फैक्ट चेक/35 हजार करोड़ LED बांटने का दावा वायरल,  वित्तमंत्री सीतारमण ने बजट में दिया नहीं ऐसा बयान

.क्या फेक : वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- उजाला योजना में बांटे 35 हजार करोड़ LED बल्ब

  • क्या सच : वित्तमंत्री ने बजट भाषण के दौरान 35 हजार करोड़ नहीं, बल्कि लगभग 35 करोड़ LED बल्ब के वितरण की बात कही थी

फैक्ट चेक डेस्क.  मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में 5 जुलाई को वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 2019-20 का बजट पेश किया। इसके बाद से ही न्यूज चैनल की एक तस्वीर के साथ उजाला योजना के संबंध में निर्मला सीतारमण का बयान वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि वित्तमंत्री ने बजट पेश करते हुए कहा कि देश में उजाला योजना के तहत 35 हजार करोड़ एलईडी बल्ब बांटे गए हैं।

यूजर्स इस बयान के साथ लिख रहे हैं कि देश की 125 करोड़ की जनता के हिसाब से प्रत्येक व्यक्ति को 280 बल्ब मिलने चाहिए जबकि उन्हें तो एक भी बल्ब नहीं मिला। यूजर्स तस्वीर के साथ उजाला योजना को मोदी सरकार का बड़ा घोटाला करार दे रहे हैं।

क्या वायरल

  • यूजर्स पोस्ट के साथ सीएनबीसी आवाज चैनल का स्क्रीनशॉट शेयर कर रहे हैं, जिसमें लिखा है- 35 हजार करोड़ LED बल्ब बांटे गए
  • पोस्ट के साथ अपने हिस्से के 280 बल्बों की मांग करते हुए यूजर्स लिख रहे हैं, “देश की 125 करोड़ जनता को 35 हजार करोड़ एलईडी बल्ब बांटे गए, यानि देश के प्रत्येक व्यक्ति को लगभग 280 बल्ब। मेरे हिस्से के बल्ब तो मुझे नहीं मिले क्या आपको मिले अपने हिस्से के LED बल्ब?”View image on Twitter

Jasbir Karhana@jasbirkarhana_
35000 करोड़ एलईडी बल्ब बाट दिये।

कब , कहाँ और किसको दिए?
😲😲😲😲😲😲#LEDbulbScam

See Jasbir Karhana’s other Tweets
क्यों फेक
वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा फर्जी है।
  • वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट पेश करते समय 35 हजार करोड़ नहीं बल्कि लगभग 35 करोड़ LED बल्ब वितरित करने की बात कही थी।
  • राज्यसभा टीवी के ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर 5 जुलाई 2019 को सीतारमण का बजट सत्र लाइव ब्रॉडकास्ट किया गया था।
  • इस वीडियो में 1 घंटा 7 मिनट 15 सेकंड पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण को कहते सुना जा सकता है, “उजाला योजना के तहत करीब 35 करोड़ LED बल्ब वितरित किए गए हैं, जिससे करीब 18,341 करोड़ रुपए की सालाना बचत हुई है।”

  • वित्तमंत्री द्वारा पेश किए गए बजट का टेक्सट वर्जन भी केंद्रीय बजट की वेबसाइट पर उपलब्ध है। इसमें 74 नंबर के पाइंट में 35 करोड़ LED बल्ब बांटे जाने की बात लिखी है।''
  • वायरल हो रहा स्क्रीनशॉट सीएनबीसी-आवाज न्यूज चैनल का है।
  • एक फैक्ट चेक वेबसाइट से वायरल दावे के संदर्भ में बातचीत करने पर चैनल ने बताया कि वायरल ग्राफिक गलती से ब्रॉडकास्ट हो गया था, जिसे उसी समय हटा भी लिया गया था।
  • पड़ताल से स्पष्ट है कि वायरल दावे के विपरीत वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 35 करोड़ LED के वितरण की बात कही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *