लोस चुनाव  पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, राहुल  के करीबी टॉम वडक्कन भाजपा के साथ

भाजपा में  शामिल हुए टॉम वडक्कन ने कहा कि सेना को लेकर कांग्रेस के रुख से बेहद दुखी हूं.
नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव 2019 से पहले कांग्रेस के केंद्रीय नेतृत्व को बड़ा झटका लगा है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता टॉम वडक्कन गुरुवार को भाजपा में शामिल हो गए. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भाजपा में आने पर उनका स्वागत किया. टॉम वडक्कन केरल के त्रिशूर जिले से आते हैं. टॉम वडक्कन काफी लंबे से कांग्रेस में रहे हैं, वह पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निजी सहायक रहे हैं. वडक्कन लंबे समय तक कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रहे हैं. राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद भी वह उनके करीबी माने जाते हैं.

भाजपा में शामिल होने के बाद टॉम वडक्कन ने कहा, ‘मैंने 20 साल कांग्रेस को दिए. कांग्रेस में वंशवाद की राजनीति हावी है. पुलवामा हमले के बाद कांग्रेस के रुख से मैं काफी दुखी हूं. कांग्रेस पुलवामा हमले पर राजनीति कर रही है. मैं भारी मन से कांग्रेस को छोड़ रहा हूं.पाकिस्तानी आतंकियों का हमारी जमीन पर हमला और आप उस पर राजनीति करते हैं.’

उन्होंने कहा कि जब आप देश की सेनाओं पर सवाल उठाते हैं तो इससे दुख होता है. कांग्रेस और छोड़ना और बीजेपी में शामिल होना विचारधारा की बात नहीं है, यह देश प्रेम की बात है. टॉम वडक्कन पूर्व प्रधानमंत्री और दिवंगत कांग्रेस नेता राजीव गांधी के सहायक भी रहे हैं.

वडक्कन केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए . उन्होंने बाद में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात की . वडक्कन ने कहा, ‘‘ मैं बेहद आहत हूं, इसलिये यहां हूं . ’’ उन्होंने जोर दिया कि कांग्रेस सशस्त्र बलों की ईमानदारी पर सवाल उठा रही है. उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले में कांग्रेस की प्रतिक्रिया निराशजनक रही है .

वडक्कन ने कहा, ‘‘अगर कोई पार्टी राष्ट्रीय हितों के खिलाफ काम करती है, तब पार्टी छोड़ने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचता है . ’’ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व पर परोक्ष हमला करते हुए उन्होंने कहा कि वे अब इस्तेमाल करो और फेंकों की नीति अपना रहे हैं . उन्होंने कहा कि वंशवादी राजनीति कांग्रेस में चरम पर है और उन्हें प्रधानमंत्री मोदी की विकास पहल पर पूरा भरोसा है . समझा जाता है कि बीजेपी लोकसभा चुनाव में वडक्कन को केरल की किसी सीट से उम्मीदवार बना सकती है.

वडक्कन के जाने का दुख, आशा है कि बीजेपी में उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी: कांग्रेस
कांग्रेस ने अपने प्रवक्ता टॉम वडक्कन के भाजपा में शामिल होने पर आज दुख जाहिर किया और उम्मीद जताई कि वहां उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘उन्हें हमारी शुभकामनाएं. उनके जाने का दुख है. आशा है कि वहां उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी.’ एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद वडक्कन ने खुद टेलीविजन चैनलों पर प्रधानमंत्री पर सवाल किए थे. गौरतलब है कि कांग्रेस के प्रवक्ता वडक्कन भाजपा में शामिल हो गए हैं. वडक्कन का कहना है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद जिस तरह कांग्रेस ने सवाल खड़े किए, उससे वह बहुत नाराज़ हैं. पार्टी का रुख देश के खिलाफ होता जा रहा था, इसलिए उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *