दिया। तब से युवती अपनी बेटी के साथ मायके में ही रह रही थी।

बताते हैं कि इस बीच 22 वर्षीय युवती को उसके 45 वर्षीय सौतेले पिता ने प्रेमजाल में फांस लिया और कुछ दिन पहले किसी अन्य शहर में उलेमा को गुमराह कर युवती से निकाह कर लिया। इसकी जानकारी युवती की मां को हुई तो उसने हंगामा कर दिया। मामला बिगड़ने पर ग्रामीण ने सौतेली बेटी को साथ रखने की बात कहते हुए अपनी पत्नी को तलाक दे दिया। इस पर महिला ने बुधवार को कोतवाली पहुंचकर पुलिस से मामले की शिकायत की। पुलिस ने दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद मामला आपस में निपटाने की बात कह उन्हें घर भेज दिया।

पत्नी ने काटा बवाल

nikah
सौतेली बेटी से बार्डर के जसपुर निवासी अधेड़ पिता द्वारा निकाह करने का मामला चर्चा का विषय बना हुआ है। जसपुर पुलिस से इस बारे में शिकायत करने वाली महिला ठाकुरद्वारा की निवासी है। जसपुर के एक गांव निवासी व्यक्ति ने अपनी पत्नी की मौत होने के बाद क्षेत्र के एक गांव की विधवा महिला से निकाह किया था।

महिला के साथ उसकी एक बालिग बेटी भी साथ आई थी। कुछ समय बाद महिला ने अपनी बेटी की शादी मुरादाबाद के पाकबड़ा में कर दी। लेकिन पति से कहा सुनी होने पर उसे उसके पति ने तलाक दे दिया। तब से वह अपनी मां के साथ मायके में रह रही थी। युवती की मां का आरोप है कि इस बीच उसकी बेटी को उसके सौतेले पिता ने अपने प्रेम जाल में फांस लिया।

कुछ दिन पहले उसे अन्य स्थान पर ले जाकर उलेमा को गुमराह कर युवती से निकाह कर लिया। जिसकी जानकारी युवती की मां को लगी तो उसने हंगामा शुरू कर दिया। जिस पर उसके पति ने महिला को तलाक दे दिया। सौतेली बेटी को ही साथ रखने की बात कही।

इस पर सौतेली बेटी की मां ने जसपुर कोतवाली में प्रार्थना पत्र देकर आरोपी पति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की। लेकिन पुलिस ने दोनों पक्षों को यह कहकर शांत कर घर भेज दिया कि मामला आपस में मिलकर सुलझा लें।

उधर जसपुर की चांद मस्जिद के इमाम शाकिर हुसैन का कहना है कि सौतेली बेटी से निकाह करना शरियत के हिसाब से हराम है। मुस्लिम समुदाय के लोगों को ऐसे लोगों का बहिष्कार करना चाहिए। यह घटना क्षेत्र में भी चर्चा का विषय बनी हुई है।

==========

::: वर्जन

सौतेली बेटी से निकाह करना शरीयत के हिसाब से हराम है। मुस्लिम समुदाय को ऐसे लोगों का बहिष्कार करना चाहिए।

-शाकिर हुसैन, इमाम कारी, चांद मस्जिद

सिरौली में गौकशीं करते दो पकड़े

पुलिस ने गोकशी करने के आरोप में दो लोगो को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से दो कुंतल गोमांस एवं एक गोवंशीय पशु की खाल बरामद की। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा कायम कर दिया है। बुधवार को गोवंश संरक्षण स्क्वॉड को सूचना मिली कि कुछ लोग सिरौली में गोकशी कर रहे हैं। पुलिस टीम ने मौके पर पहुंच कर दो व्यक्तियों को गोकशी करते पकड़ लिया। आरोपियों ने पुलिस को अपना नाम इमरान कुरैशी एवं शहादत कुरैशी निवासी सिरौली बताया। पुलिस टीम ने मौके से वध के लिये लाये गये एक बछड़े को बंधनमुक्त कराया। पुलभट्टा पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा कायम कर दिया है।