वर्ल्ड कप: पॉइंट टेबल में भारत नंबर वन; फ़ायदा / नुक़सान ?

वर्ल्ड कप 2019 के ग्रुप स्टेज मैच में कई चौंकाने वाले नतीजों के बाद शनिवार को सेमीफ़ाइनल की चार टीमों की तस्वीर साफ़ हो गई है.शनिवार को भारत ने अपने आख़िरी मैच में श्रीलंका को आसानी से हरा दिया तो दूसरी तरफ़ वर्ल्ड कप के अंक तालिका में नंबर वन की टीम ऑस्ट्रेलिया सातवें नंबर की टीम दक्षिण अफ़्रीका से हार गई.इसका नतीजा यह हुआ कि अंक तालिका में अब भारत 15 अंकों के साथ पहने नंबर पर आ गया और ऑस्ट्रिलिया 14 अंकों के साथ पहले से दूसरे नंबर पर आ गया. हालांकि दक्षिण अफ़्रीका पहले ही वर्ल्ड कप की रेस से बाहर हो गया था.

ऑस्ट्रेलियाइमेज कॉपीराइटGETTY IMAGES

तीसरे नंबर पर इंग्लैंड और चौथे नंबर पर न्यूज़ीलैंड है. नौ जुलाई को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफ़र्ड मैदान में सेमीफ़ाइन में भारत का मुक़ाबला न्यूज़ीलैंड से होगा.ग्रुप मैच में भारत और न्यूज़ीलैंड का मुक़ाबला बारिश के कारण रद्द हो गया था. मतलब इस वर्ल्ड कप में दोनों टीमें पहली बार सीधे सेमीफ़ाइनल में भिड़ेंगी.न्यूज़ीलैंड शुरुआत में नंबर वन पर थी और काफ़ी मज़बूत टीम मानी जा रही थी लेकिन पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड से बुरी तरह से हार का सामना करना पड़ा था.

न्यूज़ीलैंडइमेज कॉपीराइटGETTY IMAGES

दूसरी तरफ़ भारत ने कुल नौ मैच में आठ मैच खेले हैं और महज एक मैच में इंग्लैंड से 31 रनों से हार का सामना करना पड़ा था. ग्रुप मैचों के नतीजों के आधार पर देखें तो न्यूज़ीलैंड पर भारत भारी दिख रहा है.अगर भारत पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर होता तो सेमीफ़ाइनल में इंग्लैंड से मुक़ाबला होता. इंग्लैंड ने ग्रुप मैच में भारत को हराया था इसलिए भारत जब सेमीफ़ाइनल में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ उतरता तो जेहन में वो हार ज़रूर होती.

इंग्लैंडइमेज कॉपीराइटGETTY IMAGES

दूसरे सेमीफ़ाइनल में 11 जुलाई को बर्मिंगम के एजबेस्टन मैदान में ऑस्ट्रेलिया का मुक़ाबला इंग्लैंड से होना है.ग्रुप मैच में इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया से हार चुका है. ग्रुप मैच में ऑस्ट्रेलिया ने नौ मैचों में से कुल सात मैच जीते हैं जबकि इंग्लैंड ने छह. इस आधार पर देखें तो ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड पर भारी दिख रहा है. 14 जुलाई को लंदन के लॉर्ड्स मैदान में वर्ल्ड कप 2019 का फ़ाइनल मैच है.भारत और न्यूज़ीलैंड क्रिकेट विश्व कप में अतीत में सात बार भिड़ चुके हैं. इसकी शुरुआत 1975 के वर्ल्ड कप से ही होती है. यह मैच मैनचेस्टर में हुआ था. न्यू़ज़ीलैंड ने चार विकेट से भारत को हरा दिया था. ख़राब गेंदबाज़ी के कारण भारत इस मैच को हारा था.इसके बाद 1979 के वर्ल्ड कप में 13 जून को लीड्स दोनों देश आमने-सामने हुए थे और इसमें भारत को 6 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था. भारत ने महज 183 रनों का टारगेट दिया था, जिसे न्यूज़ीलैंड ने आसानी से हासिल कर लिया था.कुल सात मैचों में तीन में भारत और चार में न्यूज़ीलैंड विजेता रहा था.

भारत की मज़बूती

आठ मैचों में 647 रन बनाने वाले भारतीय ओपनर रोहित शर्मा टूर्नामेंट के सबसे कामयाब बल्लेबाज़ हैं जबकि आठ मैचों में 17 विकेटों के साथ जसप्रीत बुमराह टूर्नामेंट के सबसे कामयाब पांच गेंदबाज़ों में शामिल हैं.न्यूज़ीलैंड के लॉकी फर्ग्यूसन ने भी 17 विकेट लिए हैं. जबकि न्यूज़ीलैंड के सबसे कामयाब बल्लेबाज़ कप्तान केन विलियम्सन हैं जिन्होंने आठ मैचों में 481 रन बनाए हैं. भारतीय कप्तान विराट कोहली आठ मैचों में 442 रन बना चुके हैं.

रोहित शर्माइमेज कॉपीराइटGETTY IMAGES

ऑस्ट्रेलिया के पास पहले स्थान पर पहुंचने का मौक़ा था लेकिन उसे आखिरी लीग मैच में दक्षिण अफ्रीका ने 10 रन से हरा दिया. मैनचेस्टर में खेले गए मैच में दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 50 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 325 रन बनाए थे. दक्षिण अफ्रीका के लिए कप्तान फॉफ डू प्लेसी ने 100 रन बनाए.326 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम 49.5 ओवरों में 315 रन बनाकर ऑल आउट हो गई. ऑस्ट्रेलिया के लिए वार्नर ने 122 रन बनाए. बाकी बल्लेबाज़ बड़ी पारी नहीं खेल सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *