बीजेपी विधायक ने पहले महिला पीटी लात-घूसों से, अब बंधवा राखी, बोले- वह हैं मेरी बहन

बीजेपी विधायक ने बंधवाई राखी. फोटो ANI

इससे पहले सुबह वायरल हुए वीडियो में देखने को मिला था कि बलराम थवाणी महिला नेता की सरेआम सड़क पर लात घूसों से पिटाई कर रहे हैं.
नई दिल्‍ली: गुजरात के अहमदाबाद के नरोदा में बीजेपी विधायक बलराम थवाणी और स्‍थानीय एनसीपी महिला नेता नीतू तेजवानी के बीच मारपीट के बाद सुलह हो गई है. इससे पहले सुबह वायरल हुए वीडियो में देखने को मिला था कि बलराम थवाणी महिला नेता की सरेआम सड़क पर लात घूसों से पिटाई कर रहे हैं. मीडिया में खबरें आने के बाद बीजेपी विधायक ने महिला नेता से माफी मांगने की बात कही थी. इसके कुछ घंटे बाद ही दोनों में सुलह हो गई.

सुलह होने के बाद बीजेपी विधायक बलराम थवाणी ने कहा कि नीतू तेजवानी मेरी बहन जैसी हैं. कल जो कुछ भी हुआ उसके लिए मैंने उनसे माफी मांगी है. हम दोनों ने अपने बीच हुए विवाद के बाद सुलह कर ली है. मैंने भविष्‍य में उनकी हर मदद करने का वादा किया है.

वहीं स्‍थानीय एनसीपी नेता नीतू तेजवानी ने सुलह के बाद कहा, ‘उन्‍होंने (बीजेपी विधायक) बोला मैं तुझे बहन मानकर चला हूं. और बहन की तरह ही मैंने तूझे थप्‍पड़ मारा था और मेरा काई गलत विचार नहीं था. मैंने उनको भाईसाहब मान लिया है. विवाद का समाधान सबने मिलकर किया है.

बता दें कि कल नरोदा से बीजेपी विधायक बलराम थवाणी से इलाके की एनसीपी महिला नेता को सड़क पर सरेआम लात-घूसों से पीटा था. इस दौरान बीजेपी विधायक के समर्थकों ने भी महिला नेता को बेरहमी से पीटा था. इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी विधायक बलराम थवाणी ने सामने आकर माफी मांगी थी. कुछ दिन पहले ही थवाणी के भाई किशोर थवाणी ने पानी के मुद्दे को लेकर एक व्यक्ति के साथ मारपीट की थी. किशोर थवाणी कॉर्पोरेटर है.

सामने आए घटना के वीडियो में बीजेपी विधायक बलराम थवाणी की गुंडागर्दी साफ दिखाई दे रही थी. दरअसल, नरोदा के कुबेर नगर वार्ड की एनसीपी नेता का कहना था कि वह बीजेपी विधायक के ऑफिस में इलाके की समस्‍या की शिकायत करने गई थीं. लेकिन उन्‍होंने शिकायत सुनने से पहले ही मुझे थप्‍पड़ मार दिया था. इसके बाद मैं जैसे ही जमीन पर गिरी, उन्‍होंने मुझे लातों से मारना शुरू कर दिया. उनके समर्थकों ने मेरे पति को भी मारा.

महिला NCP नेता को लातों से मारने के बाद BJP MLA बोले- वह मेरी बहन जैसी

बलराम थवानी गुजरात की नरोदा विधानसभा सीट से विधायक हैं.महिला NCP नेता को लातों से मारने के बाद BJP MLA बोले- वह मेरी बहन जैसीबलराम थवानी

गुजरात में भारतीय जनता पार्टी के विधायक बलराम थावाणी ने नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी की नेता नीतू तेजवानी को लात से मारने को लेकर हुए विवाद पर सफाई दी है. बीजेपी विधायक बलराम थावाणी ने एनसीपी महिला नेता को थप्पड़ मारते हुए कैमरे में कैद होने के बाद कहा कि वह मेरी बहन की तरह है, कल जो कुछ भी हुआ उसके लिए मैंने माफी मांग ली है. हमने अपने बीच की गलतफ़हमी को दूर कर लिया है. मैंने उससे वादा किया है कि उसकी किसी भी तरह की परेशानी में मैं उसकी मदद करूंगा.
वहीं इस पर नरोदा की एनसीपी नेता नीतू तेजवानी का कहना है कि ‘उन्होंने बोला तुझे बहन मान के चला हूं, और बहन की तरह मैंने तुझे थप्पड़ मारा था और मेरा कोई भी गलत विचार नहीं था. मैंने उनको भाई साहब मान लिया है, समाधान सबने मिलकर किया है.’
क्या था मामला
बता दें बीजेपी विधायक थावाणी का एनसीपी की नेता को लातों से मारने का वीडियो वायरल हो गया था. यह घटना तब हुई जब नीतू, बलराम के दफ्तर एक स्थानीय मुद्दे को लेकर गई थीं. नीतू ने बलराम के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया था. बलराम, गुजरात की नरोदा विधानसभा सीट से विधायक हैं.
नीतू ने इस पूरे घटनाक्रम पर कहा कि ‘मैं बीजेपी विधायक बलराम थवानी से एक स्थानीय मुद्दे पर मिलने गई थी लेकिन मुझे सुनने से पहले ही उन्होंने थप्पड़ मर दिया. मैं जब नीचे गिरी तभी वह मुझे लात मारने लगे. उनके लोगों ने मेरे पति को भी मारा. मैं मोदी जी से पूछना चाहती हूं कि कैसे महिलाएं उनके राज में सुरक्षित हैं.’
घटना पर बीजेपी विधायक ने कहा कि ‘मैं अपनी गलती स्वीकार करता हूं. यह जानबूझ कर नहीं हुआ. मैं बीते 22 साल से राजनीति में हूं ऐसा कभी नहीं हुआ. मैं उनसे माफी मांगता हूं.’ विधायक ने कहा कि मैं महिला से मिलने के लिए अस्पताल जाऊंगा.
माफी मांगने से पहले बलराम ने कहा था

मिली जानकारी के अनुसार कुछ महिलाएं पानी की कमी को लेकर बलराम के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन कर रहीं थीं. उनकी मांग थी कि पानी की समस्या का हल किया जाए. बलराम का दावा है कि ‘जब महिलाएं प्रदर्शन कर रहीं थीं उस वक्त वे दफ्तर में नहीं था. कुछ ही देर में वह दफ्तर पहुंचा और लोगों से बात की. मैंने लोगों से कहा कि वह सोमवार को आएं और हम इस पर निगम के अधिकारियों से बात करेंगे. इसी दौरान मुझ पर हमला हुआ. यह सब प्री प्लान था.’
महिलाओं का कहना है कि नरोदा में पानी की कमी है जिसके समाधान के लिए वह बलराम के पास पहुंचीं थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *