विश्लेषणःसबसे ज्यादा 51.6% सवर्ण हिंदु वोट एनडीए, 40.8% मुस्लिम वोट यूपीए को 

सीवोटर और न्यूज एजेंसी का धार्मिक-जातिगत आधार पर मतदान का विश्लेषण
एनडीए को 47.1% ओबीसी, 43.2% एसटी और 39.5% एससी मतदाताओं ने वोट दिया
नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव में सबसे ज्यादा 51.6% सवर्ण हिंदू और 47.1% पिछड़ा वर्ग के मतदाताओं ने भाजपा की अगुआई वाले एनडीए को वोट दिया। वहीं, कांग्रेस की अगुआई वाले यूपीए पर सबसे ज्यादा 40.8% मुस्लिम और 30.1% आदिवासी मतदाताओं ने भरोसा जताया। यह बात न्यूज एजेंसी आईएएनएस और सीवोटर के एनालिसिस में सामने आई है।

इसके मुताबिक, एनडीए को सत्ता में वापसी के लिए 47.1% ओबीसी, 43.2% एसटी और 39.5% एससी मतदाताओं ने वोट दिया है। जबकि कांग्रेस की अगुआई वाले यूपीए पर ओबीसी ने कम भरोसा जताया। उसे ओबीसी मतदाताओं के सबसे कम 25.4% वोट मिले। यूपीए को 30.1% एसटी और 29.1% एससी मतदाताओं का समर्थन मिला।

सिख और ईसाई वोटर्स ने यूपीए से ज्यादा एनडीए को चुना
धार्मिक आधार पर मतदाताओं का विश्लेषण करने पर सामने आया है कि 51.6% सवर्ण हिंदू वोटरों ने मोदी और एनडीए पर भरोसा जताया। 45.7% ईसाई और 38.2% सिख मतदाताओं के वोट भी एनडीए के खाते में आए। वहीं, सबसे ज्यादा 40.8% मुस्लिम मतदाताओं ने यूपीए को वोट दिया। इसके अलावा 28% सिख और 27.8% ईसाई वोट भी यूपीए को मिले हैं।

सर्वे में खुलासा: SC, ST, OBC और सवर्ण हिंदुओं ने एनडीए को जमकर दिया वोट

लोकसभा चुनाव के परिणाम आ चके हैं। अब मंथन चल रहा है कि किन किन समुदायों ने जमकर वोट दिया जिससे एनडीए 353 सीटें जीतने में कामयाब हुआ।

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को हाल ही में सम्पन्न आम चुनावों में सबसे ज्यादा समर्थन अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) से और उसके बाद अनुसूचित जनजाति (एसटी) और अनुसूचित जाति (एससी) से मिला है। आईएएनएस-सीवोटर ने मतदान पैटर्न का अध्ययन करने के बाद यह निष्कर्ष निकाला है। सामाजिक समूहों में एनडीए को 47.1 प्रतिशत ओबीसी ने, 43.2 प्रतिशत एसटी ने और 39.5 प्रतिशत एससी ने वोट दिया।

इसकी तुलना में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) को सबसे ज्यादा (30.1 प्रतिशत) एसटी वोट मिले। इसके बाद उसे एससी (29.8 प्रतिशत) और ओबीसी (25.4 प्रतिशत) वोट मिले।

मतदान पद्धति के धर्म-आधारित विश्लेषण से पता चला कि एनडीए के सबसे बड़े समर्थक सवर्ण हिंदू हैं जिसके 51.6 प्रतिशत समुदाय ने नरेंद्र मोदी की अगुआई वाले गठबंधन को वोट दिया।

वहीं, दूसरी तरफ, संप्रग को 40.8 प्रतिशत मुस्लिम वोट मिले। आंकड़े बताते हैं कि राजग को 45.7 प्रतिशत ईसाइयों और 38.2 प्रतिशत सिखों ने वोट दिए।

संप्रग को 28 प्रतिशत सिख और 27.8 प्रतिशत ईसाई वोट मिले। मुस्लिमों को छोड़कर, अन्य सभी धार्मिक समुदायों ने राष्ट्रीय रुझानों के अनुसार राजग को वोट दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *