फोन हैंग होने से लेकर हैक होने तक, सब से बचाएं ये टिप्स

  • स्मार्टफोन हमारी जिंदगी की अहम ज़रूरत बन गया है. ऐसे में हर कोई अपने स्मार्टफोन को सेफ और सुरक्षित रखना चाहता है, लेकिन कई बार जरा-सी लापरवाही के चलते हम अपने स्मार्टफोन का ख्याल नहीं रख पाते हैं. आज हम आपको वो टिप्स बता रहे हैं जिससे आपका स्मार्टफोन सुरक्षित रहेगा और उसपर कभी भी हैकिंग और वायरस का खतरा नहीं मंडराएगा…
    आप भूलकर भी कभी अपने फोन को अनप्रोटेक्टेड व पब्लिक Wi-Fi से कनेक्ट न करें. न ही दूसरे के USB से फोन चार्ज करें. इसके अलावा फोन में आने वाले अननोन लिंक्स को कभी क्लिक न करें. ऐसा करते ही आपका फोन हैक हो सकता है.
    आजकल हैकर्स दुनियाभर में इस्तेमाल की जाने वाली सिगनलिग सिस्टम SS7 को भी क्रैक कर देते हैं. ऐसा करके वो यूजर्स के फोन से पर्सनल चैट, फोन कॉल और डॉक्यूमेंट्स चुरा रहे हैं. अगली स्लाइड में जानें क्या है सिंग्नलिंग सिस्टम….
    Signalling System No 7 एक ऐसा सिस्टम है जिसके जरिए एक मोबाइल के नेटवर्क को दूसरे से जोड़ा जाता है. यह सबसे पहले 1975 में डेवलप हुआ था.
    <br />कैसे करें पता आपका फोन हो गया है हैक?- अगर आपका फोन बिना इस्तेमाल के गर्म होने लगे. फोन में अननोन ऐप्स आ जाएं. फोन खुद से ही रिबूट होने लगे. यूज करते हुए स्विच ऑफ हो जाए और एकसाथ कई ऐप्स रन करने लगे, तो समझ लीजिए आपका फोन हैक हो चुका है.
    पब्लिक Wi-Fi इस्तेमाल करते वक्त ऑटोमैटिक कनेक्शन को स्विच ऑफ कर दें, मैनुअल चुने. पब्लिक वाई-फाई में ऑनलाइन खरीददारी न करें, ट्रांजेक्शन और पैसे ट्रांसफर पानी में गिर जाए फोन तो फौरन करें ये 7 काम नहीं तो होगा भारी नुकसान
  • हम आपको बताएंगे कि अगर आपका मोबाइल भीग जाये तो आपको तत्काल क्या करना चाहिए…
    मोबाइल आज के समय में हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है. हम जहां कहीं भी रहते हैं, हमारे साथ मोबाइल फोन जरूर रहता है. यूं कहें तो आज के दौर में मोबाइल फोन किसी ऑक्सीजन से कम नहीं, लेकिन हमेशा अपने साथ मोबाइल फोन रखने के कारण कई बार लापरवाही के चलते हमारा फोन पानी से भीग जाता है या फिर कभी कभी पानी में गिर भी जाता है. ऐसे में अगर आपका फोन पानी में गिर जाए तो परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि आज हम आपको बताएंगे कि अगर आपका मोबाइल भीग जाये तो आपको तत्काल क्या करना चाहिए…
    मोबाइल फोन पानी में गिर जाये या फिर किसी वजह से भीग जाये तो सबसे पहले उसे किसी सूखे स्थान पर रखना चाहिए. कोशिश करिए कि मोबाइल फोन को ज्यादा हिलाए डुलाएं नहीं और तत्काल किसी सूखे कपड़े से पोछें.
    पानी में फोन गिरने के बाद मोबाइल फोन को चेक करने के लिए कोई भी बटन या फिर टच को दबाने का प्रयास भुलाकर भी न करें, ऐसा करने से मोबाइल फोन का फंक्शन ऑन हो जाएगा और डिवाइस का बोर्ड क्रैश हो जाएगा.
    अगर संभव हो सके तो मोबाइल फोन की बैटरी को तत्काल निकाल दें क्योंकि फोन के चालू होने की हालत में डिवाइस में शॉट सर्किट होने का खतरा बढ़ जाता है, इसलिए बैटरी को तुरंत निकाल दें.
    बैटरी के साथ ही मोबाइल फोन से सिम कार्ड और एसडी कार्ड को बाहर निकालें और उसके ट्रे को बाहर ही रहने दें, याद रखें फोन को ज्यादा हिलने न दें.
    मोबाइल फोन को तत्काल किसी सूखे कपड़े या तौलिए से पोछें. यदि फोन में पानी ज्यादा है तो उसे तुरंत वैक्युम से या फिर ड्रायर से उसे सुखाने का प्रयास करें.
    इसके बाद अब आपको अपने मोबाइल फोन से नमी को दूर करना होगा. इसके लिए आपको किसी पैकेट में चावल रख कर फोन को उसके साथ रखें. बता दें कि चावल में हीग्रोस्कोपिक गुण होता है जो नमी को आसानी से दूर कर देता है. इसके अलावा आप सिलिका पैकेट का भी प्रयोग कर सकते हैं.
    जब आपको लगे कि मोबाइल फोन के भीतर की नमी सूख चुकी है तो फिर इसे किसी मोबाइल फोन के टेक्निशियन के पास ले जाएं और उसे मोबाइल को ठीक करने दें. खुद मोबाइल फोन को स्विच ऑन न करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *