रूक सकती है पेट्रोल पंपों पर ग्राहकों से धोखाधड़ी! सुको ने भी सरकार से कहा ‘ध्‍यान दें’

जस्टिस एके सीकरी की अध्‍यक्षता वाली बेंच ने यह आदेश दिए.

इस तरह से पेट्रोल पंपों पर रूक सकती है ग्राहकों से धोखाधड़ी! सुप्रीम कोर्ट ने भी सरकार से कहा 'ध्‍यान दें'

(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्‍ली : देशभर में कई पेट्रोल पंपों पर ग्राहकों से की जाने वाली धोखाधड़ी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया है. शीर्ष अदालत ने खुद केंद्र सरकार और पेट्रोलियम मंत्रालय को आदेश दिया है कि वह देशभर में पेट्रोल पंपों पर धोखाधड़ी को रोकने के लिए पारदर्शिता और निष्पक्षता के लिए कदम उठाएं. जस्टिस एके सीकरी की अध्‍यक्षता वाली बेंच ने यह आदेश दिए.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट में अधिवक्‍ता अमित साहनी द्वारा दायर एक जनहित याचिका दायर की गई थी. अधिवक्‍ता ने पीआईएल में आरोप लगाया था कि पेट्रोल पंप पल्स मीटर में “माइक्रोचिप” लगाकर तेजी से ईंधन भरने या दूसरे तरीके अपनाकर ग्राहकों को कम ईंधन का वितरण कर धोखा देते हैं.be alert during card payment on petrol pumps, details of debit cards stolenयाचिका में यह भी कहा गया है कि कुछ जगहों पर ग्राहकों के व्‍यवहार को देखते हुए ईंधन के माप को बढ़ाने या घटाने के लिए रिमोट का भी इस्‍तेमाल किया जा सकता है. इसके अलावा साहनी ने जनहित याचिका में यह भी कहा कि खबरों के अनुसार, देश भर के पेट्रोल पंपों पर धोखा इस हद तक है कि इस धोखाधड़ी को देखते हुए पेट्रोलियम मंत्री ने खुद राज्य सरकारों को पेट्रोल पंपों पर औचक निरीक्षण करने और चिप्स की जांच करने की सलाह दी थी. ऐसी धोखाधड़ी को रोकने के लिए याचिका में सलाह में दी गई कि पेट्रोल पंपों पर ईंधन वेंडिंग के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले काली होज़ पाइपों के बदले को पारदर्शी पाइपों का इस्‍तेमाल किया जाए, ताकि उपभोक्ता अपने वाहनों में डाले जाने वाले ईंधन को साफ देख सकें.दिल्'€à¤²à¥€: 155 फीट लंबी सुरंग खोदी और 3 महीने में चुराया 1 लाख लीटर से ज्'€à¤¯à¤¾à¤¦à¤¾ पेट्रोलउन्होंने यह भी सुझाव दिया कि माप के साथ पारदर्शी डिस्पेंसर भी पेट्रोल पंपों पर फ्यूल वेंडिंग मशीन से जोड़ा जाए जिससे ईंधन पहले पारदर्शी डिस्पेंसर में भरा जाए है और फिर पारदर्शी नली के माध्यम से वाहन में भरा जाए.

Petrol पंप पर ठगे जा रहे हैं आप ? इन 11 TIPS का रखें ध्यान

पेट्रोल और डीजल की दिन पर दिन बढ़ती कीमत से आम आदमी परेशान हैं. ऐसे में कई पेट्रोल पंप ग्राहकों को कम पेट्रोल देकर ठग लेते हैं. पिछले दिनों यूपी में कई पेट्रोल पंप पर चिप से तेल चोरी का खुलासा हुआ था. पेट्रोल और डीजल की दिन पर दिन बढ़ती कीमत से आम आदमी परेशान हैं. ऐसे में कई पेट्रोल पंप ग्राहकों को कम पेट्रोल देकर ठग लेते हैं. पिछले दिनों यूपी में कई पेट्रोल पंप पर चिप से तेल चोरी का खुलासा हुआ था. Remember these 11 Tips to get full fuel at petrol pumpपेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने हाल ही में पेट्रोल पंप फ्रॉड की रैंकिंग साझा की थी, जिसमें दिल्ली का तीसरा स्थान था. दिल्ली में अप्रैल 2014 से दिसंबर 2017 तक कम तेल देने के 785 मामले उजागर हुए हैं. ऐसे में आपको पेट्रोल पंप पर तेल लेते समय ज्यादा सावधानी रखनी चाहिए. यहां हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनसे आप ठगी का शिकार होने से खुद को बचा सकते हैं.

राउंड फिगर में न भरवाएं पेट्रोलDo not fill petrol-diesel in the round figure

अधिकतर लोग पेट्रोल पंप पर जाकर 100, 200 और 500 रुपये की राउंड फिगर में तेल भरवाने का ऑर्डर देते हैं. कई बार पेट्रोल पंप मालिक राउंड फिगर को मशीन पर फिक्स करके रखते हैं और इसमें ठगी का शिकार होने की ज्यादा संभावना बनी रहती है. इसलिए जरूरी है कि आप राउंड फिगर में पेट्रोल न भरवाएं. आप राउंड फिगर से 10-20 रुपये ज्यादा का पेट्रोल ले सकते हैं.

टंकी को न खाली न रखेंDo not keep the fuel tank emptyबाइक या कार की खाली टंकी में पेट्रोल भरवाने से ग्राहक को नुकसान होता है. इसकी कारण यह है कि आपकी गाड़ी की टंकी जितना खाली रहेगी, उसमें हवा उतनी ही अधिक रहेगी. ऐसे में पेट्रोल भरवाने के बाद हवा के कारण पेट्रोल की मात्रा घट जाती है.कम से कम आधा टंकी हमेशा भरी रखें.

चेक करते रहें माइलेज

Check your bike, Car mileage always after filling petrolपेट्रोल चुराने के लिए पंप मालिक अक्सर पहले से ही मीटर में हेराफेरी करते हैं. जानकारों के मुताबिक देश में कई पेट्रोल पंप अब भी पुरानी तकनीक पर चल रहे हैं जिसमें हेराफेरी करना बेहद आसान है. आप अलग-अलग पेट्रोल पंपों से तेल डलवाएं और अपनी गाड़ी की माइलेज लगातार चेक करते रहें.

डिजिटल मीटर वाले पंप पर ही जाएं

Only go to digital meter petrol pumps

पेट्रोल हमेशा डिजिटल मीटर वाले पंप पर ही भरवाना चाहिए. इसका कारण यह है कि पुराने पेट्रोल पंप पर मशीने भी पुरानी होती है और इन मशीनों पर कम पेट्रोल भरे जाने का डर अधिक रहता है.

मीटर रीडिंग करते रहें चेक

Check meter reading during filling petrol

पेट्रोल पंप की मशीन में जीरो तो आपने देख लिया, लेकिन रीडिंग किस अंक से शुरू हुआ, यह नहीं देखा. आपको यह ध्यान रखना होगा कि मीटर की रीडिंग सीधे 10, 15 या 20 अंक से शुरू होती है. मीटर की रीडिंग कम से कम 3 से स्टार्ट होनी चाहिए.

मीटर रीसेट कराना याद रखे

Remember the petrol pump meter should be reset firstकई पेट्रोल पंप पर कर्मचारी आपकी बताई रकम से कम पैसे का तेल भरते हैं. टोकने पर ग्राहकों से कहा जाता है कि मीटर को जीरो पर रीसेट किया जा रहा है. लेकिन अगर आप चूके तो अक्सर ये मीटर जीरो पर नहीं लाया जाता. इसलिए जरूरी है कि तेल भरवाते समय सुनिश्चित करें कि पेट्रोल पंप मशीन का मीटर जीरो पर सेट है.

पेट्रोल भराते समय गाड़ी से नीचे उतरें

Get down from the car while filling petrolज्यादातर लोग जब अपनी गाड़ी में ईंधन भरवाते हैं, तो वे गाड़ी से नीचे नहीं उतरते. इसका फायदा पेट्रोल पंप के कर्मचारी उठाते हैं. पेट्रोल भरवाते समय वाहन से नीचे उतरें और मीटर के पास खड़े रहे.

पाइप में बचा न हो पेट्रोल

Check Fuel pipe once after filling petrol-dieselपेट्रोल पंपों पर तेल भरने की पाइप को लंबा रखा जाता है. कर्मचारी पेट्रोल डालने के बाद ऑटो कट होते ही फौरन नोजल गाड़ी से निकाल लेते हैं. ऐसे में पाइप में बचा हुआ पेट्रोल हर बार टंकी में चला जाता है. जोर दें कि ऑटो कट होने के कुछ सेकेंड बाद तक पेट्रोल की नोजल आपकी गाड़ी की टंकी में रहे ताकि पाइप में बचा पेट्रोल भी उसमें आ जाए.

नोजल के बटन को चेक कर लें

Check nozzle button at petrol pumpपेट्रोल पंप वाले से कहें कि वो तेल निकलना शुरू होने के बाद नोजल से हाथ हटा लें. तेल डलवाते वक्त नोजल का बटन दबा रहने से उसके निकलने की स्पीड कम हो जाती है और चोरी आसान हो जाती है.

पेट्रोल पंप कर्मियों की बातों में न आएं

Petrol pump employees can make you confuseऐसा भी होता है कि जिस पेट्रोल पंप पर आप अपनी गाड़ी में ईंधन भरवाने गये हैं, उसका कर्मचारी आपको अपनी बातों में उलझाये हुए है और आपको बातों में लगाकर पेट्रोल पंपकर्मी जीरो तो दिखाये, लेकिन मीटर में आपके द्वारा मांगा गया पेट्रोल का मूल्य नहीं सेट करे.

मीटर की स्पीड का भी रखें ख्याल

Check meter speed at petrol pumpअगर आपने पेट्रोल आर्डर किया और मीटर बेहद तेज चल रही है, तो समझिए कुछ गड़बड़ है. पेट्रोल पंपकर्मी को मीटर की गति सामान्य करने के निर्देश दें. हो सकता है कि तेज मीटर चलने से आपकी जेब पर डाका डाला जा रहा हो.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *