मीडिया नौकरी की खोज में हैं तो लल्लनटॉप को है जरूरत

Job opportunities in The Lallantopदी लल्लनटॉप का परिवार बहुत बढ़ चुका है. इस बढ़ रहे परिवार की जरूरतें पूरी करने के लिए 8 और की जरूरत है.

Post 1.

एक सोशल मीडिया मैनेजर: जो फेसबुक, ट्विटर, वॉट्सऐप, इंस्टाग्राम, टिकटॉक आदि का सब तिया-पांचा जानता हो. इन प्लैटफॉर्म्स पर मौजूद जनता की नब्ज़ पहचानता हो. बिना गलती किए हिंदी लिख लेता हो. अंग्रेज़ी समझता हो. अंग्रेज़ी को हिंदी में भी कर सकता हो. क्या हैशटैग लगाना है, किसे टैग करना है जैसी बातें रोम-रोम (इटली वाला नहीं) में बसती हों. थोड़ा धैर्यवान हो. थोड़ा विटी हो.

Post 2.

एक यूट्यूब मैनेजर: ये जानता-समझता हो कि कैसी हेडिंग और कैसा थम्नेल लगाने से विडियो रॉकेट की तरह भागेगा. लेकिन ऐसा भी न हो कि विडियो का कॉन्टेंट ईर घाट जाए और थम्नेल बीर घाट. ऐसे कीवर्ड्स देना जानता हो, कि जब तक सूर्य की किरणें पृथ्वी पर पड़ती रहें, तब तक यूट्यूब के सर्च में विडियो ऊपर आता रहे. दुनिया भर के (भारत दुनिया से बाहर थोड़े ही है) अगड़म-बगड़म विडियो भी कान पर हेडफोन लगाए देख सकता हो. बाकी बिना गलती किए हिंदी लिखने, अंग्रेज़ी समझने, अंग्रेज़ी को हिंदी में करने वाली बात यहां भी लागू होती है. यहां थोड़ा कम धैर्यवान, थोड़ा कम विटी भी चलेगा.

Post 3.

एक विडियो प्रड्यूसर: टीवी समझता हो. यहां टीवी समझने का मतलब टीवी बनने या उसके काम करने की इंजिनियरिंग समझना नहीं है. टीवी की भाषा, उसका व्याकरण समझता हो. राजनीति की समझ हो, दिन की बड़ी खबरों पर ज्ञान दे सके, लेकिन उसके बारे में पढ़ने के बाद. जटिल चीजें समझकर भी उसे विडियो के लिए आसान तरीके से लिख सके. विडियो के फर्मे में लिख सके. विडियो में लगने वाले विज़ुअल-फोटो की समझ हो. बाद में एडिटिंग टेबल पर विडियो एडिटर के साथ बैठकर विडियो कटवा भी सके. बिना गलती किए हिंदी लिखने, अंग्रेज़ी समझने, अंग्रेज़ी को हिंदी में करने वाली बात यहां भी लागू होती है.

Post 4.

एक सब-एडिटर: समझ ठीक हो, भले ही ज्ञान कम हो. बिना गलती किए हिंदी लिखने, अंग्रेज़ी समझने, अंग्रेज़ी को हिंदी में करने वाली बात यहां थोड़ा सख्ती से लागू होती है. थोड़ा-थोड़ा सब कुछ जानता-समझता हो, कोई एक चीज ज्यादा जाने-समझे, तो बढ़िया होगा. इनस्क्रिप्ट (मंगल) में टाइपिंग न आती हो, तो सीखने के लिए तैयार हो.

Post 5.

एक ट्रेनी: हिंदी लिखने और अंग्रेज़ी से हिंदी में अनुवाद करने में कम से कम गलतियां करता हो. पढ़ने में रुचि हो, लेकिन कौन-सी किताब पढ़ रहे हो पूछने पर उस किताब के बारे में बता भी पाए.

Post 6.

दो लोग स्क्रिप्टिंग/विडियो/रिसर्च के लिए: कुछ खोजकर निकालने को कहा जाए, तो खोदकर निकाल सके और वही चीज निकाल सके, जिसके बारे में कहा गया था, थोड़ा ज्यादा भी निकाले, तो चलेगा. कम समय में निकालना भी आना चाहिए. उस माल-मत्ते को विडियो में तब्दील करने का हुनर भी होना चाहिए. टीवी की स्क्रिप्टिंग के बारे में पता होना चाहिए, ये भी कि वेब के लिए उसमें क्या फेर-बदल किया जाना है. बाकी बिना गलती किए हिंदी लिखने, अंग्रेज़ी समझने, अंग्रेज़ी को हिंदी में करने वाली बात यहां भी लागू होती है.

Post 7.

एक विडियो एडिटर, जिसे कैमरा भी आता हो: हमारे विडियो प्रोडक्शन डिपार्टमेंट में एक जगह है, लेकिन ज़रूरत दो हैं. कैमरा (DSLR विडियो) और एडिटिंग. दोनों की ही अच्छी समझ और काम में सफाई चाहिए. डेस्क और फील्ड का मिला-जुला सा काम रहेगा.

अगर आप इनमें से किसी पोस्ट के लिए अप्लाई करना चाहते हों, तो:
1. आप जिस पोस्ट के लिए अप्लाई करना चाहते हैं, उसमें आपसे क्या अपेक्षा की जा रही है, उसे एक बार फिर से पढ़ लीजिए.
2. जो अपेक्षा की जा रही है, उसे ध्यान में रखते हुए अपना रेज़्युमे और कम से कम 2 वर्क सैंपल jobs.lallantop@gmail.com पर भेजिए.
3. ईमेल भेजने की आखिरी तारीख 15 जनवरी, 2019 है.
4. ईमेल के सब्जेक्ट लाइन में Post 1, Post 2… जैसा वो पोस्ट नंबर लिखें, जिसके लिए आप अप्लाई कर रहे हों.
5. अगर आपने सब्जेक्ट लाइन में Post 1, Post 2… जैसा पोस्ट नंबर नहीं डाला है या आपने रेज़्युमे और वर्क सैंपल में से कुछ नहीं भेजा है, तो आपका ईमेल तत्काल वीर गति को प्राप्त होगा.
6. अगर आप लिखने वाले काम से जुड़े हैं, तो नया-ताज़ा लिखकर भेजें. न कि कहीं छपा हुआ, क्योंकि हो सकता है कि छापने वाले ने आपके लिखे में गड़बड़ कर दी हो और हमें लगे कि वो गड़बड़ आपने की है.
7. टेस्ट और नौकरी की जगह नोएडा होगी. बीच-बीच में फील्ड पर जाना होगा.
8. सैलरी की बात आपके टेस्ट और इंटरव्यू के बाद होगी. अगर आप कहीं नौकरी करते हैं, तो यहां आपकी सैलरी पिछली सैलरी से ज्यादा होगी. अगर फ्रेशर हैं, तो इंडस्ट्री में फ्रेशर को मिलने वाली सैलरी जितनी या उससे ज्यादा मिलेगी.
9. हमारा अनुभव है कि वैकेंसी की पोस्ट डालने के बाद हमें हर दिन 500-1000 ईमेल आते हैं. सबको रिप्लाई कर पाना मुमकिन नहीं. जिन्हें टेस्ट के लिए बुलाया जाना है, उन्हें ईमेल किया जाएगा, इसकी भी कोई समय-सीमा नहीं है. इसलिए एक बार ईमेल करने के बाद फोन, ईमेल, फेसबुक आदि जगहों पर इस बारे में न पूछें.
10. सिफारिश न करवाएं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *