वसंत विहार कॉम्प्लेक्स में ज़बरदस्त धमाका

ज़बरदस्त धमाके के बाद देहरादून के कॉम्पलेक्स की हालत
स्थानीय लोगों ने कहा कि विस्फ़ोट से इतना ज़्यादा नुक़सान हुआ है कि यह सिलेंडर फटने से नहीं हो सकता. लोगों ने दुकान में किसी तरह के विस्फोटक होने की आशंका जताई. धमाका इतना ज़बरदस्त था कि 500 मीटर की दूरी तक परखच्चे उड़ कर घरों में गिरे.
राजधानी देहरादून के पॉश इलाके वसंत विहार में आज सुबह 4 बजकर 25 मिनट पर ज़बरदस्त विस्फोट हुआ. विस्फोट वसंत विहार के आईटीबीपी रोड पर स्थित एक कॉम्प्लेक्स में हुआ. इसकी सूचना मिलते ही दमकलकर्मी मौके पर पहुंचे और आग पर काबू पाया.  मामले की गंभीरता और विस्फोट के कारणों का पता लगाने के लिए मौके पर बम डिस्पोजल और पुलिस अधिकारी पहुंचे. घटनास्थल का निरीक्षण किया जा रहा है हालांकि अधिकारी मामले पर बोलने से बचते रहे.स्थानीय लोगों की मानें तो विस्फ़ोट इतना ज़बरदस्त था कि पूरे कॉम्प्लेक्स में दरारें आ गईं. अगल बगल की इमारतों को भी धमाके से भारी नुक़सान हुआ है.
राजधानी देहरादून के पॉश इलाके वसंत विहार में आज सुबह 4 बजकर 25 मिनट पर ज़बरदस्त विस्फोट हुआ.

धमाका इतना ज़बरदस्त था कि 500 मीटर की दूरी तक परखच्चे उड़ कर घरों में गिरे.  स्थानीय लोगों ने कहा कि विस्फ़ोट से इतना ज़्यादा नुक़सान हुआ है कि यह सिलेंडर फटने से नहीं हो सकता. लोगों ने दुकान में किसी तरह के विस्फोटक होने की आशंका जताई.

मामले की गंभीरता और विस्फोट के कारणों का पता लगाने के लिए मौके पर बम डिस्पोजल और पुलिस अधिकारी पहुंचे. घटनास्थल का निरीक्षण किया जा रहा है हालांकि अधिकारी मामले पर बोलने से बचते रहे.

स्थानीय लोगों ने कहा कि विस्फ़ोट से इतना ज़्यादा नुक़सान हुआ है कि यह सिलेंडर फटने से नहीं हो सकता. लोगों ने दुकान में किसी तरह के विस्फोटक होने की आशंका जताई. स्थानीय लोगों ने कहा कि विस्फ़ोट से इतना ज़्यादा नुक़सान हुआ है कि यह सिलेंडर फटने से नहीं हो सकता. लोगों ने दुकान में किसी तरह के विस्फोटक होने की आशंका जताई. कॉम्पलेक्स के पड़ोस में ही एक दुकान चलाने वाले दुर्गेश ने कहा कि रात दो बजे तक उस दुकान में लोग मौजूद थे और झगड़ा भी हुआ था. दुर्गेश ने कहा कि मामला संदिग्ध लग रहा है.

कॉम्पलेक्स के पड़ोस में ही एक दुकान चलाने वाले दुर्गेश ने कहा कि रात दो बजे तक उस दुकान में लोग मौजूद थे और झगड़ा भी हुआ था. दुर्गेश ने कहा कि मामला संदिग्ध लग रहा है. कॉम्पलेक्स के पड़ोस में ही एक दुकान चलाने वाले दुर्गेश ने कहा कि रात दो बजे तक उस दुकान में लोग मौजूद थे और झगड़ा भी हुआ था. दुर्गेश ने कहा कि मामला संदिग्ध लग रहा है. विस्फ़ोट कितना ज़बरदस्त था इसका अंदाज़ा इसीसे लगाया जा सकता है कि कॉम्पलैक्स के सामने रहने वाले वरुण के घर के सारे शीशे टूट गए और बाउंड्री वॉल भी ढह गई.

विस्फ़ोट कितना ज़बरदस्त था इसका अंदाज़ा इसीसे लगाया जा सकता है कि कॉम्पलैक्स के सामने रहने वाले वरुण के घर के सारे शीशे टूट गए और बाउंड्री वॉल भी ढह गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *