भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल की याचिकायें चलेंगी पूरे कार्यकाल

देहरादून ! हरिद्वार के उत्साही भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल भी अब एक दिन में तीन और अधिक से अधिक पांच ही याचिकायें लगा पायेंगें ! यह इसलिये कि देशराज की रिकार्ड याचिकाओं पर विपक्ष की आपत्ति के बाद अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने साफ कर दिया है कि अब एक दिन में एक विधायक की तीन ही याचिकायें स्वीकार होंगी ! यदि किसी और विधायक की याचिका न हो तो एक विधायक की दो अेर याचिकायें ले ली जायेगी ! हालांकि विधायकों की बची याचिकायें अगले सत्र के लिये जीवंत रहेंगी ! ऐसा उत्तराखंड विधानसभा की नियम समिति ने तय किया है ! अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने पत्रकारों के पूछने पर इसकी पुष्टि की है ! इस तरह भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल Image result for हरिद्वार  भाजपा विधायक देशराज कर्णवालकी अब दायर याचिकायें उनके पूरे कार्यकाल चलेंगी !

उत्तराखण्ड राज्य की चतुर्थ विधानसभा के वर्ष 2018 के मंगलवार, 4 दिसंबर से प्रारंभ हो रहे शीतकालीन सत्र के अवसर पर की जाने वाली सुरक्षा व्यवस्था तथा आनुषंगिक व्यवस्थाओं पर विचार विमर्श हेतु विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रेम चंद अग्रवाल के सभापतित्व में अधिकारियों के संग विधानसभा भवन में बैठक आहूत की गई।इस दौरान विधानसभा सचिव जगदीश चंद भी मौजूद थे।

सुरक्षा संबंधी बैठक के दौरान विधानसभा परिसर के अंदर एवं सभा मंडप में जारी प्रवेश पत्र एवं सुरक्षा चैकिंग के संबंध में चर्चा की गई।वाहनों की पार्किंग चिन्हित स्थानों पर ही पार्क किए जाएंगे।

इस दौरान विधान सभा अध्यक्ष द्वारा सत्र के दौरान अग्निशमन दल, चिकित्सा विभाग द्वारा दवाईयों एवं एम्बुलेंस की व्यवस्थाओं, विद्युत, पानी के संबंध में सुचार व्यवस्था बनाए रखने के लिए अधिकारियों से चर्चा की गई।

विधानसभा अध्यक्ष ने सभी विभागों के अधिकारियों से सत्र के दौरान सहयोग की अपेक्षा करते हुए कहा कि पिछले सत्रों की तरह ही इस सत्र में भी सभी का सहयोग अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि सत्र में कोई भी व्यावधान न हों इसके लिए सभी विभाग सत्र शुरू होने से पहले सभी तैयारियां कर लें।

अग्रवाल ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया कि अभी तक कुल 320 तारांकित ,अतारांकित प्रश्न प्राप्त हो चुके हैं एवं 30 अल्प सूचित प्रश्न प्राप्त हुए है।श्री अग्रवाल ने बताया कि 107 याचिकाएं प्राप्त हुई है जिसमें उत्तराखंड विधानसभा की नियम समिति के द्वारा दिए गए प्रावधान के अनुसार सत्र के प्रत्येक दिन एक विधायक कि 3 ही याचिकाएं स्वीकृत की जाएंगी। श्री अग्रवाल ने बताया कि उत्तराखंड (उत्तर प्रदेश जमींदारी विनाश एवं व्यवस्था अधिनियम)संशोधन अधिनियम 2018 अध्यादेश को सदन के पटल पर रखा जाना है।

बैठक के दौरान गढ़वाल कमिशनर शैलेश बगोली, डीजीपी  अनिल रतूड़ी, एडीजी  अशोक कुमार, एडीजी  वी विनय कुमार, सचिव  दिलीप जावलकर, राज्य सम्पत्ति अधिकारी वंशीधर तिवारी, अपर सचिव सचिवालय प्रशासन अर्जुन सिंह, डीआइजी गढ़वाल अजय रौतेला, देहरादून जिलाधिकारी  मुरुगेसन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती, महानिदेशक सूचना दीपेन्द्र कुमार चौधरी, डीजी हेल्थ डॉ टीसी पंत, देहरादून मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ एस के गुप्ता, अधिशासी अभियंता जल संस्थान विनोद रमोला सहित विधानसभा के अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
विदाई पर रक्षक को बधाई एवं शुभकामनाएं

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष  प्रेम चंद अग्रवाल ने आज विधानसभा में विदाई कार्यक्रम के दौरान रक्षक पद से सेवानिवृत्त होने पर  जगदीश जोशी  को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। इस मौक़े पर विधानसभा सचिव जगदीश चंद भी मौजूद थे

विधानसभा परिसर में विदाई कार्यक्रम के दौरान विधानसभा के अधिकारी एवं कर्मचारियों द्वारा जगदीश जोशी को रक्षक पद से सेवानिवृत्त होने पर फूल मालाओं से सम्मान किया। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने श्री जगदीश जोशी को साल ओढ़ाकर एवं प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। बता दें कि श्री जोशी ने रक्षक पद पर रहते हुए उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड विधानसभा में 36 साल की सेवा प्रदान की।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि जोशी जी के सौम्य व्यवहार एवं काम करने के तरीक़े से विधानसभा के सभी कर्मचारीयों को प्रेरणा लेनी चाहिए।  अग्रवाल ने अपेक्षा के साथ कहा कि भविष्य में भी उनके अनुभवों का लाभ समय- समय पर विधानसभा को मिलता रहेगा। अग्रवाल ने उनके भविष्य के लिए शुभकामनांए दी। इस दौरान विधानसभा के सभी अधिकारी एवं कर्मचारीगण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *