जेट एयरवेज / 18000 करोड का टिकट लें और जाये गोयल विदेश !!!

नरेश गोयल (फाइल)।

  • गोयल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर है, 25 मई को उन्हें मुंबई एयरपोर्ट पर रोक लिया गया था
  • गोयल ने लुकआउट सर्कुलर को दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती दी थी, कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब मांगा

नई दिल्ली. दिल्ली उच्च न्यायालय ने जेट एयरवेज के संस्थापक और पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल को विदेश जाने की अनुमति देने से मंगलवार को इनकार कर दिया। साथ ही उनके खिलाफ जारी ‘लुक आउट सर्कुलर’ (एलओसी) को चुनौती देने वाली उनकी याचिका पर केंद्र सरकार से जवाब मांगा है। न्यायाधीश सुरेश कैत ने कहा कि इस समय गोयल को कोई अंतरिम राहत नहीं दी जा सकती है और यदि वह तत्काल विदेश यात्रा करना चाहते हैं तो उन्हें गारंटी के तौर 18,000 करोड़ रुपये जमा कराने होंगे।

गोयल ने लुक आउट सर्कुलर को चुनौती देने वाली याचिका में कहा है कि उनके खिलाफ कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गयी है फिर भी उन्हें 25 मई को दुबई की एक उड़ान से उतार लिया गया। गोयल ने कहा कि उन्हें लुक आउट सर्कुलर की जानकारी ही 25 मई को तब मिली जब वह और उनकी पत्नी अनीता दुबई जा रहे थे, जहां से वह लंदन जाने वाले थे। विदेश जाने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट से भी इजाजत नहीं मिल पाई। लुकआउट सर्कुलर के खिलाफ गोयल की याचिका पर मंगलवार को सुनवाई करते हुए जस्टिस सुरेश कैत ने कहा कि मौजूदा स्थिति में अंतरिम राहत नहीं दी जा सकती है। गोयल अगर विदेश जाना चाहें तो पहले 18 हजार करोड़ रुपए की गारंटी दें। एक दौर में देश की सबसे बड़ी निजी एयरलाइन रही जेट एयरवेज दिवालिया प्रक्रिया से गुजर रही है।

उच्च न्यायालय ने गोयल से विदेश जाने का कारण पूछा। न्यायालय ने पूछा कि क्या आप अपने निवेशकों से फोन पर बात नहीं कर सकते। विदेश जाने का अधिकार सीमित है और ऐसा नहीं है कि आप कुछ भी करें और विदेश चले जाएं।
उच्च न्यायालय ने आगे कहा कि ऐसे कई उदाहरण हैं कि पेंडिंग केस वाले लोग विदेश चले जाते हैं और फिर सरकार को उन्हें स्वदेश बुलाने के लिए करोड़ों रुपये खर्च करने पड़ते हैं।
न्यायालय ने गोयल से कहा कि आपने विदेश जाने का अपना मकसद स्पष्ट नहीं किया है। न्यायालय ने पूछा कि पिछली बार वे कब विदेश गए थे, क्या उनकी एयरलाइन में परेशानी आने के बाद विदेशी दौरा हुआ था?

23 अगस्त को अगली सुनवाई होगी

  1. गोयल की याचिका पर कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब भी मांगा है। अगली सुनवाई 23 अगस्त को होगी। गोयल ने लुकआउट सर्कुलर रद्द करने की अपील की थी।
  2. नरेश गोयल और पत्नी अनीता को 25 मई को मुंबई एयरपोर्ट पर दुबई की फ्लाइट से उतार लिया गया था। एक रिपोर्ट के मुताबिक जेट एयरवेज की वित्तीय अनियमितताओं में नरेश गोयल की संदिग्ध भूमिका को लेकर कई एजेंसियां जांच कर रही हैं।
  3. पिछले महीने न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया था कि जेट एयरवेज के लोन की राशि दूसरी फर्मों में डायवर्ट करने के मामले की जांच एसएफआईओ कर रहा है।
  4. बताया जा रहा है कि आरोपों की जांच होने तक सरकार चाहती है कि गोयल देश में ही रहें। नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और विजय माल्या जैसे भगोड़ों के मामले में आलोचना झेलने के बाद सरकार और एजेंसियां आर्थिक मामलों के संदिग्धों और आरोपियों को लेकर सतर्कता बरत रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *