सीपीएम के बाद अब कांग्रेस भी मनाएगी ‘रामायण माह’,’हिंदू पाकिस्‍तान’ वाले शशि थरूर का लेक्‍चर

केरल में हर साल मनाया जाने वाला ‘रामायण माह’ इस बार राजनीतिक रंग लेता दिख रहा है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और तिरुवनंतपुरम से लोकसभा सांसद शशि थरूर ‘रामायण हमारा है’ विषय पर एक व्याख्यान देंगे.

तिरुवनंतपुरम: केरल में हर साल मनाया जाने वाला ‘रामायण माह’ इस बार राजनीतिक रंग लेता दिख रहा है. एक वाम समर्थक संगठन के बाद कांग्रेस से जुड़ा एक संगठन भी ‘रामायण माह’ के मद्देनजर कई कार्यक्रम आयोजित करने की तैयारी में है.

केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी की सांस्कृतिक शाखा विचार विभाग ने शुक्रवार को ‘रामायण परायण’ और सेमिनारों सहित कई कार्यक्रमों के आयोजन की घोषणा की. मलयालम कैलेंडर के आखिरी महीने ‘कर्ककिटकम’ को केरल में हिंदू समुदाय ‘रामायण माह’ के तौर पर मनाता है. इस साल यह 17 जुलाई से शुरू हो रहा है.

विचार विभाग के सूत्रों के मुताबिक, ‘रामायणम नम्मूदेथनु, नदिंते ननमयनु’ (रामायण हमारा है, यह समाज की अच्छाई है) के बैनर तले एक महीने लंबे कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रमेश चेन्नीथला 17 जुलाई को कार्यक्रमों का उद्घाटन करेंगे. सूत्रों ने बताया कि सुबह में ‘रामायण परायणम’ से कार्यक्रमों की शुरुआत होगी.

पूर्व केंद्रीय मंत्री और तिरुवनंतपुरम से लोकसभा सांसद शशि थरूर ‘रामायण हमारा है’ विषय पर एक व्याख्यान देंगे. केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब वाम समर्थक विद्वानों , शिक्षाविदों एवं वामपंथ से सहानुभूति रखने वालों के संगठन ‘संस्कृत संघ’ ने ‘रामायण माह’ में पूरे राज्य में सेमिनारों के आयोजन की योजना का खुलासा किया था. ‘संस्कृत संघ’ के बारे में यह भी कहा गया कि वह सत्ताधारी सीपीएम से जुड़ा संगठन है. हालांकि, संघ और सीपीएम दोनों ने इस बात को खारिज किया.

‘संस्कृत संघ’ के पदाधिकारियों ने मीडिया में आई इन खबरों को खारिज कर दिया कि ‘संस्कृत संघ’ सत्ताधारी सीपीएम की शाखा है. उन्होंने इस बात से इनकार किया कि वामपंथी पार्टी की ओर से ‘रामायण माह’ मनाए जाने की प्रक्रिया में यह सेमिनार आयोजित किए जा रहे हैं. सीपीएम के राज्य सचिव कोडियेरी बालाकृष्णन ने भी खबरों को खारिज करते हुए कहा था कि ‘रामायण माह’ मनाने की पार्टी की कोई योजना नहीं है.

बहरहाल, कांग्रेस नेता चेन्नीथला ने आज कहा कि विभिन्न धर्मों के उत्सवों को मनाने की कांग्रेस की परंपरा रही है. विचार विभाग के जिला अध्यक्ष विनोद सेन ने कहा कि रामायण पर पूरे जिले में कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे.

फंसे कांग्रेस सांसद शशि थरूर, कोलकाता की अदालत ने भेजा समन

अदालत द्वारा भेजे गए समन में शशि थरूर को 14 अगस्‍त को हाजिर होने का आदेश दिया गया है.

'हिंदू पाकिस्‍तान' वाले बयान पर फंसे कांग्रेस सांसद शशि थरूर, कोलकाता की अदालत ने भेजा समन
कांग्रेस सांसद शशि थरूर (फाइल फोटो)

ANI
@ANI

Congress MP Shashi Tharoor summoned by Kolkata Court over his ‘Hindu-Pakistan’ comment. Advocate Sumeet Chowdhury had filed the case alleging Tharoor’s comments had hurt religious sentiments and insulted the Constitution. Tharoor has been asked to appear on August 14 (file pic)

उल्लेखनीय है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने कहा था कि ‘अगर साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा जीती, तो हिंदुस्तान का संविधान खतरे में पड़ जाएगा. भारत ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा और भाजपा की जीत से लोकतांत्रिक मूल्य खतरे में पड़ जाएंगे.

कांग्रेस नेता शशि थरूर के ‘हिंदू पाकिस्तान’ वाले बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुए भाजपा ने कहा था कि ‘हिन्दू पाकिस्तान’ शब्द का प्रयोग करके कांग्रेस पार्टी ने हिन्दुस्तान के लोकतंत्र तथा देश के हिन्दुओं पर प्रहार किया है और राहुल गांधी को थरूर के बयान पर माफी मांगनी चाहिए.

भाजपा प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा कि शशि थरूर का यह कहना है कि अगर 2019 में भाजपा सरकार बनाती है तो भारत ‘हिन्दू पाकिस्तान’ बन जाएगा. इससे ज्यादा आपत्तिजनक विषय भारत के लिए और कोई नहीं हो सकता है.

कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि ‘‘हिन्दू पाकिस्तान’’ शब्द का प्रयोग करके कांग्रेस पार्टी ने हिन्दुस्तान के लोकतंत्र और देश के हिन्दुओं पर प्रहार किया है. पात्रा ने कहा कि मोदी और भाजपा से नफरत करते-करते कांग्रेस पार्टी लक्ष्मण रेखा लांघ गई है और हिन्दुस्तान और हिन्दुस्तान के लोकतंत्र के खिलाफ बोलना शुरू कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *