फैक्ट चेक:वायरल दावे का सच / 500 के नोट में हरी पट्टी गांधीजी के पास है तो नकली है नोट? 

फैक्ट चेक / 500 रुपए के नोट में हरी पट्टी गांधीजी के पास है के लिए इमेज परिणाम
क्या फेक : हरी पट्टी की स्थिति से 500 रुपए के नोट की असलियत जानने का तरीका वायरल
क्या सच : आरबीआई की वेबसाइट के मुताबिक 500 रुपए के नोट की असली होने की पहचान नोट पर उसकी स्थिति नहीं बल्कि टेढ़ा करने पर रंग बदलकर नीला हो जाने से होती है
फैक्ट चेक डेस्क. एक पाठक ने हमें 500 रुपए के असली और नकली नोट का फर्क बताती एक तस्वीर भेजी और उसका सच जानना चाहा। तस्वीर में 500 रुपए के दो नोट दिखाई दे रहे हैं। इनमें से एक नोट में हरी पट्टी या सुरक्षा धागा गांधीजी की तस्वीर के पास दिखाई दे रहा है, वहीं दूसरे नोट में यह धागा गांधीजी से दूर, आरबीआई गवर्नर के हस्ताक्षर के पास है।

दावा किया जा रहा है कि इनमें से वो नोट जिसमें हरी पट्टी गांधीजी के करीब है, वो नकली है। जबकि आरबीआई गवर्नर के हस्ताक्षर के पास हरी पट्टी होने पर नोट असली है।

क्या वायरल

नोट की तस्वीर के साथ यह पोस्ट सोशल मीडिया पर भी वायरल है। यूजर्स नोटों की असलियत पहचानने की यह जानकारी अपने परिवार और दोस्तों तक पहुंचाने की अपील के साथ शेयर कर रहे हैं।
पोस्ट 2016 और 2017 में भी वायरल हुई थी।
Pls don’t take Rs.500 Currency note which is close to Gandhi ji the green line because it’s fake so take a 500.Rs currency which is printed pic.twitter.com/pCWYvrw6zO

— anand taran (@anandtaran5656) July 6, 2017
क्यों फेक

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर 10 रुपए से लेकर 2000 रुपए के नोट तक सभी नोटों की जानकारी और उनकी असलियत की पहचान करने के तरीके दिए गए हैं।
यहां 500 के नोट की पहचान करने के लिए 12 तरीके दिए गए हैं, जिसमें पांचवें नंबर पर हरी पट्टी के बारे में बताया गया है।

पांचवे नंबर पर हरी पट्टी के बारे में लिखा है – नोट को टेढ़ा करके देखने पर हरी पट्टी का रंग हरे से नीले में बदल जाता है। यही नोट के असली होने की पहचान है।
वेबसाइट पर 500 के नोट की तस्वीर में हरी पट्टी वायरल तस्वीर के दोनों ही नोटों से मेल नहीं खाती। इसमें यह पट्टी ना ही गांधीजी के पास है और ना ही गवर्नर के हस्ताक्षर के पास। बल्कि हरी पट्टी दोनों के बीच में ग्रे कर्व के साथ दिखाई दे रही है।

वेबसाइट पर दिए तरीकों में कहीं भी नोट पर हरी पट्टी की स्थिति से उसके असली या नकली होने का पता लगाने की जानकारी नहीं दी गई है।

भारत में नोटबंदी की घोषणा 8 नवंबर 2016 को हुई थी। 500 का नया नोट दो दिन बाद 10 नवंबर को जारी किया गया था।
नोटबंदी के बाद नए नोट जारी करने की हड़बड़ी में नोटों की प्रिटिंग में कई तरह की गड़बड़ियां देखी गई थी।
नोट के रंग, सीरियल नंबर, बॉर्डर के साइज और डिजाइन में अंतर वाले कई नोट भारतीय बाजारों में देखे गए।
नोटों में अंतर देखे जाने को कई मीडिया संस्थानों ने कवर किया था। इकोनॉमिक टाइम्स ने 25 नवंबर को इसी संबंध में खबर पब्लिश की थी।फैक्ट चेक / 500 रुपए के नोट में हरी पट्टी गांधीजी के पास है के लिए इमेज परिणाम

पड़ताल

8 नवंबर 2016 को नोटबंदी के फैसले के दो दिन बाद 10 नवंबर से पांच सौ और दो हजार के नए नोट मार्केट में आ गए थे. इसके बाद जून 2017 में RBI ने पांच सौ की करंसी में कुछ बदलाव करते हुए नोटों की नई खेप जारी की थी. ऐसा नहीं था कि नए नोट आने से पुराने नोट बेकार हो जाएंगे. यानी 10 नवंबर से जितने भी नोट मार्केट में आए हैं, वो सभी चलन में हैं.

दी लल्लनटॉप ने जब बैंकवालों से बात की, तो उन्होंने बताया कि स्ट्रिप की जगह बदलने से ये नोट नकली नहीं होंगे.

जब दोनों में से कोई नोट नकली नहीं है, तो ये अंतर कैसा?

RBI ने 13 जून 2017 को ट्वीट करके बताया था कि 500 के नए नोट कुछ बदलाव के साथ जारी किए जा रहे हैं. इसके साथ RBI ने प्रेस रिलीज भी जारी की थी.

ये रहा RBI का ट्वीट:

ReserveBankOfIndia
@RBI
Issue of ₹ 500 banknotes with inset letter ‘A’http://rbi.org.in/Scripts/BS_PressReleaseDisplay.aspx?prid=40733 

RBI के मुताबिक 500 के नए नोटों में ये बदलाव किए गए थे. आप यहां क्लिक करके प्रेस रिलीज़ देख सकते हैं.

 नंबर पैनल के इनसेट लेटर में E के बजाय A लिखा होगा (इनसेट लेटर नोट पर लिखे नंबर के बीच लिखा होता है, जो नोट तिरछा करने पर दिखता है)
 इसमें RBI गवर्नर उर्जित पटेल का सिग्नेचर और छपाई का साल 2017 पीछे की तरफ होगा
 नोट की बाकी डिजाइन वैसी ही होगी, जैसी 2016 में थी.

10 नवंबर 2016 को जब RBI ने 500 रुपए के नए नोट जारी किए थे, तो नोट की तस्वीर के साथ एक ट्वीट भी किया था. ट्वीट में सिल्वर वायर की जगह हमारे पास मौजूद दोनों नोटों से अलग दिख रही है. न सिग्नेचर के पास और न गांधीजी के पास. दोनों के बिल्कुल बीचो-बीच.

RBI का ट्वीट देखिए.

View image on Twitter

ReserveBankOfIndia

@RBI

RBI issues ₹ 500 notes in new series

इंटरेस्टिंग बात: 10 नवंबर 2016 को जब RBI ने 500 रुपए के नए नोट जारी किए थे, तो नोट की तस्वीर के साथ एक ट्वीट भी किया था. ट्वीट में सिल्वर वायर की जगह हमारे पास मौजूद दोनों नोटों से अलग दिख रही है. न सिग्नेचर के पास और न गांधीजी के पास. दोनों के बिल्कुल बीचो-बीच.

इसके अलावा एक फोटो लगा रहे हैं. ये फोटो RBI की वेबसाइट से ली गई है. इसमें बताया गया है कि 500 के नोट में सिक्यॉरिटी फ़ीचर्स की पहचान कैसे करें.

500 के नोट की पहचान के तरीके.

नतीजा

पड़ताल में ये वायरल मैसेज गलत निकला. बात एकदम क्लियर है. 500 रुपए के नोट में जो सिल्वर स्ट्रिप थी, वो इन दोनों नोटों में अलग-अलग जगह पर थी. यह सिल्वर पट्टी जरुरी नहीं है कि गांधी के नजदीक हो. 500 रुपए का नोट सही है या नहीं इसको लेकर रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपने आधिकारिक वेबसाइट पर जानकारी दी हुई है जिसे आप इस लिंक पर जाकर पढ़ और समझ सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *