राज्यपाल का बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता, येदियुरप्पा 17-18 मई को ले सकते हैं शपथ- सूत्र

हालांकि जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी ने भी कांग्रेस के समर्थन पर सरकार बनाने का दावा पेश किया, लेकिन राज्यपाल ने येदियुरप्पा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रण दिया है.

राजभवन के सूत्रों ने बताया कि राज्यपाल ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है

बेंगलुरु : कर्नाटक में सत्ता के लिए चल रहा सियासी ड्रामे पर राज्यपाल वजुभाई वाला ने पर्दा डाल दिया. राज्यपाल ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है. सूत्रों के मुताबिक, बीएस येदियुरप्पा 17 मई, गुरुवार को शपथ ग्रहण करेंगे. हालांकि जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी ने भी कांग्रेस के समर्थन पर सरकार बनाने का दावा पेश किया, लेकिन राज्यपाल ने बीएस येदियुरप्पा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रण दिया है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, राज्यपाल वजुभाई वाला Image result for राज्यपाल वजुभाई वालाने सबसे बड़े दल के रूप में उभरकर आई बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता दिया है. सूत्र बताते हैं कि बीएस येदियुरप्पा को 17 या 18 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण कर सकते हैं. हालांकि इस बारे में फाइनल फैसला दिल्ली में लिया जाएगा. दिल्ली में शाम को बीजेपी की संसदीय समिति की बैठक होने जा रही है. इसी बैठक में आगे की रणनीति का खुलासा किया जाएगा.कर्नाटक में भाजपा बहुमत से 9 सीटें दूर, येदियुरप्पा के 15 मिनट बाद 38 सीटों वाली जेडीएस ने भी दावा पेश किया, national news in hindi, national news

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनावों के आज आ रहे नतीजों में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आई है. राज्य में बीजेपी ने 105 सीटों पर बढ़त हासिल की है. सत्तारूढ़ कांग्रेस 78 और जेडीएस 38 सीटों पर आगे है. दो सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी बढ़त बनाने हुए हैं. सत्ता को हाथ से जाता देख कांग्रेस ने सुबह ही जेडीएस को समर्थन देने का ऐलान कर दिया था. कांग्रेस ने जेडीएस को बाहर से बिना शर्त समर्थन देने की घोषणा की थी. इसी समर्थन के आधार पर जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी कांग्रेस के नेताओं के साथ राज्यपाल से मिलने भी गए और सरकार बनाने का दावा पेश करते हुए कांग्रेस के समर्थन वाला लैटर भी दिया. कुमारस्वामी के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद, मल्लिकार्जुन खड़गे और सिद्धारमैया भी थे.

जेडीएस से पहले बीजेपी के येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया. येदियुरप्पा ने कहा कि उन्होेंने राज्यपाल से मांग की कि बीजेपी राज्य में सबसे बड़ी पार्टी है, इसलिए सरकार बनाने का पहला मौका उन्हें मिलना चाहिए. देर शाम को राज्यपाल ने बीजेपी की मांग स्वीकार कर ली और येदियुरप्पा को सरकार बनाने के लिए न्यौता दे दिया.

बीजेपी को हिन्दी भाषी क्षेत्र की पार्टी बोलने वालों को कर्नाटक की जनता का झटका: मोदी

प्रधानमंत्री ने भाजपा मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘ कर्नाटक की विजय असामान्य है, अभूतपूर्व है. इसके लिये वह पार्टी कार्यकर्ताओं और जनता का अभार व्यक्त करते हैं. ’’

Karnataka victory is extraordinary: PM Narendra Modiकर्नाटक चुनाव में बीजेपी के प्रदर्शन को ‘‘असामान्य और अभूतवपूर्व’’ करार देते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि बीजेपी कर्नाटक की विकास यात्रा को ‘किसी को रौंदने’’ नहीं देगी. प्रधानमंत्री ने बीजेपी मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘ कर्नाटक की विजय असामान्य है, अभूतपूर्व है. इसके लिये वह पार्टी कार्यकर्ताओं और जनता का अभार व्यक्त करते हैं. ’’
उन्होंने कहा कि यह जीत इस मायने में महत्वपूर्ण है कि ऐसी छवि बना दी गई थी कि बीजेपी उत्तर भारत की पार्टी है, हिन्दी भाषी क्षेत्र की पार्टी है . अब न गुजरात हिन्दी भाषी है, न असम, न गोवा, न पूर्वोत्तर का ही कोई क्षेत्र हिन्दी भाषी है. लेकिन लोगों में यह धारणा बनाने का प्रयास किया गया, एक झूठ फैलाया गया.मोदी ने कहा, ‘‘ इस प्रकार की विकृत सोच वाले लोगों को कर्नाटक की जनता ने झटका दिया है.’’उन्होंने कहा कि बीजेपी हिन्दुस्तान के हर क्षेत्र के लोगों और उनकी समस्याओं को सुलझाने के प्रति समर्पित पार्टी है. एक श्रेष्ठ भारती की समर्पित पार्टी है. उन्होंने कहा कि कर्नाटक के उज्ज्वल भविष्य के लिये भाजपा कहीं भी पीछे नहीं रहेगी .

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का यह बयान ऐसे समय में आया है जब कर्नाटक चुनाव विधानसभा की स्थिति उभरी है. भाजपा सबसे बड़े दल के रूप में उभरी है लेकिन बहुमत के आंकड़े से कुछ सीटे पीछे रही है. इसी बीच कांग्रेस ने कहा है कि सरकार के गठन के लिए उसने जेडीएस को समर्थन दिया और जेडीएस ने राज्यपाल से मुलाकात कर बहुमत साबित करने का मौका देने का आग्रह किया है. इससे पहले भाजपा ने भी राज्यपाल के समक्ष प्रदेश में सरकार बनाने का दावा पेश किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *