फैक्ट चेक /प्रोमिला सिब्बल का मीट का कारोबार लेकिन फोटो असली नहीं

Photoshopped image of Kapil Sibal and his wife inside slaughterhouse goes viral
क्या वायरल : कपिल सिब्बल और उनकी बीवी प्रमिला का गाय, बैल काटने वाले एशिया के सबसे बड़े कसाईखाना का फोटो। अब ये न कहना ये भी फर्जी है? क्या सच : दरअसल, असली तस्वीर द वाशिंगटन पोस्ट की साइट पर 2007 में छपी थी जिसमें एडिटिंग करके सिब्बल और उनकी पत्नी का फोटो लगाकर वायरल किया जा रहा है

Dainik BhaskarJul 01, 2019, 02:10 PM IST
फैक्ट चेक डेस्क. कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी प्रोमिला सिब्बल का एक फोटो वायरल हो रहा है। इसमें वे कसाईखाने में खड़े नजर आ रहे हैं। इस फोटो को साढ़े सात हजार से ज्यादा बार शेयर किया जा चुका है और इस पर 156 लोग कमेंट कर चुके हैं। जब हमने इसकी पड़ताल की तो सच्चाई कुछ और ही निकली।
क्या वायरल
कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और प्रोमिला सिब्बल की फोटो।
विनीता अग्रवाल नाम की यूजर ने इस फोटो के साथ लिखा कि ‘कांग्रेसी कपिल सिब्बल और उनकी बीवी प्रमिला का गाये, बैल काटने वाले एशिया के सबसे बड़े कसाईखाना का फोटो। अब ये न कहना ये भी फर्जी है’
यह फोटो पिछले कई सालों से फेसबुक पर वायरल हो रही है।
यह फोटो पिछले कई सालों से वायरल हो रहा है। कई यूजर्स ने इसे ट्विटर पर भी शेयर किया है।
digvijaya singh

@digvijaya_28
· Jul 31, 2018
Beef Exporters Funded PM Narendra Modi’s 2014 Election Campaign: Digvijaya Singh https://www.news18.com/news/politics/beef-exporters-funded-pm-narendra-modis-2014-election-campaign-digvijaya-singh-1827867.html …
Beef Exporters Funded PM Narendra Modi’s 2014 Election Campaign: Digvijaya Singh
In an exclusive interview to News18, Digvijaya Singh said before 2014 election campaign Prime Minister had spoken about a pink revolution in the country, hinting at export of beef from India.
news18.com
pkp
@1234pkp
1
7:14 AM – Jul 31, 2018
Twitter Ads info and privacy
View image on Twitter
See pkp’s other Tweets
क्यों फेक
पड़ताल में पता चला कि ओरिजिनल फोटो के साथ छेड़छाड़ कर इस फोटो बनाया गया है।
असली तस्वीर पहली बार 2007 में अमेरिका के द वॉशिंगटन पोस्ट अखबार की वेबसाइट में एक स्टेफनी ग्रैबर नाम की महिला की कहानी के साथ प्रकाशित की गई थी। इस महिला ने अपने परिवार की मर्जी के खिलाफ एक बुचर स्कूल ( कसाई बनने की ट्रेनिंग देने वाला स्कूल) में प्रवेश लिया था और उसके बाद एक नेशनल कॉम्पिटिशन भी जीती थी।
ओरिजिनल आर्टिकल 2007 में पब्लिश हुआ था।
कुछ शरारती तत्वों ने इसी फोटो में से स्टेफनी की फोटो में उनके चेहरे की जगह कपिल सिब्बल की पत्नी की फोटो जोड़ दी और बाजू में सिब्बल का फोटो भी लगा दिया।
यह असली तस्वीर है।
आगे की खोजबीन में पता चला कि सोशल मीडिया में यह फेक तस्वीर 2014 से ही वायरल हो रही है।
रिवर्स इमेज सर्च और कीवर्ड्स सर्च से पता चला कि ओरिजिनल आर्टिकल 6 जून 2007 को पब्लिश किया गया था।
दोनों फोटो को गौर से देखने पर ही पता चल जाता कि कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी की फोटो यहां अलग से लगाई गई है।
फैक्ट चेक करने वाली वेबसाइट SMhoaxlaye ने भी इसकी पुष्टि की है कि यह फर्जी फोटो है।
फैक्ट चेक करने वाली वेबसाइट ने भी इसे फर्जी पाया।
मिंट और अन्य न्यूज रिपोर्टस से पता चलता है कि प्रोमिला सिब्बल का मीट का कारोबार है लेकिन उनकी यह फोटो असली नहीं है। संभवत: शरारती तत्वों ने प्रोमिला के मीट बिजनेस को ध्यान में रखकर यह फेक फोटो वायरल की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *