बच्चों के विवाद को ले दो समुदायों में संघर्ष, छह घायल,तीन नामजद समेत 20 लोगों पर पुलिस केस

नानपारा(बहराइच) कोतवाली नानपारा क्षेत्र के नूरीपुरवा गांव में बच्चों के विवाद को लेकर दो समुदाय के लोग आमने सामने आ गए। कहासुनी के बाद समुदाय विशेष के लोगों ने दूसरे वर्ग के  घरों पर हमला कर दिया
नानपारा(बहराइच) : कोतवाली नानपारा क्षेत्र के नूरीपुरवा गांव में बच्चों के विवाद को लेकर हुई कहासुनी के बाद दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए। समुदाय विशेष के लोगों ने दूसरे वर्ग के घरों पर हमला कर दिया। पथराव किया और परिवार के लोगों की जमकर पिटाई की। हमले में चार महिलाओं समेत छह लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची यूपी 100 पुलिस टीम पर भी हमलावरों ने पथराव किया। पुलिस जब हरकत में आई तो हमलावर गन्ने के खेतों में घुसकर भाग गए। दोनों पक्षों की लिखित शिकायत पर नौ लोगों के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज किया गया है।इस मामले में तीन नामजद समेत 20 लोगों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की है। गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात की गई है।

नूरीपुरवा निवासी तिलकराम व किस्मत अली के बेटे गांव के ही प्राथमिक विद्यालय में पढ़ते हैं। बुधवार सुबह भोजनावकाश के समय दोनों बच्चों में खेलने को लेकर विवाद हो गया । बच्चों ने घर पहुंचकर इसकी शिकायत की। इस पर दोनों घरों की महिलाओं में कहासुनी के बाद हाथापाई हुई। लोगों ने समझा- बुझाकर मामले को शांत करा दिया।  किस्मत अली अपने सहयोगी कुछ घंटे बाद दोपहर बाद ढाई बजे के आसपास किस्मत अली अपने सहयोगी शहीद, गौपासू व 17 अन्य के साथ लाठी-डंडों से लैस होकर तिलकराम के घर पर जा धमके। लाठी-डंडों से लैस होकर तिलकराम के घर पर धावा बोलकर पथराव करने लला। परिवारजनों ने जब इसका विरोध किया तो लाठी-डंडों से उनकी पिटाई शुरू कर दी। इसमें मायाराम, सीमा, पार्वती, किरन समेत छह लोग घायल हो गए। चीख पुकार सुनकर गांव के लोग मौके पर पहुंचे, लेकिन हमलावरों के आक्रोश को देखकर लोग सहम गए। घटना की जानकारी यूपी 100 पुलिस को दी गई।कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक संतोष सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम ने हमलावरों को खदेड़ा। इस पर सभी गन्ने के खेत से होकर भाग निकले। संतोष सिंह ने बताया कि किस्मत अली समेत 20 लोगों के खिलाफ केस हुआ है।मौके पर पहुंची पुलिस टीम पर भी हमलावरों ने पथराव शुरू कर दिया। जब नानपारा पुलिस गांव में पहुंची तो हमलावर भाग खड़े हुए। तनाव की स्थिति को देखते हुए गांव में तीन थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है। कोतवाल संतोष सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों की लिखित शिकायत पर नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि दो समुदायों में संघर्ष के बाद गांव में स्थिति सामान्य करने के लिए उपनिरीक्षक एसके राणा व अरविंद यादव की अगुवाई में पुलिस टीम की ड्यूटी लगाई गई है। हमले के मामले में किस्मत अली समेत पांच लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। आरोपी घटना के बाद से फरार हैं। उनकी तलाश में दबिश दी जा रही है।अपर पुलिस अधीक्षक रवींद्र सिंह ने पुलिस टीम पर पथराव की घटना से इनकार किया है। गांव में हालात सामान्य हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *