मोदी की ‘कृषि उपलब्धि’ बचाने में जुटी भाजपा 

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विटर पर सोमवार को एक न्यूज़ वीडियो शेयर किया है.राहुल लिखते हैं, ”प्रधानमन्त्री  मोदी अपनी मन की बात सुनाते हैं यह तो सभी जानते थे. आज मालूम पड़ रहा है कि वो सिर्फ़ अपने ही मन की बात सुनना चाहते हैं”

एक निजी भारतीय न्यूज़ चैनल की इस वीडियो रिपोर्ट के मुताबिक़, ”पिछले महीने प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी ने किसानों से वीडियों कान्फ्रेंस के ज़रिए बात की थी. इसी कॉन्फ्रेंस के दौरान प्रधानमन्त्री  मोदी ने छत्तीसगढ़ के कांकेर ज़िले के कन्हारपुरी में चंद्रमणि से सवाल किया था. प्रधानमन्त्री मोदी ने चंद्रमणि से सवाल पूछा कि पहले के मुकाबले आय कितनी बढ़ गई आपकी? चंद्रमणि जवाब देती हैं- अभी दोगुनी हो गई है.”

चंद्रमणि की बात को सरकार ने अपनी उपलब्धि की तरह पेश किया. इसके बाद चैनल ने कन्हारपुरी में अपना एक रिपोर्टर भेजा और चंद्रमणि से बात की.

चंद्रमणि से रिपोर्टर सवाल पूछता है, ”जो धान की खेती है, उससे कमाई दोगुनी हुई क्या?” चंद्रमणि जवाब देती हैं- नहीं. इसी वीडियो में चंद्रमणि आगे कहती हैं, ”हमसे कहा गया था कि प्रधानमंत्री से बात करनी है. कर पाओगी या नहीं.”

किसानइस रिपोर्ट में आगे कन्हारपुरी के सरपंच परशुराम भोयर कहते हैं, ”कृषि विभाग की दिल्ली से जो टीम आई थी, उसको बताया गया था कि इस तरह से आपको बताना है. चंद्रमणि ने उसी तरह बताया है. पर सच्चाई में कृषि में आय दोगुनी होने की जो बात चंद्रमणि ने कही थी, वो देखने को नहीं मिली है.”

रिपोर्ट के मुताबिक, ”किसानों की आय दोगुनी करने का जो सरकार का दावा है, वो फ़र्ज़ी है.”

किसान

मोदी का दावा: बचाव में उतरी बीजेपी

राहुल गांधी के इस रिपोर्ट को ट्वीट करने के बाद कई केंद्रीय मंत्री और बीजेपी प्रवक्ता सरकार के बचाव में उतर आए हैं. ट्विटर पर #UnfortunateJournalism टॉप ट्रेंड्स में शामिल रहा.

बीजेपी के ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल से चंद्रमणि का नया वीडियो इंटरव्यू शेयर करते हुए लिखा गया, ”राहुल गांधी जी, आप और क्रांतिकारी पत्रकार कितनी ही फ़ेक न्यूज़ बना लें. पर आप सब इस देश में किसानों की प्रगति रोक नहीं सकते.”

इस वीडियो इंटरव्यू में चंद्रमणि कहती हैं, ”सीताफल से जो पल्प निकालते हैं, मैंने प्रधानमन्त्री मोदी से बात करते हुए उससे दोगुनी आय की बात कही थी. मीडिया में जो ख़बरें चल रही हैं, उनमें कृषि में दोगुनी आय होने की बात कही जा रही है. लेकिन हमने ये कहा कि हमारी सीताफल से आय दोगुनी हुई है. मैंने मंत्रीजी (प्रधानमन्त्री मोदी) से भी कहा था कि पहले हम 50 रुपये में जो देते थे, अब हमें मिले परीक्षण के बाद पल्प निकालकर आय दोगुनी हुई है. मैंने पल्प के बारे में आय दोगुनी की बात कही थी न कि खेती के बारे में.”

बीजेपी आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है.

वीडियो में कन्हारपुरी के सरपंच परशुराम भोयर कहते हैं, ”हमारे गांव में स्व सहायता समूह के माध्यम से जो समूह चल रहा है, उसके माध्यम से पल्प की बिक्री हो रही है. न्यूज़ चैनल वाले आए तो उन्होंने पूछा था कि धान की खेती से आय दोगुनी हुई है क्या. तो मैंने उन्हें यही जवाब दिया कि धान की खेती से फ़ायदा नहीं दिख रहा है. सीताफल वाले से मुझे अच्छे से फ़ायदा हो रहा है.”

यानी अगर आसान शब्दों से समझा जाए तो बीजेपी ये दावा कर रही है कि चंद्रमणि ने मोदी से आय दोगुनी होने की बात सीताफल के संदर्भ में कही थी और न्यूज़ चैनल से धान के संदर्भ में.सोमवार शाम को बीजेपी के ट्विटर हैंडल से चंद्रमणि का मोदी से बातचीत का पुराना वीडियो भी शेयर किया गया.वीडियो में चंद्रमणि कहती हैं, ”पहले हम दो एकड़ में धान लगाते थे. उसमें हमलोगों को ज़्यादा फ़ायदा नहीं हुआ था. उससे हमारे परिवार को संतुष्टि नहीं होती थी. फिर हम कृषि आत्मा परियोजना से जुड़े. तो पहले हमें 50 रुपये मिलते थे, अब 700 रुपये कमाते हैं.”

बीजेपी ने ट्विटर पर एक और वीडियो शेयर किया. इस वीडियो में कुछ महिलाएं ये कहती हैं कि न्यूज़ चैनल वाले झूठ बोल रहे हैं.

किसान

किसानों की आमदनी: कांग्रेस-बीजेपी ने और क्या कहा?

बीजेपी सांसद पूनम महाजन ने ट्वीट किया, ”मोदी का विरोध करते हुए कुछ सेलेब्रिटी पत्रकारों का पर्दाफ़ाश हो गया है.”

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने लिखा, ”ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ से कुछ लोग पीएम मोदी की अच्छी कोशिशों पर निशाना साध रहे हैं.”

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने भी लिखा, ”ये साफ़ है कि पीएम मोदी से चंद्रमणि सीताफल की बात कर रही थीं. चंद्रमणि ने एक बॉक्स में पल्प को दिखाया भी था.”

कांग्रेस के विनीत पुनिया बीजेपी नेताओं के इस मुद्दे पर किए ट्वीट का स्क्रीनशॉट लगाते हुए लिखते हैं, ”सरकार के मंत्री एक-दूसरे का ट्वीट कॉपी पेस्ट कर रहे हैं. वो अपना एक ट्वीट तक नहीं लिख सकते.”

राहुल गांधी

आम लोगों ने क्या कहा?

राहुल गांधी के ट्वीट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं.

‏@SirJadejaaaa ने लिखा, ”राहुल गांधी और कुछ मीडिया के लोगों का पर्दाफाश हो गया है. ये महिला कह रही है कि आमदनी दोगुनी हुई है. क्या न्यूज़ चैनल कांग्रेस प्रवक्ता चला रहे हैं.”कांग्रेस से जुड़े दीपक विराट लिखते हैं, ”भाजपा ने इस देश में अपनी नीतियों को ज़बरदस्ती थोपने का काम किया है.”बीजेपी के ट्विटर हैंडल पर भी कुछ लोग अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं.अंजलि त्रिपाठी लिखती हैं, ”लगता है चंद्रमणि को भी खरीद लिया गया है.राजा नाम के यूज़र लिखते हैं, ”किसानों की प्रगति पिछले चार सालों में सबके सामने है. आपने शासनकाल के अंतिम सालों में किसानों को जो लॉलीपॉप देने का ज़ुमला दिया था. किसान उसमें फंसने वाले नहीं हैं.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *