लव जिहाद:तीन बच्चों का पिता इमरान भाटी कबीर शर्मा बन युवती,11 लाख नकद और 5 लाख के जेवर समेत गायब

युवती के पिता ने शादी के दौरान मोबाइल में खींची गई फोटो परिचितों को दिखाई. इस दौरान पता चला कि युवक का नाम कबीर शर्मा नहीं, बल्कि इमरान भाटी है.

फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

शादियों के कई अलग-अलग किस्से-कहानी आपने खूब सुने होंगे लेकिन आज हम आपको एक ऐसी शादी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें बारात से लेकर दूल्हे के माता-पिता तक सब फर्जी  निकले. मामला राजस्थान के सीकर का है जहां एक शातिर दूल्हे ने एकदम फिल्मी अंदाज में नकली माता-पिता और बारात लाकर शादी रचा ली.बाद में युवती के गायब होने पर उसके परिजनों ने खोजबीन शुरू की तो उनके पैरों तले से जमीन खिसक गई.युवती के पिता ने थाने पहुंचकर जब पूरी घटना बताई तो पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए. पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अमन दीप सिंह कपूर ने मामला दर्ज कर आरोपी युवक व युवती की तलाश में विशेष टीम को लगाया है, लेकिन अभी तक उनका कोई पता नहीं चल पाया है.

  • फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

    जयपुर/सीकर : वह पहले से शादीशुदा था, लेकिन फर्जी पहचान के आधार पर धर्म बदला, दूसरी बार फेरे लिए और पैसों-गहनों के साथ फरार हो गया। राजस्थान के सीकर में हुई कथित लव जिहाद की इस अजीबोगरीब घटना से सबके होश उड़ गए हैं। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है। सीकर के निवासी एक शख्स ने हाल में ही अपनी बेटी की शादी की थी। एक दिन सुबह उठने पर उन्हें अपने घर से पैसे और गहने गायब मिले, जिससे वह परेशान हो गए और कुछ समझ नहीं आया। उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद ‘लव जिहाद’ का यह मामला परत-दर-परत खुलकर सामने आया। आरोपी की पहचान 30 वर्षीय इमरान के तौर पर हुई है, जिसने ‘कबीर शर्मा’ बनकर शादी का खेल खेला।आरोप है कि सीकर में तीन बच्चों के पिता इमरान खान ने अपना नाम बदलकर कबीर शर्मा कर लिया और एक युवती से शादी रचा ली. शादी से पहले लड़कीवालों को भरोसा दिलाने के लिए इस फर्जी दूल्हे ने नकली माता-पिता तक बना लिए. यही नहीं आरोपी दूल्हा फर्जी चाचा-चाची और मामा-मामी बनाकर युवती के घर पहुंच गया.

    कबीर शर्मा नाम बताकर युवती से शादी करने वाला आरोपी अपने नकली परिजनों और सगे संबंधियों के साथ लड़की वालों के घर पहुंचा और तिलक की रस्म भी अदा कर दी. तिलक की रस्म के बाद लड़के के परिजनों को साथ देखकर युवती के घर वालों को उस पर यकीन हो गया और उन्होंने शादी की तैयारी शुरू कर दी. हद तो तब हो गई जब वह नकली बारात लेकर शादी के लिए युवती के घर भी पहुंच गया और धूमधाम से शादी भी रचा ली.

    फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

    आरोपी युवक ने सिर्फ पहचान छुपाकर युवती से शादी ही नहीं की बल्कि लड़की के घरवालों से 11 लाख रुपये दहेज भी ऐंठ लिए और किसी को पता तक नहीं चला.उनकी इस धोखाधड़ी की भनक परिवार को शादी के तीन महीने तक पता नहीं चली थी। एक दिन सुबह उठने पर उन्हें अपने घर से पैसे और गहने गायब मिले, जिससे वह परेशान हो गए और कुछ समझ नहीं आया। उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई, जिसके बाद ‘लव जिहाद’ का यह मामला परत-दर-परत खुलकर सामने आया। आरोपी की पहचान 30 वर्षीय इमरान के तौर पर हुई है, जिसने ‘कबीर शर्मा’ बनकर शादी का खेल खेला।

    11 लाख नगद और 5 लाख के जेवर दहेज में दिए

    लड़की के पिता के मुताबिक इकलौती बेटी होने के कारण उन्होंने दिल खोलकर दहेज दिया. शादी में 11 लाख रुपए नगद, पांच लाख के जेवरात, कपड़े, डेढ़ लाख रुपए रिसोर्ट का किराया, एक लाख 70 हजार रुपए खाने पर खर्च किया. वहीं, कैटरिंग का अलग से भुगतान करने के बाद वह वापस सीकर आ गए.

    हर कोई ब्राह्मण बनकर आया

    शादी से पहले दोनों परिवारों ने जयपुर में एक सगाई की रस्म अदा की थी. जिसमें युवक और उसके फर्जी माता-पिता व रिश्तेदार बने लोगों ने खुद को ब्राह्मण बताया और अपने-अपने गोत्र भी बताए. लोगों की बात से संतुष्ट लड़की के पिता ने दोनों की शादी 13 मई को तय की. युवक ने युवती के पिता को जयपुर बुलाया और लोहामंडी स्थित मातेश्वरी रिसोर्ट बुक करवा. इसके बाद तय तारीख पर युवती के परिजन शादी करने के लिए जयपुर पहुंच गए. शादी में आने वाले सभी लोग ब्राह्मण समाज के बनकर आए थे. सबने तिलक लगा रखे थे और हिन्दू रीति रिवाज में पूरी रस्म निभाई.

    लोगों ने कहा- यह तो इमरान भाटी है

    युवती के घर से गायब होने के बाद उसके पिता ने कबीर से संपर्क करने की कोशिश की. जिसके लिए युवती के पिता ने शादी के दौरान मोबाइल में खींची गई फोटो परिचितों को दिखाई. इस दौरान पता चला कि युवक का नाम कबीर शर्मा नहीं, बल्कि इमरान भाटी है. शहर के वार्ड 28 अंजूमन स्कूल के पास रहने वाला इमरान पहले एक मोटर कंपनी में काम करता था. इमरान पहले से शादीशुदा है. उसकी पत्नी और तीन बच्चे घर पर ही रहते हैं.

    इमरान से बना ‘कबीर शर्मा’, फर्जी फैमिली भी की तैयार 
    दरअसल, इस केस में तीन बच्चों के पिता इमरान ने फर्जी कागजातों के आधार पर खुद को हिंदू बताया। उसने अपना नाम कबीर शर्मा रखा और एक युवती को प्रेम जाल में फंसा कर शादी कर ली। किसी को शक ना हो इस वजह से आरोपी ने फर्जी नाम, जाति और धर्म बदलने के साथ पूरा फर्जी परिवार भी तैयार कर लिया। 3 महीने तक किसी को भनक तक नहीं लगी कि आरोपी दूसरे धर्म का है।

    शादी की फोटो दिखाकर हुई आरोपी की पहचान 
    आरोपी के फरार होने के बाद जब परिजनों और पुलिस ने शादी के दौरान मोबाइल में खींची गई फोटो दिखाकर उसे ढूंढना शुरू किया। इसके बाद ही उन्हें अपने साथ हुए धोखे का पता चला। इस पूरे घटनाक्रम के खुलासे के बाद पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए। विशेष टीम बनाकर आरोपी तथा उसके सहयोगियों की तलाश शुरू कर दी गई है।

    शादी-दहेज में किया था लाखों का खर्च, फिर उड़ गए लाखों 
    लड़की के पिता के मुताबिक उनकी बेटी इकलौती थी, जिस कारण उन्होंने दिल खोलकर खर्च किया था। दहेज के तौर पर शादी में 11 लाख रुपए नगद, करीब 5 लाख के जेवरात, कपड़े, डेढ़ लाख रुपए रिजॉर्ट का किराया सहित अन्य तमाम खर्चे किए।

  • फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

    पीड़ित के मुताबिक आरोपी शादी के कुछ ही दिन बाद फिर से घर आया और 5 लाख रुपये की जरूरत होने की बात कहने लगा। अगली सुबह होने से पहले ही वह लाखों रुपये और गहने लेकर चंपत हो गया।हालांकि, वास्तविकता यह थी कि वह हिंदू दूल्हे के रूप में एक मुस्लिम था जो कि पहले से शादीशुदा और तीन बच्चों का पिता था। सच्चाई सामने आने पर इमरान खान उर्फ कबीर शर्मा अपनी नई दुल्हन के साथ गायब हैं।खुद को जयपुर का रहने वाला बताकर लड़की से शादी रचाने वाले आरोपी इमरान की पोल तीन महीने बाद खुली तो

    उन लोगों की बात से संतुष्ट युवती के पिता ने दोनों की शादी 13 मई को तय की। युवक ने युवती के पिता को जयपुर बुलाया और लोहामंडी स्थित मातेश्वरी रिसोर्ट बुक करवा। इसके बाद तय तारीख पर युवती के परिजन शादी करने के लिए जयपुर पहुंच गए। शादी में आने वाले सभी लोग ब्राह्मण समाज के बनकर आए थे। सबने तिलक लगा रखे थे और हिंदू रीति-रिवाज में पूरी रस्म निभाई। शादी के छह दिन युवती को इमरान ने वापस सीकर भेज दिया गया। इस बीच, इमरान खुद युवती के घर पहुंचा और पत्नी के पिता से पांच लाख रुपये की जरूरत बताई।

    इसके बाद वह वापस जयपुर जाने की बात कहकर चला गया। युवक के लगातार दबाव के चलते पिता ने अपने परिचित से ढाई लाख रुपये उधार लिए। इसके बाद युवती 17 मई की रात घर से गायब हो गई। घर में रखे ढाई लाख रुपये, उसकी मां के लाखों के जेवरात भी गायब थे। मामला दर्ज होने के बाद भी पुलिस अभी तक कबीर बने इमरान व उसके फर्जी परिवार, रिश्तेदारों तक नहीं पहुंच पाई है। इसकी वजह है कि आरोपितों ने बहुत ही चालाकी से पूरे फर्जीवाड़े को अंजाम दिया। शादी के लिए वीडियो और फोटोग्राफर भी जालसाजों ने खुद ही तय किए थे। हालांकि, मोबाइल से खींचे गए कुछ फोटो युवती के परिवार के पास है। उनमें साफ दिख रहा है कि शादी की रस्में हिंदू रीति-रिवाज से निभाई गई हैं। 

  • फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

    उसे और अपनी की बेटी का पता लगाने में नाकाम रहे लड़की के माता-पिता ने पुलिस में मामला दर्ज किया। वह शख्स 1100000 रु पए के मूल्य की नकदी और आभूषणों के साथ चम्पत हो गया है।पुलिस अभी फर्जी माता-पिता और रिश्तेदारों को भी नहीं पकड़ पाई है। आरोपी ने सभी चीजे योजना से की थी और उसी कड़ी में उसने फोटोग्राफर्स और वीडियोग्राफर भी खुद ही तय किए थे। लेकिन मोबाइल में कुछ तस्वीरें मिल गई।

  • फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

    धोखाधड़ी की बात सामने आने के बाद युवती के परिजनों ने आरोपी इमरान के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज कराई और आरोप लगाया कि वो पहले से ही तीन बच्चों का बाप है और धोखे से उससे शादी की है.

  • फर्जी बाप संग आए मुस्लिम युवक ने धोखे से रचाई शादी, ऐंठा 11 लाख दहेज

    लड़की के परिजनों के मुताबिक आरोपी इमरान के तीन बच्चे हैं जो जयपुर में रहते हैं और वो खुद सीकर में ही एक मोटर कंपनी में काम करता है. युवती के परिजनों की तरफ से शिकायत मिलने के बाद पुलिस इमरान की तलाश में जुट गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *