निर्माणाधीन ओवरब्रिज की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत, बचाव कार्य में 325 राहतकर्मी

मलबे के नीचे दबे वाहन मलबे के नीचे दबे वाहन

पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में रेलवे स्टेशन के सामने बन रहे फ्लाई ओवर की दो बीम गिरने से 25 लोगों की मौत हो गई है। बीम गिरने के कारण बस सहित छह गाडिय़ां फंसी हैं। छह क्रेन बीम को उठाने में लगी हैं। घटनास्थल पर नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स की सात टीमें राहत व बचाव कार्य में लगी हैं। इन टीमों में कुल मिलाकर 325 आदमी काम कर रहे हैं।

रात आठ बजे तक 25 शव निकाले जा चुके थे, इसके अलावा तीन घायलों को अस्पताल में पहुंचाया जा चुका है। वहां पर अभी 25 से 30 लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। इस हादसे में 50 से अधिक लोग दब गए। प्रदेश सरकार इस हादसे में मृतक के परिवारीजन को पांच-पांच लाख तथा गंभीर रूप से घायलों को दो-दो लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान करेगी।

. इस फ्लाईओवर का निर्माण कैंट रेलवे स्टेशन के पास किया जा रहा था. वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है. सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है और हरसंभव मदद का भरोसा दिया है.Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

अब तक पिलर के नीचे दबे वाहनों के अंदर से 18 शव निकाले जा चुके हैं. राहत एवं बचाव कार्य में जुटी NDRF के मुताबिक, मरने वालों की संख्या अभी और बढ़ सकती है.उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं. उन्होंने कहा कि हादसे की जांच के लिए टीम गठित कर दी गई है, जो भी दोषी पाया जाएगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा.योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए मुआवजे का ऐलान करने  के साथ-साथ जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी बनाने को कहा है. कमेटी को 48 घंटे में रिपोर्ट सौंपनी होगी.Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

पिलर के नीचे दबे वाहनों में फंसे घायलों को निकालने के लिए NDRF की 7 टीमें लगाई गई हैं. करीब 325 राहतकर्मी बचाव कार्य में लगे हुए हैं. वाहनों पर गिरे पिलर को हटाने के लिए NHAI की क्रेन घटनास्थल पर पहुंच चुकी है. यह क्रेन 200 टन तक का वजन उठाने में सक्षम है.Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

जानकारी के मुताबिक पुल का हिस्सा टूटकर नीचे जा रहे वाहनों पर जा गिरा, जिसके बाद काफी लोग नीचे दब गए. मौके से आ रही तस्वीरों में टूटे हुए हिस्से के नीचे कई गाड़ियां दबी हुई देखी जा सकती हैं. साथ ही मौके पर मौजूद स्थानीय लोग राहत और बचाव कार्य में जुटे हुए हैं. प्रशासन और बचाव दल भी घटनास्थल पर पहुंच चुका है.प्रधानमंत्री मोदी ने भी इस घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट कर बताया कि उन्होनें स्थानीय अधिकारों से बात कर पीड़ितों को हर मुमकिन मदद मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं. पीएम ने बताया कि योगी आदित्यनाथ से भी बात हुई है और राज्य सरकार हादसा पर पैनी नजर बनाए हुए है.Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

योगी आदित्यनाथ ने जानकारी दी है कि उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य जल्द ही वाराणसी पहुंच रहे हैं. जानकारी के मुताबिक NDRF की 2 टीमों को वाराणसी के लिए रवाना किया गया है जबकि एक टीम पहले ही घटनास्थल पर पहुंच गई है. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से हादसे में पीड़ित लोगों की मदद करने की अपील की है.

Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवरकाशी को क्योटो बनाने का प्लान

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 में वाराणसी और गुजरात के वडोदरा से चुनाव लड़ा था. वाराणसी में मिली भारी जीत के बाद मोदी ने वडोदरा सीट छोड़ दी थी. पीएम जब के काशी के सांसद बने हैं तब से काशी पर बारीकी से नजर बनाए हुए हैं साथ ही केंद्र और राज्य सरकार की कई विकास परियोजनाओं का काम भी वाराणसी में किया जा रहा है.मोदी सरकार की विदेश नीति में भी वाराणसी बड़ा भागीदार रहा है. प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र में कई विदेशी राष्ट्राध्यक्षों को लेकर जा चुके हैं. इसके अलावा जापान के शहर क्योटो की तर्ज पर मोदी सरकार ने वाराणसी का विकास करने का संकल्प भी लिया है.

मोदी ने जताया दुख, योगी ने किया 5-5 लाख मुआवजे का ऐलान, 1 घंटे देरी से पहुंची मदद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी हादसे पर दुख जताया. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल लोग जल्द से जल्द ठीक हो जाएं.

वाराणसी हादसा: पीएम मोदी ने जताया दुख, योगी ने किया 5-5 लाख मुआवजे का ऐलान, 1 घंटे देरी से पहुंची मदद

मृतक के परिजनों को 5-5 लाख मुआवजे का ऐलान.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी हादसे पर दुख जताया. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं प्रार्थना करता हूं कि जख्मी लोग जल्द से जल्द ठीक हो जाएं. अधिकारियों से बात की और उन्हें निर्देश दिया है कि वहां जल्द जल्द से जरूरी मदद पहुंचाएं. सीएम योगी ने भी वाराणसी में निर्माणाधीन पुल गिरने की घटना पर दुख जताया है और उन्होंने जिला प्रशासन को तेजी से बचाव कार्य करते हुए लोगों की हर संभव मदद करने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने ट्वीट किया कि उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कुछ ही देर में वाराणसी पहुंच जाएंगे.Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

सीएम योगी ने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए 5-5 लाख मुआवजे का ऐलान किया है. साथ ही गंभीर रूप से घायलों के लिए 2-2 लाख रुपए मुआवजे का ऐलान किया है. सीएम योगी के अनुसार NDRF की पांच टीमें वाराणसी के लिए भेजी गई है.सीएम योगी ने वाराणसी हादसे की जांच के लए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया है. साथ  ही 48 घंटे के भीतर जांच रिपोर्ट सौंपने के आदेश दिए गए हैं.वाराणसी हादसे को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘वाराणसी में फ्लाईओवर निर्माण के स्थल पर हुई दुर्घटना के बारे में जानकर आघात पहुंचा है. प्रशासन द्वारा  बचाव कार्य और घायलों की सहायता के सभी प्रयास किये जा रहे है. शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएं.’कैंट रेलवे स्टेशन के पास एक अंडर कंस्ट्रक्शन फ्लाईओवर का एक हिस्सा गिर गया है.

कुछ गाड़ियां भी मलबे के नीचे दब गई हैं. मलबे में दबे लोगों को बचाने का काम जारी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख जताया है. बता दें वाराणसी पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र है. पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में घटिया निर्माण के चलते इतना बड़ा हादसा होना गंभीर सवाल खड़े करता है.

चारों तरफ चीख पुकार, कम से कम 50 लोगों के दबे होने की आशंकाImage result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

. मलबे के नीचे कई गाड़ियों के दबे होने की खबर है. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक कम से कम दर्जन भर गाड़ियां चपेट में आई है. कैंट स्टेशन इलाका भीड़भाड़ वाला इलाका है. मौके पर पुलिस और प्रशासन के तमाम अधिकारी पहुंच चुके हैं. रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. इस हादसे में कम से कम 12 लोगों के मारे जाने की खबर है.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी हादसे पर दुख जताया. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं प्रार्थना करता हूं कि जख्मी लोग जल्द से जल्द ठीक हो जाएं. अधिकारियों से बात की और उन्हें निर्देश दिया है कि वहां जल्द जल्द से जरूरी मदद पहुंचाएं.एक चश्मदीद ने बताया कि मैं फ्लाईओवर से करीब 50 मीटर की दूरी पर खड़ा था. मैंने देखा कि पुल के नीचे चार कार, एक ऑटो रिक्शा और एक मिनी बस खड़ी थी जो मलबे के नीचे दब गए. उन्होंने कहा कि मौके पर रेस्क्यू टीम करीब एक घंटे बाद पहुंची.Image result for वाराणसी+में+एक+निर्माणाधीन+फ्लाईओवर

यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा सीएम योगी आदित्यनाथ ने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और नीलकंठ तिवारी को वाराणसी के लिए रवाना किया है.

एक बस के भी दबे जाने की खबर है. बस में 50 से ज्यादा यात्री सवार थे. स्थानीय लोगों के मुताबिक इस हादसे में कम से कम 50 लोग दबे होंगे. मौके पर चीख पुकार मची हुई है. वहां की स्थिति बहुत ज्यादा खतरनाक है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *